कल से शुरू होगा चैत्र नवरात्र, इस बार घोड़े पर सवार हो कर आएंगी मां दुर्गा

0

पटना : चैत्र नवरात्र की शुरुआत कल यानी 13 अप्रैल से होने जा रही है। कल से हिंदू धर्म के लोग मां दुर्गा का 9 दिनों तक पूजा अर्चना करेंगे। नवरात्र में मां दुर्गा की नौ स्वरूपों की पूजा की जाती है।

जानकारी हो कि हिंदू धर्म ग्रंथों के अनुसार नवरात्र की शुरुआत कलश स्थापना के साथ किया जाता है। इस बार चैत्र नवरात्र के लिए कलश स्थापना की शुभ मुहूर्त 13 अप्रैल को सुबह 5:42 से 9:56 तक और 11:38 से 12:29 दोपहर तक अभिजित मुहूर्त है।इसके साथ ही कल से चैत्र शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से ही विक्रमी सम्‍वत 2078 का प्रारंभ भी होगा। जिसे हिंदू नववर्ष के नाम से भी जाना जाता है।

वहीं कल से शुरू होने वाले नवरात्र को लेकर बहुत सारे भक्त अपने घर पर हैं पूजा अर्चना करने का प्रबंध कर रहे हैं क्योंकि कोरोना संक्रमण के इस काल में बहुत से जगहों पर मंदिर बंद कर दिया गया है।

वहीं इस बार मां दुर्गा का आगमन इस बार घोड़े पर होगा। कलश स्थापना के दिन देवी किस वाहन पर सवार होकर पृथ्वी लोक की ओर आ रही हैं, इसका भी मानव जीवन पर प्रभाव होता है। वैसे तो मां दुर्गा का वाहन शेर है, लेकिन हर वर्ष नवरात्र के समय तिथि के मुताबिक मां अलग-अलग वाहनों पर सवार होकर धरती पर आती हैं।

फल के दामों में वृद्धि

इधर ,नवरात्र का त्यौहार शुरू होते हैं फल के दामों में व्यापक वृद्धि देखने को मिल रहा है। बीते कुछ दिनों से बाजार में 40 से लेकर 50 रुपये प्रति किलोग्राम बिकने वाले संतरे की कीमत 60 से 70 रुपये किलो तक हो गई है। जबकि, अंगूर के दामों में भी 10 से 20 रुपये तक की बढ़ोतरी हुई है।केला, सेब, समेत लगभग सभी फलों में प्रति किलो 10 से 30 रुपये तक इजाफा हुआ है।

वहीं 13 अप्रैल को माता के पहले स्वरूप मां शैलपुत्री की पूजा और घटस्थापना की जाएगी। इसके बाद क्रमशः
14 अप्रैल- मां ब्रह्मचारिणी पूजा 15 अप्रैल- मां चंद्रघंटा पूजा 16 अप्रैल- मां कुष्मांडा पूजा 17 अप्रैल- मां स्कंदमाता पूजा 18 अप्रैल- मां कात्यायनी पूजा 19 अप्रैल- मां कालरात्रि पूजा 20 अप्रैल- मां महागौरी (अष्टमी) 21 अप्रैल- मां सिद्धिदात्री (नवमी) 22 अप्रैल -नवरात्रि परायण (दशमी) की पूजा की जाएगी।

swatva

Leave a Reply