जिलाधिकारी ने किया औचक निरीक्षण 46 दुकानें की गई सील, मामला महामारी कानून का उलंघन

0

पटना : बिहार में कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ता ही जा रहा है। बिहार में अबतक कुल 11,460 मरीज मिले हैं। बिहार में सबसे अधिक कोरोना के मरीज राजधानी पटना में हैं। राजधानी पटना में अबतक 1003 कोरोना संक्रमित मरीज मिल चुके हैं। लगातार करोना के मरीज मिलने से राजधानी में डर का माहौल बन रहा है। बिहार सरकार ने कोरोना से बचाव को लेकर एक दिशानिर्देश जारी करते हुए कहा है की राजधानी पटना में बिना मास्क के दिखने पर 50 रुपया जुर्माना वसूला जाएगा।

वहीं राजधानी में लगातार मिल रहे कोरोना मरीजों के बाद जिला अधिकारी कुमार रवि ने अपने दलबल के साथ पटना के कई इलाकों का दौरा किया। जिला अधिकारी ने 46 दुकानों को सील करते हुए उन्हें कारण बताओ नोटिस का जवाब देने को कहा है। आपको बता दें की संसोधित महामारी कानून (2020) के तहत मास्क लगाना व सोशल डेस्टेन्सिग और सैनिटाइज़र की व्यवस्था  क्यों नहीं थी?

अगले 48 घंटों के अंदर प्रतिष्ठान के मालिकों को इसका जवाब देने का निर्देश दिया गया है। इन प्रतिष्ठानो के ऊपर जुर्माना भी लगाया जा सकता है। निरीक्षण करने के बाद हरिनिवास को सील कर दिया गया है। जाँच दल फ़्रेज़र रोड, मीठापुर होते हुए फुलवारीशरीफ पहुंचा। जहाँ उसने 14 दुकानों को सील कर दिया है। इसके साथ ही जाँच दाल ने निजी संस्थानों को सख्त निर्देश देते हुए कहा की कारण नहीं बताने पर संसोधित महामारी कानून (2020) के तहत स्थाई रूप से बंद कर दिए जायेंगे।

swatva

Leave a Reply