विधायक दल की बैठक से दूर हुए तेज , तेजस्वी ने कम किया ‘प्रताप’

0

पटना : बिहार के 2 विधानसभा सीटों पर आगामी कुछ दिनों में उपचुनाव होने को है। वहीं, इस उपचुनाव से पहले राजद द्वारा बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के आवास पर विधायक दल की बैठक चल रही है। वहीं, इस बैठक की सबसे खास बात यह है कि बैठक में राजद सुप्रीमो के बड़े लाल तेजप्रताप यादव शामिल नहीं हुए हैं। वहीं, तेजप्रताप यादव की अनुपस्थिति को लेकर भाई विरेंद्र ने कहा कि एक एमएलए के तौर पर तेजप्रताप यादव को जरूर शामिल होना चाहिए।

तेजस्‍वी यादव की अध्‍यक्षता में राजद विधायक दल की बैठक

जानकारी हो कि राबड़ी देवी के आवास पर राजद विधायक दल की बैठक तेजस्‍वी यादव की अध्‍यक्षता में बुलाई गई। वह बैठक में बिहार में 2 सीटों पर चुनाव को लेकर रणनीति भी बनाई जा रही है। इसके बावजूद इस बैठक में तेजप्रताप यादव शामिल नहीं हुए हैं।

तेजस्‍वी और तेज के बीच सबकुछ ठीक-ठाक नहीं

मालूम हो कि तेजस्‍वी यादव और तेज प्रताप के बीच इन दिनों सबकुछ ठीक-ठाक नहीं चल रहा है। लालू परिवार में मचे अंदरूनी कलह का नतीजा यह रहा कि बिहार में विधानसभा की दो सीटों के लिए हो रहे उपचुनाव में तेज प्रताप को स्‍टार प्रचारक तक का दर्जा नहीं दिया गया है। वहीं, इससे पहले तेजप्रताप यादव द्वारा भी कुशेश्वरस्थान के कांग्रेस उम्मीदवार के पिता से मुलाकात की गई है। जिसके बाद यह कहा जा रहा है कि इससे राजनीतिक तकरार और बढ़ने की संभावना है।

लालू को बंधक बनाने का लगा चुके हैं आरोप

गौरतलब है कि, कुछ दिनों पहले तेजप्रताप ने तेजस्‍वी का नाम लिए बगैर कहा था कि लालू यादव को दिल्‍ली में बंधक बनाकर रखा गया है। उन्होंने आरोप लगाया था कि राजद का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने का सपना देखने वाले लोग लालू यादव को दिल्ली से पटना वापस नहीं आने दे रहे हैं। उन्हें राष्‍ट्रीय राजधानी में ही कैद करके रखा गया है। हालांकि अपने इस बयान में तेजप्रताप ने कहीं भी छोटे भाई का खुलकर नाम नहीं लिया है इसके बावजूद उन्होंने इशारों में ही बड़ी बात कह दी है।

लालू के घर का दरवाजा हमेशा बंद

तेजप्रताप ने कहा कि सभी ये बात जानते हैं कि पटना में लालू यादव जिस घर में रहते थे, उसके दरवाजे हमेशा खुले रहते थे। अब उस घर का दरवाजा हमेशा बंद रहता है। घर के बाहर रस्‍सी लगा दी जाती है।

स्टार प्रचारकों की सूची से बाहर

वहीं, इन घटना के बाद अब जब उपचुनाव को लेकर पार्टी द्वारा स्टार प्रचारकों की सूची निकाली गई तो उस सूची से तेजप्रताप यादव को बाहर कर दिया गया। स्‍टार प्रचारकों की लिस्‍ट में पार्टी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव पहले तो तेजस्वी यादव का नाम दूसरे नंबर पर है। कुल 20 लोगों की सूची में लालू यादव के बड़े बेटे और खुद को सेकेंड लालू बताने वाले तेज प्रताप यादव का नाम शामिल नहीं है।

swatva

Leave a Reply