केंद कर रही सौतेला व्यवहार, मुख्यमंत्री ने साध रखी चुप्पी

0

पटना : पूरे देश में कोरोना का कहर जारी है । बिहार में भी तेजी से यह वायरस अपना पांव फैला रहा है। वहीं तेजी से बढ़ते संक्रमण के बीच बिहार की सियासत भी तेज हो गई है। बिहार के नेता प्रतिपक्ष ने एक बार फिर से एनडीए सरकार पर जोरदार हमला बोला है।

बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा है कि केंद्र सरकार बिहार के साथ सौतेला व्यवहार अपनाने का आरोप लगाया है। तेजस्वी ने कहा है कि बिहार की तुलना में कम आबादी वाला राज्य होने के बावजूद हरियाणा में केंद्र सरकार रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन के माध्यम से 500 बेड वाले दो कोविड अस्पताल चालू करवा रही है। जबकि बिहार में मरीज ऑक्सीजन और अस्पतालों में बेड की कमी से मर रहें हैं।

उन्होंने पूछा कि क्या बिहारियों की जान इतनी सस्ती है जो राजग को 48 सांसद देने के बावजूद इस तरह के अस्पताल से बिहार को वंचित रखा जा रहा है।

इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि इस संक्रमण के दौर में भी केंद्र सरकार द्वारा बिहार को कोई मदद नहीं की जा रही है इसके बाबजूद मुख्य्मंत्री नीतीश कुमार चुप बैठे हुए हैं। तेजस्वी ने कहा कि लोकसभा और राज्यसभा में राजग के बिहार से 48 सांसद हैं। पांच केंद्रीय मंत्री भी हैं। इसके बावजूद 500 बेड का कोविड समर्पित अस्पताल बिहार के लिए सुनिश्चित नहीं करवा सकें। साथ ही बिहार में भाजपा के 2-2 उपमुख्यमंत्री है लेकिन वह भी कुछ नहीं बोल रहे हैं।

नेता प्रतिपक्ष ने लालू के कार्यकाल की सराहना करते हुए कहा कि केंद्र में जब यूपीए-1 की सरकार थी और लालू प्रसाद केंद्र में मंत्री थे तो बिहार में बाढ़-सुखाड़ जैसी किसी भी प्रकार की आपदा में केंद्र सरकार की ओर से तुरंत राहत पहुंचायी गई थी।

swatva

Leave a Reply