इस IITian के सवाल में फंस गए प्रशांत किशोर

0

चुनावी नारा, सोशल मीडिया, तकनीकी का इस्तेमाल, डाटा साइंटिस्ट का काम करने वाले प्रशांत किशोर अब राजनीति करेंगे। लेकिन इसके लिए वे कोई पॉलिटिकल पार्टी नहीं बनाएंगे, बल्कि युवा चेहरों को ट्रेंड करेंगे।

लेकिन इसे करने के लिए न तो कोई रोडमैप बता रहे, न राजनीतिक विकल्प। ऐसे में भाजपा एमएलसी सच्चिदानंद राय ने कुछ सवाल उठाये। क्या पीके बस बेरोजगार बिहारी युवाओं की राजनीतिक महत्वाकांक्षा को हथियार बना अपनी कंपनी का एजेंडा आगे बढ़ा रहे हैं?

सच्चिदानंद राय खुद भी टेक्नोक्रेट और पूर्व आईआईटीएन रहे हैं। उन्होंने पीके से 2 जवाब मांगे हैं। सच्चिदानंद राय ने सवाल पूछते हुए कहा कि एक तरफ आप नीतीश कुमार को पितातुल्य बता रहे हैं और साथ में नाथूराम गोडसे के साथ उनका नाम जोड़ रहे थे। बिहार के विकास को लेकर भी सवाल उठा रहे थे। और यह सही है। वास्तव में बिहार पिछड़ा राज्य है, इसे आगे आना चाहिए।

उन्होंने कहा कि बिहार का काम करते हुए आप किस मुख्यमंत्री को देखना चाहते हैं? आपके दिल में तो कोई न तो कोई होगा, जिसे आप मानते होंगे कि यही व्यक्ति बिहार के मुख्यमंत्री के रूप में राज कर सकता है। आप तो चुनाव लड़ नहीं रहे , कोई पार्टी नहीं बनाये हैं। निश्चित रूप से आप किसी न किसी को लड़ाएंगे, किसी को जिताना चाहते हैं। दूसरा सवाल 2024 में आप किसे प्रधानमंत्री के रूप में देखना चाहते हैं ?

अगर आप इस सवाल का जवाब देते हैं तो बड़ी प्रसन्नता होगी एक नागरिक तथा एक बिहार होने के नाते।

swatva

Leave a Reply