परीक्षा से ठीक पहले पेपर आउट, बोर्ड ने बताया साजिश

0

पटना : केंद्रीय चयन पर्षद पटना द्वारा पर्यावरण,वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग में वनरक्षी पद पर नियुक्ति के लिए बुधवार को परीक्षा आयोजित की गई। यह परीक्षा दो पालियों में ली जा रही है। इस परीक्षा का आयोजन ऑफलाइन तरीके से किया जा रहा है।

वहीं सीएसबीसी द्वारा आयोजित बिहार पुलिस फॉरेस्ट गार्ड की परीक्षा के प्रश्न पत्र सोशल मीडिया पर सुबह से ही वायरल हो गया। इस परीक्षा में पूछे गए सवालों में से 15 से 20 सवाल वायरल सवाल से हुबहू मिलते हैं।

दरसअल पहली पाली परीक्षा के बाद निकले अभ्यर्थियों ने बताया कि सुबह वायरल हुए पेपर से लगभग 15-20 प्रश्न हूबहू परीक्षा में पूछे गए हैं।सुबह से ही क्वेश्चन पेपर सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा था।

परीक्षार्थी ने बताया कि परीक्षा से ठीक पहले पेपर आउट हो गया था। दूसरी पाली में भी यही हाल है। आंसर शीट वायरल होते ही इसे लगातार अलग-अलग सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है। क्वेश्चन पेपर आंसर के साथ शेयर हो रहा है।

100 अंकों की इस परीक्षा में वायरल आंसर पेपर से लगभग 20 क्वेश्चन हू-ब-हू आए हैं। परीक्षा देकर निकले अभ्यर्थियों ने बताया कि सुबह एग्जाम से पहले सोशल मीडिया ग्रुप पर आंसर पेपर आया था, जिसमें 15-20 क्वेश्चन के आंसर सटीक निकले हैं।

बोर्ड मान रहीं दलालों की साजिश

हालांकि, बोर्ड इसे दलालों की साजिश मान रहा है, लेकिन इसे सोशल मीडिया पर जबरदस्त तरीके से फॉरवर्ड किया जा रहा है। OSD कमलाकांत ने बताया कि क्वेश्चन पेपर लीक नहीं हुआ है। गलत तरीके से इसे वायरल किया जा रहा है। लिखित परीक्षा दो पालियों में ली जा रही है। पहली पाली 10-12 बजे तक थी, जबकि 2-4 बजे तक दूसरी पाली की परीक्षा जारी है।

केन्द्रीय चयन पर्षद (सिपाही भर्ती) द्वारा पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन विभाग में वनरक्षी के 484 पदों पर नियुक्ति के लिए बुधवार को परीक्षा थी। 37 जिलों में कुल 383 सेंटर बनाए गए थे। पटना में इसका एक भी सेंटर नहीं बनाया गया था।

swatva

Leave a Reply