दरिंदगी : प्रेम विवाह से नाराज बाप ने बेटी का किया रेप, फिर कर दी हत्या

0

भोपाल : मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में एक महिला को परिवार के विरोध के बावजूद अपनी मर्जी से शादी करने की बड़ी सजा मिली है। महिला की हत्या उसके ही 55 साल के पिता ने की। बेटी की लव मैरिज से नाराज पिता ने ऑनर किलिंग की वीभत्स घटना को अंजाम दिया। गला घोंटने से पहले उसने बेटी से कहा- तूने इसीलिए भागकर शादी की थी। तेरे कारण हम समाज में कहीं मुंह दिखाने लायक नहीं रहे।

महिला और 8 महीने के बच्चे का शव मिलने के बाद बड़ा खुलासा

दरअसल, भोपाल के पास समसगढ़ के जंगल में रविवार दोपहर एक महिला और 8 महीने के बच्चे का शव मिलने के बाद बड़ा खुलासा हुआ है। यहां एक युवती ने अपने परिवार की मर्जी से इतर प्रेम विवाह कर लिया, तो युवती के पिता को इतना नागवार गुजरा कि उसने पहले अपनी ही बेटी का रेप किया और फिर उसकी हत्या कर दी। इस मामले में पुलिस ने आरोपी पिता और मृतका के भाई को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं पुलिस पूरे मामले की जांच में जुट गयी है।

एक साल पहले समाज से बाहर किया था  प्रेम विवाह

बताया जा रहा है कि युवती ने एक साल पहले समाज से बाहर प्रेम विवाह किया था। वह अपने पति के साथ रायपुर चली गई थी। कुछ समय पहले वह मध्यप्रदेश आई थी। जिसके बाद दीपावली के दिन वह रातीबड़ में अपनी बड़ी बहन के घर पर थी। वहां उसके बेटे की मौत हो गई।

बाप-बेटे की हुई गिरफ्तारी

जिसके बाद दीपावली के अगले दिन पिता अपने बेटे के साथ युवती और उसके बच्चे को लेकर जंगल ले गया, ताकि मृत बच्चे को दफनाया जा सके। वहां जाकर पिता ने पहले तो अपनी ही बेटी के साथ दुष्कर्म किया। फिर उसकी गला दबाकर हत्या कर दी। इस दौरान बेटे ने भी उसकी मदद क। वहीं, इस मामले रातीबड़ पुलिस ने बाप-बेटे को गिरफ्तार कर लिया है।

बेटी से बदला लेने की फिराक में था बाप

वहीं, इस घटना को लेकर टीआई सुधेश तिवारी ने बताया कि पिता कमल ने हत्या करने की बात कबूल कर ली। पिता ने बताया कि वह खेती करता है। बेटी ने करीब एक साल पहले समाज से बाहर एक लड़के से लव मैरिज की थी। वह रायपुर अपने पति के साथ भाग गई थी। उसके बाद से ही उनकी समाज में बहुत बुराई हो रही थी। वह बेटी से बदला लेने की फिराक में था।

जिसके बाद दीपावली के दिन रातीबढ़ में रहने वाली बड़ी बेटी ने फोन पर बताया कि छोटी बहन अपने 8 महीने के बच्चे के साथ घर पर आई थी। उसके बेटे की मौत हो गई है। इसके बाद हम घर पहुंचे। मेरे साथ मेरा बेटा भी था। मैंने छोटी बेटी से कहा कि अब शव को रखने का कोई मतलब नहीं है। उसे हम दफना देते हैं। इसके बाद मैं बेटे के साथ बेटी और उसके बेटे को बाइक पर समसगढ़ के जंगल ले आए।

तूने इसी के लिए शादी की है.

वह बेटी और नाती के शव को जंगल के अंदर एक नाले के पास ले गया। वह बहुत गुस्से में था। उसने बेटी से पूछा कि एक बार बता दे कि उसने भागकर शादी क्यों की। बेटी कुछ नहीं बोली। मैंने कहा- तूने इसी के लिए शादी की है… चल मैं भी तुझे यही देता हूं। रेप करने के बाद मैंने उसकी गला दबाकर हत्या कर दी। दोनों के शव नाले में फेंककर बेटे के साथ घर आ गया। घटना के बाद बड़ी बेटी को भी बता दिया था कि छोटी को मार दिया है।

 

 

 

 

swatva

Leave a Reply