‘जनता और बिहार जाए भाड़ में, बस इनकी कुर्सी सलामत रहनी चाहिए’

0

पटना : नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव भाजपा व जदयू पर निशाना साधते हुए कहा कि ईलाज के अभाव में बिहार में लाशों का पतझड़ है लेकिन नीतीश-BJP की नूरा-कुश्ती चरम पर है।

MLC पद के बदले प्राप्त नए प्यादे से सीएम BJP अध्यक्ष को जवाब दिलवाते है फिर BJP उसकी जाति के मंत्री से ही उस प्यादे को जवाब दिलवाती है। जनता और बिहार जाए भाड़ में! जनता मरे-जिए, इन्हें क्या मतलब? बस इनकी कुर्सी सलामत रहनी चाहिए। शर्मनाक!

तेजस्वी का यह बयान सम्राट चौधरी, उपेंद्र कुशवाहा व भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ संजय जायसवाल के बीच नाईट कर्फ्यू को लेकर की गई टिप्पणी पर आया है।

विदित हो कि बिहार के मुख्य्मंत्री नीतीश कुमार द्वारा बिहार में लगाए गए नाइट कर्फ्यू को लेकर एनडीए में घमासान तेज हो गई है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने नाइट कर्फ्यू को कोरोना का चेन तोड़ने के लिए कारगार नहीं बताया।

जायसवाल के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए जदयू पार्लियामेंट बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष को कहा कि संकट के घड़ी में राजनीति नहीं करें। वहीं, कुशवाहा के इस बयान पर पंचायती राज्य मंत्री सम्राट चौधरी ने पलटवार करते हुए कहा कि अभी वे नए-नए मुसलमान बने हैं, इसलिए ज्यादा प्याज खा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी को यह बताने की जरुरत नहीं है। हमारी पार्टी का हर कार्यकर्ता संकट की इस स्थिति में लोगों की सहायता करने के लिए जी जान से जुटा है। इसके लिए किसी की नसीहत की जरुरत नहीं है।

वहीं इसके साथ ही उन्होंने कहा कि भाजपा अध्यक्ष ने नाईट कर्फ्यू के आगे की बात कही थी। ऐसे में जदयू के नए-नए नेता बने उपेंद्र कुशवाहा को भाजपा अध्यक्ष संजय जायसवाल के बयान पर खुलेआम प्रतिक्रिया देने से बचना चाहिए। वो अपनी बात पार्टी फोरम में रख सकते थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी लोगों को संयम बरतने की सलाह दी है।

swatva

Leave a Reply