विद्या भारती द्वारा मुंगेर में हुआ विभाग स्तरीय वैदिक गणित बैठक

0

मुंगेर : वैदिक गणित के निमित्त मुंगेर विभाग के समस्त विद्यालयों के वैदिक गणित के प्रमुख आचार्यों का ज़ूम के माध्यम से एक ऑनलाइन बैठक आयोजित की गई , जिसकी अध्यक्षता भारती शिक्षा समिति के माननीय सह सचिव प्रकाशचन्द्र जायसवाल और सरस्वती विद्या मंदिर, मुंगेर के प्रधानाचार्य नीरज कुमार कौशिक ने किया।

विषम परिस्थिति में भी विद्या भारती के कार्यकर्ता आचार्य बंधु-भगिनी काफी उत्साहित

इस बैठक में सभी आचार्य बंधु-भगिनी को मार्गदर्शन देते हुए प्रकाशचन्द्र जायसवाल ने कहा कि आज की विषम परिस्थिति में भी विद्या भारती के कार्यकर्ता आचार्य बंधु-भगिनी काफी उत्साहित होकर ऑनलाइन शिक्षण दे कर अपने भैया-बहनों को शिक्षित व प्रशिक्षित कर रहे हैं और भैया-बहन भी पूरे उत्साह के साथ पढ़ रहे हैं ।

सभी गणिताचार्य उत्साह के साथ शिक्षण करें

आधारभूत विषयों में वैदिक गणित को एक प्रभावी आयाम की संज्ञा देते हुए कहा कि निर्धारित विषयों के साथ साथ वैदिक गणित भी भैया-बहनों की सफलता का एक आवश्यक आधार सोपान है । अतः विद्यालय के प्रायः सभी भैया -बहन को वैदिक गणित सीखने का अवसर मिले , इसके लिए सभी गणिताचार्य उत्साह के साथ शिक्षण करें।

विद्यालय के सभी बच्चों में वैदिक गणित का प्रवेश आवश्यक

इस अवसर पर इस समूह के संरक्षक नीरज कुमार कौशिक ने विभाग के वैदिक गणित के सह प्रमुख के नाम की घोषणा करते हुए विभाग में वैदिक गणित के सफल क्रियान्वयन की शुभकामना दी और कहा कि विद्यालय के सभी बच्चों में वैदिक गणित का प्रवेश आवश्यक है, जो उन्हें आगे बढ़ने में सहायक होगा।

वैदिक गणित के प्रति तैयार कर इसका भरपूर ज्ञान दें

बैठक का संचालन करते हुए मुंगेर विभाग के वैदिक गणित प्रमुख नवनीत चन्द्र मोहन ने विभाग के सभी गणिताचार्यों को बधाई देते हुए कहा कि स्वंय को वैदिक गणित के प्रति तैयार कर भैया-बहन की इसका भरपूर ज्ञान दें तथा इस विषय में मुंगेर विभाग को उत्कृष्ट बनाएं और इस विषय के विभाग सह प्रमुख श्री मनोज कुमार मिश्रा का स्वागत करते हुए उनसे सहयोग की अपेक्षा की ।

इस बैठक में मदन कुमार सिन्हा, रंजन कुमार, सुभाष कुमार अम्बष्ट, जीवन प्रकाश झा, अरूण कुमार, विजय कुमार, शशि कुमार, रमेश कुमार, मनोज कुमार सिंह, अभिषेक कुमार , संजीव कुमार चौधरी और बेबी सोम उपस्थित थे और सबों ने अपने अपने विचार व्यक्त किए । इसके साथ ही शांति मंत्र के साथ बैठक का समापन हुआ ।

संतोष कुमार

swatva

Leave a Reply