बिहार की छवि बर्बाद करने में नीतीश की मुख्य भूमिका, ‘बिहारी’ को बनाया जा रहा गाली

0

पटना : पश्चिम बंगाल की टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा ने एक बैठक में बिहारी गुंडा शब्द कह के संबोधित किया। उन्होंने इस शब्द का प्रयोग एक बार नहीं बल्की 3 बार किया। वहीं इस बार बिहारियों को भला-बुरा कहने वालों को पक्ष और विपक्ष के नेताओं ने एक साथ करारा जवाब दिया है।

वहीं,अब इस मामले को लेकर लोजपा नेता चिराग पासवान ने भी बड़ा बयान दिया है। पासवान ने कहा है कि टीएमसी सांसद ने जिस तरह की भाषा का उपयोग किया है उसका समर्थन कभी भी नहीं किया जा सकता है। चिराग ने कहा कि यह पूरी तरह से गलत है।

हमलोगों की लड़ाई बिहारी अस्मिता की लड़ाई

इसके साथ ही चिराग पासवान ने नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुए कहा कि बिहार की छवि को कहीं न कहीं बर्बाद करने की भूमिका मुख्यमंत्री की भी है। उन्होंने कहा कि हमलोगों की लड़ाई बिहारी अस्मिता की लड़ाई है और आज की तारीख में यदि बिहारियों को इतनी गलत दृष्टि से देखा जाता है तो इसकी जिम्मेदारी किसकी है ?

चिराग पासवान ने कहा कि बिहार में पिछले 15 सालों से नीतीश कुमार की सरकार है। वह जब इस मामले को कुछ नहीं बोलते हैं तो किया की क्या जा सकता है? चिराग ने कहा कि मैं पिछले कई दफा कह चुका हूं कि बिहारी शब्द को गाली बना दिया गया है। मैं अपने नामों के अंदर युवा बिहारी का प्रयोग करता हूं, तो इसके पीछे का मुख्य कारण यही है। दुसरे प्रदेशों में बिहारी शब्दों का प्रयोग करें लोगों को पीटा जाता है गाली दिया जाता है।

इसके साथ ही पासवान ने कहा कि बिहार को लेकर कभी भी कोई सकारात्मक समाचार पिछले 15 सालों से सुनने को नहीं मिल रहा है। इसके बाबजूद मेरी लड़ाई बिहारी अस्मिता को लेकर है खोई हुई पहचान को लेकर है और इसके वापसी को लेकर मैं तत्पर रहूंगा।

इसके अलावा चिराग पासवान ने केंद्रीय मंत्री और उनके चाचा पशुपति कुमार पारस द्वारा शुरू किए जा रहे बिहार यात्रा को लेकर कहा कि उनको इसके लिए बहुत-बहुत शुभकामनाएं वो अपनी यात्रा में सफल हो बस यही कह सकता हूं।

swatva

Leave a Reply