शिक्षकों को आर्थिक गुलाम बना रही है सरकार

0

DESK : शिक्षक संघ बिहार एवं जिला स्तरीय संघ के पदाधिकारियों की बैठक वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जूम एप के द्वारा प्रदेश अध्यक्ष केशव कुमार के नेतृत्व में किया गया।

बिहार के अधिकांश शिक्षक बैंकों से लोन लेकर कर रहे अपना जीवन निर्वाह

प्रदेश अध्यक्ष केशव कुमार ने कहा कि बिहार सरकार शिक्षकों को आर्थिक गुलाम बना रही है। तीन माह के बदले एक माह का आवंटन देती है और प्रचार-प्रसार करती है कि शिक्षकों को वेतन मद में राशि विमुक्त हो गया जबकि सच्चाई यह है कि बिहार के अधिकांश शिक्षक बैंकों से लोन लेकर अपने कार्यों का अंजाम दे रहे इस स्थिति में बैंक द्वारा ही एक माह का वेतन लोन के संदर्भ में काट लिया जाएगा ।फिर शिक्षकों को परेशानी ज्यों का त्यों बना रहेगा।

प्रमुख त्योहारों पर भी वेतन ना देकर सरकार कर रही सौतेला व्यवहार

बैठक में सभी संघीय पदाधिकारियों ने सरकार की दोहरी नीति का विरोध एवं कथनी और करनी को आपस में चर्चा करते हुए कहा कि ईद उल अजहा (बकरीद) एवं रक्षाबंधन जैसे हिंदू मुस्लिम के मुख्य त्योहारों में भी वेतन का भुगतान न कर सौतेला व्यवहार कर रही है।

बाढ़ और कोरोना से परेशान हैं बिहार की जनता

उन्होंने कहा कि एक ओर जहां पूरा प्रदेश कोरोना महामारी से जूझ रहा है तो वहीं दूसरी ओर बिहार के कई जिले बाढ़ के चपेट में है। इस विकट स्थिति में भी शिक्षक दोहरी परेशानियों का सामना कर रहा है और सरकार परेशानियों और समस्याओं के निदान के जगह चुनाव पर विशेष ध्यान दें रही है।

संघ के नेताओं ने बैठक के जरिए सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि हड़ताल समाप्त के दौरान सरकार ने वादा किया था की सामान्य स्थिति होने पर संघ से वार्ता कर मांगों के सन्दर्भ में न्यायोचित कदम उठाएंगे जो कथनी तक ही सीमित रह गई।

बिहार सरकार चुनाव पर ज्यादा और समस्या पर कम दे रही ध्यान

बिहार के तमाम शिक्षक एवं आम लोग इस कोरोना महामारी और बाढ़ के चलते परेशान हैं वही बिहार सरकार चुनाव पर ज्यादा और समस्या पर कम ध्यान दे रही है इससे पता चलता है कि सरकार हमारी समस्याओं के प्रति कितना गंभीर है। अगर सरकार हमारी मांगों को यथाशीघ्र निष्पादन नहीं करती है तो बाध्य होकर हमें सरकार का विरोध एवं सहयोग करने वाली पार्टी को समर्थन करना पड़ेगा।

शिक्षकों को मिले कोरोना वॉरियर्स सम्मान एवं बीमा

उन्होंने कहा कि प्रदेश उपाध्यक्ष सह जिलाध्यक्ष खगड़िया के मनीष कुमार सिंह एवं उनके परिवार को कोरोना महाबीमारी ने ग्रसित कर लिया है जो विद्यालयों में चावल वितरण एवं अन्य कार्यों में संलग्न रहते हुए इमानदारी पूर्वक काम किया। इसलिए सरकार से संघ मांग करती है कि कोरोना महा बीमारी में लगे सभी शिक्षकों को कोरोनावारियस सम्मान एवं 5000000 रुपए का बीमा सरकार की ओर से किया जाए।

बैठक में मुख्य रूप से प्रदेश अध्यक्ष केशव कुमार, उपाध्यक्ष मनोज श्रीवास्तव ,कोषाध्यक्ष राकेश कुमार सिंह, प्रदेश सचिव ऋतुराज सौरव, मोहम्मद फखरुद्दीन राज्य प्रतिनिधि धनंजय मिश्रा आशुतोष चौधरी लालबाबू कुमार यादव ,रोहतास जिला अध्यक्ष उत्तम प्रकाश पांडे, शिवहर जिला अध्यक्ष उमेश तिवारी, मोतिहारी जिला अध्यक्ष सतीश कुमार, बक्सर जिला अध्यक्ष संजय उपाध्याय ,जहानाबाद जिला अध्यक्ष शंभू शंकर,खगड़िया सचिव अशोक कुमार, सारण सचिव दिलीप गुप्ता, बेगूसराय राजेश कुमार सक्सेना, रवि कुमार, राजेश पांडे, शिवजी दुबे, रामाकांत गिरी मुख्य रूप से शामिल हुए।

swatva

Leave a Reply