विधायकों को भी देना चाहिए अपने आचरण पर ध्यान, दोषियों पर होगी कार्रवाई

0

पटना : बिहार विधानमंडल के मानसून सत्र का दूसरा दिन का पहला सत्र थोड़ा हंगामे दार गुजरा। इसी बीच बजट सत्र के दौरान नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने विधायक की पिटाई के मामले में प्रस्ताव रखा। जिसके बाद सरकार के तरफ से इसका जवाब दिया गया।

बिहार सरकार के संसदीय कार्य मंत्री विजय चौधरी ने कहा कि विधायकों को भी अपने आचरण पर ध्यान देना चाहिए। विजय कुमार चौधरी ने कहा है कि 23 मार्च को सदन में जो कुछ हुआ, वह सब ने देखा। पूरे देश की जनता के सामने हर बात सामने आई है। विजय कुमार चौधरी ने कहा कि जो भी इस मामले में दोषी होगा उसपर कारवाई होगी।

विजय चौधरी ने कहा कि इस मामले में दोषियों को चिन्हित करने की कार्यवाही चल रही है। मामला सदन के आचार समिति के भी पास है।

इसके साथ ही मंत्री चौधरी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने पिछले दिनों केरल के एक मामले में माननीयों को लेकर जो टिप्पणी की है, उस पर सबको ध्यान देने की जरूरत है। विधायकों और विधायिका का सम्मान कितना ऊपर है या बात समझे बगैर गलत आचरण नहीं किया जा सकता।

विजय चौधरी ने कहा कि सदन में कई ऐसे पुराने मामले मिलते हैं। जब गलत आचरण वाले विधायकों पर कार्यवाही हुई है। उन्होंने कहा कि 23 मार्च की घटना में कोई अन्य दोषी हैं तो उनके ऊपर भी कार्रवाई होनी चाहिए।

सरकार के जवाब से तेजस्वी यादव संतुष्ट नहीं

वहीं सरकार के तरफ से जवाब आने के बाद भी नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव संतुष्ट नहीं दिखे। तेजस्वी ने कहा कि सरकार के जवाब से स्पष्ट हो गया है कि वह दोषी अधिकारियों पर कार्यवाही नहीं करना चाहती।

वहीं विस अध्यक्ष ने इस मामले में हस्तक्षेप करते हुए कहा कि 2 स्तरों पर जांच कराई जा रही है। सदन की आचार समिति की रिपोर्ट आने के बाद दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी। जबकि सरकार भी अपने स्तर से जांच करा रही है।

swatva

Leave a Reply