रघुवंश बाबू के पुत्र को राजनीति में क्यों लाना चाह रहा जदयू ?

0

पटना : राजद में लगातार रूठने मनाने का खेल लगातार जारी है। अब बिहार के समाजवादी नेता रघुवंश प्रसाद सिंह के मौत के बाद यह बात निकल कर सामने आ रही है कि रघुवंश बाबू के पुत्र को एमएलसी बनाने की तैयारी चल रही है।

राज्यपाल कोटे से बिहार में 12 एमएलसी की नियुक्ति होनी है। जानकारी हो कि विधानसभा में अभी भी राजद सबसे बड़ी पार्टी है। वहीं दूसरी तरफ जदयू में रघुवंश बाबू के इंजीनियर पुत्र को राजनीति में लाने की तैयार शुरू हो गई है। जदयू द्वारा अब बिहार विधानसभा चुनाव को देखते हुए राजपूत वोटरों को लुभाने के लिए जदयू इस तरह का निर्णय ले सकती है।

रघुवंश बाबू फेफेड़े के संक्रमण से दिल्ली एम्स में भर्ती थे। जिनकी कल मृत्यु हो गई। उन्होंने मृत्यु से पूर्व सादे कागज पर लालू प्रसाद को अपना इस्तीफा भेजा था। यह वायरल होते लालू प्रसाद ने उन्हें रिम्स से ही पत्र लिख कर सार्वजनिक कर दिया था कि वे कहीं नहीं जाएंगे। पार्टी में ही रहेंगे। जिसके बाद अब उनकी मौत होने पर अब जदयू द्वारा उनके बेटे को एमएलसी के लिए पार्टी में बात चला दी है।

swatva

Leave a Reply