योग शरीर को स्वस्थ, और सुरक्षा का कवच प्रदान करता हैं : ख्याली राम

0

मुंगेर : सरस्वती शिशु मंदिर मुंगेर पथ जमालपुर में आज ज़ूम एवं फेसबुकलाईव के माध्यम से अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया । इस योग दिवस में उपस्थित कार्यकर्ताओं कोऑनलाईन संबोधित करते हुए विद्या भारती उत्तर- पूर्व क्षेत्र के संगठन मंत्री ख्याली राम ने कहा कि 177 देशो ने प्रस्ताव पास कर 21 जून का दिन अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के लिए चुना क्योंकि आज के दिन सूर्य सर्वाधिक दिखाई देता है ।

21 जून ही राशियों के अनुसार सबसे बड़ा दिन

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सूर्य हमारे लिये प्रेरणा एवं उर्जा का केंद्र बिंदु हैं। आज रविवार है और सूर्य देवता के लिए रविवार का बड़ा महत्व माना जाता है। 21 जून ही राशियों के अनुसार बडा दिन है । लोग 25 दिसम्बर को बडा मनाते हैं, परंतु ये सबसे छोटा दिन होता है।आदमी को लम्बे समय तक स्वस्थ रहते हुए जीवन जीने की प्रेरणा देने वाला आज का दिन है । इसलिए आज हम इस दिन को योग दिवस के रूप में मना रहे है ।

पहला सुख निरोगी काया

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि “पहला सुख निरोगी काया” अपना शरीर स्वस्थ रहना ही सबसे पहली बात है।इसलिए शरीर को स्वस्थ बनाये रखने के लिए शारीरिक, योग, प्रणायाम एवं आसन प्रतिदिन करना चाहिए। योग आत्मा को परमात्मा से जोड़ कर परमात्व तत्व प्रदान करने वाला व अनंद प्रदान करने वाला है ।

योगासन से शरीर रहता है निरोग

वहीं कार्यक्रम के मुख्य वक्ता स्वामी चिन्मयानंद ने कहा कि हमें आत्मा और परमात्मा का आत्मदर्शन हो जाए तो परमात्व दर्शन के करीब पहुँच जाते है। शरीर से मन का मेल अनेक पड़ावों से योग के द्वारा किया जा सकता है । अनेक योगासनों का जिक्र उन्होनें किया जिसे पालन किया जाए , तो शरीर हमेशा निरोग रहेगा ।

जीवन जीने की कला और विज्ञान है योग

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे विद्या भारती अखिल भारतीय शिक्षा संस्थान के राष्ट्रीय सह मंत्री डॉ0 कमल किशोर सिन्हा ने कहा कि जीवन जीने की कला और विज्ञान योग है । सारे भैया/बहन योग के माध्यम से अपना सर्वांगीण विकास कर सकते है । हम अगर योग नही करते हैं, तो आज से ही योग से जुडकर अपना सर्वंगीण विकास करें ।

21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में विश्व ने किया स्वीकार

आभार ज्ञापन करते हुए भारती शिक्षा समिति, बिहार के प्रदेश सचिव गोपेश कुमार घोष ने कहा कि भारत विश्वगुरू बनने जा रहा है और सभी देशों ने आज 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में स्वीकार कर लिया है ।

उपस्थित अतिथियों का परिचय एवं कार्यक्रम का सफल आयोजन एवं संचालन भारती शिक्षा समिति, बिहार के प्रदेश सह सचिव प्रकाश चन्द्र जायसवाल के कुशल मार्गदर्शन में किया गया ।विभागीय योग प्रमुख पूनम कांति ने लाईव योग की प्रस्तुति दी और बताया कि योग के इस लाईव कार्यक्रम में विद्यालय के करीब 5 सौ से अधिक भैया/बहन, अभिभावक एवं अधिकारियों की सहभागिता हुई।शांति मंत्र के साथ विश्व योग दिवस का समापन किया गया ।

swatva

Leave a Reply