कोरोनाकाल : इस सावन ऑनलाइन ही बाबा भोलेनाथ की दर्शन करेंगें श्रद्धालु

0

झारखण्ड : पुरे देश में कोरोना काल के दौरान सावन का महीना भी तीन दिनों के बाद शुरू होने वाला है। इस बार सावन के महीने में बाबा भोलेनाथ का ऑनलाइन दर्शन ही होगा। बाबाधाम देवघर में पूजा को लेकर गोड्डा सांसद निशिकांत दुबे की जनहित याचिका पर हाइकोर्ट में शुक्रवार को फैसला सुनाया गया। कोर्ट ने कहा कि इस साल कोरोना महामारी को देखते हुए ऑनलाइन पूजा का आयोजन किया जायेगा।

हाइकोर्ट ने मेले के आयोजन पर लगाया रोक

मालूम हो की इस साल कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए किसी बी तरह के मेले के आयोजन पर भी रोक लगाया गया है। हर साल की तरह इस साल देवघर में श्रावणी मेले का आयोजन नहीं किया जायेगा। इस दौरान बाबा भोलेनाथ के श्रद्धालु ऑनलाइन ही भगवान के दर्शन करेंगें। इस बार बालाजी, काशी विश्वनाथ और वैष्णो देवी में ऑनलाइन दर्शन की व्यवस्था की गयी है। उसी तरह देवघर के बाबाधाम मंदिर में भी ऑनलाइन दर्शन की अनुमती कोर्ट की तरफ से दी गयी है।

200 साल पूर्व शुरू हुई सावन माह में कांवर यात्रा की परंपरा

बैद्यनाथ मंदिर के पंडा- पुरोहितों के बही-खातों में दर्ज जानकारियों के मुताबिक देवघर में 200 साल पूर्व सावन माह में कांवर यात्रा की परंपरा की शुरुआत हुई थी। इस लंबे कालखंड में अब तक यात्रा पर कोई विराम नहीं लगा था। लेकिन इस बार तैयारियों पर विराम लगा हुआ है। बैद्यनाथ मंदिर के पंडों के पास उपलब्ध रिकार्ड को आधार माना जाय तो यहां लगभग 200 साल पहले कांवर यात्रा शुरू हुई है।

swatva

Leave a Reply