NIA को मिली सफलता , दरभंगा स्टेशन धमका मामले में ‘लश्कर-ए-तैयबा’ के दो आतंकियों की हुई गिरफतारी 

0

दिल्ली : एनआईए ने बिहार के दरभंगा स्टेशन पर हुए बम धमाके मामले में आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादियों को गिरफ्तार किया है। इनके नाम इमरान मलिक और मोहम्मद नासिर खान बताए गए हैं। यह दोनों रिश्ते में भाई बताए गये है। यह दोनों मूलतः उत्तर प्रदेश के शामली जिले के रहने वाले हैं। लेकिन वर्तमान में हैदराबाद के नामपल्ली जिले में रह रहे थे।

सिकंदराबाद दरभंगा एक्सप्रेस में आया था पार्सल

एनआईए के अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार यह मामला बिहार के दरभंगा रेलवे थाने में दर्ज किया गया था। जनाकारी हो कि पिछले 17 जून 2021 को सिकंदराबाद दरभंगा एक्सप्रेस में एक पार्सल आया था और इस पार्सल में धमाका हुआ था। जिसके बाद 24 जून 2021 को एनआईए ने इस मामले की जांच शुरू की थी।

जिसके बाद एनआईए ने कई महत्वपूर्ण सुराग एकत्र किए थे और इन्हीं सुरागों की जांच के चलते एनआईए टीम को इन दोनों आरोपियों के बारे में पता चला। इसके उपरांत इन दोनों को हैदराबाद से आज गिरफ्तार कर लिया गया।

एनआईए अधिकारी के मुताबिक गिरफ्तार मोहम्मद नासिर खान साल 2012 में पाकिस्तान भी गया था, जहां उसने आतंक के कैंप में आईईडी बनाने की ट्रेनिंग भी ली थी।उसे यह ट्रेनिंग आसानी से स्थानीय तौर पर मिल जाने वाले केमिकल के जरिए आईईडी कैसे बनाया जाता है उस आधार पर दी थी।

इन लोगों ने अपनी ट्रेनिंग के आधार पर एक आईईडी बनाई और सिकंदराबाद से एक पार्सल बुक कराया। लंबी दूरी की ट्रेन में पार्सल इसलिए बुक कराया गया था जिससे आसानी से इन लोगों का पता ना चल सके। पार्सल में मौजूद सामान के बीच में इस आईईडी को रखा गया था। इन लोगों को यह भरोसा था कि इस आईईडी के विस्फोट से बड़े पैमाने पर नुकसान होगा और दहशत फैलेगी ।

इन दोनों आरोपियों को रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा रही है। इन लोगों ने विस्फोट के लिए सामान कहां कहां से खरीदा था और लश्कर का नेटवर्क इन लोगों के साथ किस तरह से अपना काम करा रहा है मामले की जांच जारी है।

 

swatva

Leave a Reply