कुशवाहा ने ललन से पूछा, बताएं RJD से क्या डील हुई?

0

पटना: पार्टी छोड़ने की अटकलबाजी के बीच आज मंगलवार को जदयू संसदीय बोर्ड अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने अपने दल के एक खास गुट के नेताओं पर साजिश कर उन्हें पार्टी में हाशिये पर लाने की राजनीति करने का आरोप लगाया। कुशवाहा ने कहा कि महागठबंधन सरकार बनाते समय आरजेडी के साथ क्या डील हुई। इस पर नीतीश कुमार जी पर्सनली या पार्टी बैठक बुलाकर चर्चा कर लें क्योंकि कमजोर हो रहे जदयू को बचाने के लिए यह जरूरी है। इशारों में उन्होंने ललन सिंह को इस सबके लिए जिम्मेदार होने का संकेत भी दिया। कुशवाहा ने कहा कि वे आंख मूंद कर नहीं रह सकते। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह पार्टी की बैठक बुलाकर बताएं कि आरजेडी से क्या डील हुई।

नीतीश को कमजोर करने की चल रही साजिश

श्री कुशवाहा ने आज अपने आवास पर महात्मा फुले समता परिषद के बैनर तले कर्पूरी ठाकुर की जयंती मनाया और इसी के बाद उन्होंने प्रेस कान्फ्रेंस कर ये बयान दिया। कुशवाहा ने कहा कि जदयू में कुछ लोग मुझपर तंज कसते हैं। मैं उनसे कहता हूं कि मुझे गाली दे दीजिए लेकिन जदयू को कमजोर मत कीजिए। ये नेता जदयू और नीतीश कुमार को कमजोर करने की साजिश कर रहे हैं। राजद नेता लगातार बयान दे रहे कि नीतीश जी कुर्सी खाली करें। वे यह भी कहते हैं कि सरकार बनते समय गठबंधन में डील हुई। ऐसे में यह जानना जरूरी है कि जिन लोगों ने डील की, वे यह बताएं कि क्या डील हुई।

swatva

कुशवाहा ने मुख्यमंत्री से की यह अपील

कुशवाहा ने कहा कि लगातार जदयू की बैठकों में उन्हें नजरअंदाज किया जा रहा। अतिपिछड़ा समाज, दलित, महादलित समाज की उपेक्षा हो रही। ऐसे में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी को जदयू और अपने खिलाफ हो रही साजिश को समझना चाहिए। नीतीश जी मुझे जब भी बुलाना चाहें, मैं उनसे खुलकर बात करने को तैयार हूं। हम आंख मूंद कर नहीं रह सकते। जल्द जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक बुलाई जाए।

Leave a Reply