चिराग ने कहा- बिहार में लगे राष्ट्रपति शासन, मुख्यमंत्री के संरक्षण में बिक रहा शराब

0

बिहारशरीफ : लोजपा (रामविलास) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान जहरीली शराब से मौत के बाद सोमवार को नालंदा जिला के सोहसराय थाना अंतर्गत छोटी पहाड़ी इलाके में पहुंचे। यहां चिराग ने पीड़ित परिवार से मुलाकात करने के बाद राज्य सरकार पर जमकर हमला बोला।

चिराग पासवान ने नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुए कहा कि यदि आप से बिहार नहीं संभल रहा है तो बिहार में राष्ट्रपति शासन लगवा दें। पासवान ने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री सोचते हैं जो पिएगा वह मारेगा, एक मुख्यमंत्री का यह सोच कैसे हो सकता है? उन्होंने कहा कि आज उनके गृह जिले में घटना हुई है, क्या यहां भी आकर मुख्यमंत्री यहीं जवाब देंगे,यह बहुत बुरी बात होगी क्योंकि मुख्यमंत्री को यह सोचना चाहिए कि इसका निर्माण आपके गृह जिले में हो रहा है तभी लोग पी रहे हैं।

swatva

जहरीली शराब से मौत नहीं हत्या

पासवान ने मुख्यमंत्री से सवाल करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री को यह बताना चाहिए कि जब शहरी क्षेत्र में जहरीली शराब बन रही है और बिक रही है तो सोचिए गांव की स्थिति क्या होगी। यह जहरीली शराब से मौत नहीं हत्या है। एक के बाद एक कई जिलों में ऐसे मामले सामने आ चुके हैं। इससे पहले चंपारण से लेकर गोपालगंज मुजफ्फरपुर और अब तो उनके गृह जिला में यह नौबत आ गई है। कमाने खाने वाले बच्चे इसका शिकार हुए हैं।

मुख्यमंत्री जी कहते हैं कि हत्याएं होगी तो हम रोजगार देंगे यह हत्या नहीं तो और क्या

चिराग पासवान ने कहा इतनी बड़ी घटना होने के बाद भी नहीं मुख्यमंत्री और ना ही उनके तब से कोई सिपहसालार पीडितों से मिलने उनके घर आया। पासवान ने कहा कि महिलाओं ने मुख्यमंत्री से शराबबंदी कानून की मांग की थी ना कि यह कहा था कि उनके गांव मोहल्ले में शराब माफिया शराब बना कर लोगों को मौत के मुंह में ढकेल दें। मुख्यमंत्री जी कहते हैं कि हत्याएं होगी तो हम रोजगार देंगे यह हत्या नहीं तो और क्या है?

प्रशासन के संरक्षण में शराब का धंधा

चिराग पासवान ने इस घटना के पीछे खुद मुख्यमंत्री केशामिल होने की बात कहते हुए कहा कि आज राज्य के हर एक ब्लॉक, हर एक विधानसभा में ही नहीं, बल्कि हर एक पंचायत में शराब तस्करों द्वारा प्रशासन के संरक्षण में शराब का धंधा किया जा रहा है। संभवत मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के संरक्षण में यह काम हो रहा है। तभी वो अभी तक पीड़ित परिवार से मिलने नहीं पहुंच रहे हैं। जबकि आपके सहयोगी ही इस पर सवाल उठा रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने ही सवाल उठाते हुए पूछा है कि आखिर क्यों आप पीड़ित परिवारों से मिलने नहीं जाते हैं।

चिराग पासवान ने कहा कि वह राज्यपाल से मांग करेंगे कि यह केंद्र सरकार को सिफारिश भेजें कि बिहार में राष्ट्रपति शासन लगाया जाए क्योंकि कानून व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त हो गई है।

वहीं, जहरीली शराब के शिकार हुए मृतक के परिजनों ने बोला कि अब सिर्फ और सिर्फ राजनीति हो रही है। सभी लोगों को घर से बुलाकर एक जगह इकट्ठा कर लिया गया और किसी भी प्रकार की मदद की बात नहीं कही गई।

Leave a Reply