बिहार बजट : महिलाओं के लिए खुशखबरी, मिलेगा ब्याज मुक्त ऋण

0

पटना : बिहार का वित्तीय वर्ष 2021-22 का बजट पेश किया गया। बिहार विधानसभा में उपमुख्यमंत्री सह वित्त मंत्री तारकिशोर प्रसाद ने आगामी वित्तीय वर्ष का बजट पेश किया है। तारकिशोर प्रसाद ने पहली बार अपना बजट बिहार विधानसभा में पेश किया है। इस बार के बजट में तारकिशोर प्रसाद शुरू से लेकर अंत तक शायराना अंदाज में नजर आए।

वित्त मंत्री ने अपने बजट भाषण में कहा कि बिहार में इस बार का बजट 2 लाख 18 हजार 303 करोड़ रू का है। 2 लाख 18 हजार 502 करोड़ का अनुमानित आय होने का लक्ष्य है। योजना मद में 1051881 करोड़ की राशि जबकि गैर योजना मद में 1177830 करोड़ रू स्वीकृत किये गए हैं।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि बिहार सरकार सात निश्चय-1 के बाद अब सात निश्चय 2 पर काम कर रही है। इसके तहत राज्य के 36 अनुमंडलों में एनएनएम संस्थान खोला गया है।साथ ही 28 जिलों में 12 जिलों में पारा मेडिकल संस्थान खोले जा चुके हैं। राज्य में 14 पॉलटेक्निक,11 इंजीनियरिंग कॉलेज खोले जा चुके हैं।

इसके बाद उन्होंने कहा कि साथ निश्चय 2 पर काम प्रारंभ किया गया है। सात लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए 4671 करोड़ का बजट बनाया गया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि राज्य के युवा रोजगार के लिए शिक्षा ग्रहण करें यह उनका लक्ष्य है। इसके लिए सरकार ने साथ निश्चय-2 में कुशल युवा कार्यक्रम चलाया है। इसके तहत युवाओं को उद्धमी बनाने का काम कर रही है। आईटीआई और पॉलटेक्निक संस्थानों को समृद्ध किया जा रहा है,गुणवत्ता बढ़ाई जा रही है।

उन्होंने कहा कि राज्य के हर जिले में एक एक मेगा स्कील सेंटर खोला जायेगा। इसमें उन युवाओं को प्रशिक्षित किया जाएगा जो युवा आईटीआई नहीं कर पाये है। साथ ही हर प्रमंडल में एक टूल्स रूम की स्थापना की जायेगी।

खुलेगा स्कील डेवलपमेंट और उद्मिता विभाग

तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि आईटीआई और पॉलटेक्निक संस्थानों के के लिए पहले अलग अलग विभाग थे लेकिन अब इसके लिए अलग विभाग का निर्माण किया जाएगा इसका नाम स्कील डेवलपमेंट और उद्मिता विभाग होगा। इससे आईटीआई और पॉलटेक्निक संस्थानों देखरेख एक ही जगह से किया जाएगा। साथ ही उन्होंने बिहार में एक खेल विवि की स्थापना राजगीर में की जाएगी। उन्होंने कहा कि युवा शक्ति बिहार की प्रगति’ के तहत पुराने और नए आईटीआई संस्थानों को आधुनिक बनाया जायेगा। बिहार उद्यमिता को बढ़ावा दिया जाएगा। साथ ही बिहार में मछलीपालन को इतना बढ़ाया जाएगा कि यहां की मछली दूसरे राज्यों में जाएगी।

इसके अलावा उन्होंने कहा कि महिलाओं को ब्याज मुक्त ऋण दिया जाएगा। साथ ही उच्च शिक्षा में महिलाओं को बढ़ावा दिया जाएगा। इसके साथ क्षेत्रीय प्रशासन, पुलिस थाना, में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाई जाएगी। महिला उद्यमिता के लिए विशेष योजना लाया जाएगा। साथ ही शहर में रह रहे भूमिहीन गरीबों को बहुमंजिला इमारत में मकान दिया जाएगा।

साथ ही हर घर नल का जल योजना के तहत अब तक 56143 वार्डों में काम पूरा कर लिया गया है। घर तक पक्की गली-नाली योजना के तहत ग्रामीण विकास विभाग द्वारा कुल अबतक 114248 वार्डों में काम पूरा किया गया है। शौचालय निर्माण घर का सम्मान के तहत ग्रामीण विकास विभाग द्वारा सभी 8386 पंचायत ओडीएफ घोषित किये गए।

स्ट्रीट लाइट के लिए 150 करोड़ रुपये का प्रावधान है। साथ ही सभी शहरों में विद्युत शवदाहगृह बनाया जाएगा.।वृद्ध जनों के लिए योजना आश्रय स्थल बनाया जाएगा। 90करोड़ रुपये का प्रावधान वृद्धजनों के लिए किया गया है। बिहार में इस बार का बजट 2 लाख 18 हजार 303 करोड़ रू का है।

swatva

Leave a Reply