फिजियोथेरेपिस्टों के मांगो पर केंद्र सरकार गंभीर : अश्विनी चौबे

0

विश्व फिजियोथेरेपी दिवस के अवसर पर आईपीए बिहार के द्वारा रविवार को एएन सिन्हा इंस्टिट्यूट पटना में आयोजित कार्यक्रम में केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने कहा कि फिजियोथैरेपिस्ट के मांगो के बारे में केंद्र सरकार गंभीरतापूर्वक विचार कर रही है। इस संदर्भ में केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग केंद्र सरकार के अन्य विभागों और राज्य सरकार के स्वास्थ्य विभाग से विचार विमर्श कर जल्दी ही फिजियोथैरेपिस्टों के बारे में सकारात्मक निर्णय लेने वाली है। केंद्र सरकार “सबका साथ-सबका विकास’  के मंत्र पर चलने वाली है। फिजियोथैरेपिस्ट भी समाज, राष्ट्र और चिकित्सा क्षेत्र के महत्वपूर्ण घटक हैं। इसलिए बिहार सहित देश भर के फिजियोथेरेपिस्टों को इस बारे में चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है।

अनुग्रह नारायण सिन्हा संस्थान में आज आईएपी बिहार शाखा के द्वारा विश्व फिजियोथेरेपी दिवस मनाया गया . जिसमें मुख्य अतिथि परिवार कल्याण एवं स्वास्थ्य केन्द्रीय राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे, विशिष्ट अतिथि सांसद राम कृपाल यादव एवं इदिरा गाँधी आयुर्विज्ञान संस्थान के निदेशक डाक्टर एन. के विश्वास ने दीप प्रज्ज्वलित कर उद्धाटन किया।
इस कार्यक्रम में राज्य के प्रत्येक जिलो से आए फिजियोथेरापिस्ट चिकित्सकों ने शिरकत किया। आईएपी के राज्य अध्यक्ष डा.नरेद्र कुमार सिन्हा ने बताया कि विश्व भौतिक चिकित्सा परिसंध ने 8 सितम्बर को विश्व फिजियोथेरेपी दिवस मनाने का संकल्प 1997 में लिया तब से विश्व भर में भौतिक चिकित्सकों के द्वारा यह दिवस मनाया जाता है। इस दिवस को मनाने के पीछे हमारे फिजियोथेरेपी संवर्ग के प्रचार प्रसार और इस के क्षेत्र में आए नए-नए अन्वेषणों, नए प्रयोगो को मानव समाज के बीच प्रचारित करना है।

कार्यक्रम के दौरान डा उदयशंकर प्रसाद, भूतपूर्व व्याख्याता, बिहार काँलेज आँफ फिजियोथेरेपी एवं आँकुपेशनलथेरापी पटना को लाइफटाइम एचीवमेंट अवार्ड मंत्री के हाथों प्रदान किया गया। कार्यक्रम के दौरान वैज्ञानिक सत्र का भी आयोजन किया गया जिसमें राज्य के विभिन्न काँलेजों के व्याख्याताओं के द्वारा वैज्ञानिक सत्र में व्याख्यान हुआ।

Leave a Reply