कोरोना से मुक्त होने के करीब है बिहार

0

पटना: स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा है कि बिहार कोरोना महामारी से मुक्त होने के करीब पहुंच गया है। यह अत्यंत खुशी की बात है और इसके लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा किया गया प्रयास पूरी तरह सार्थक साबित हो रहा है।

इसके लिए कोरोना वारियर्स की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि आम लोगों की जागरूकता और सहभागिता का ही परिणाम है कि जहां संक्रमण दर में निरंतर गिरावट आ रही है, वहीं रिकवरी रेट भी उछाल मारते हुए 95.87 फीसदी के करीब पहुंच गया है। जबकि राष्ट्रीय औसत लगभग 91 फीसदी है।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि सूबे में संक्रमित मरीजों की संख्या अब 8 हजार से नीचे मात्र 7 हजार 862 है। दूसरी ओर बीते एक सप्ताह में संक्रमित मरीजों की संख्या में भी भारी गिरावट आई है। 31 अक्टूबर तक सूबे में 1 करोड़ 2 लाख 23 हजार 23 सैंपलों की जांच की गई है। इसमें से 2 लाख 7 हजार 8 सौ 11 पाॅजिटिव पूरी तरह मरीज स्वस्थ होकर घर पहुंच चुके हैं।

बीते 24 घंटे में जहां 1 लाख 46 हजार 940 सैंपलों की जांच हुई, वहीं 8 सौ मरीज नये जुड़े और 1 हजार 186 मरीजों स्वस्थ हुए हैं। बावजूद स्वास्थ्य विभाग सैंपलों की जांच और मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा प्रदान करने की दिशा की ओर अग्रसर है। आमलोगों से भी अपील है कि वायरस को लेकर जागरूक और अलर्ट रहनेे के साथ-साथ मुंह पर मास्क और दो गज की दूरी जरूर अपनायें।

बता दें कि बिहार में जब कोरोना तेजी से पाँव पसार रहा था तो उस समय बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय ने कहा था कि पूरे बिहार के 12 करोड़ लोगों की स्क्रीनिंग हो चुकी है। हालांकि, मंगल पाण्डेय के इस बयान की काफी किरकिरी हुई थी तथा बिहार सरकार के कार्यशैली पर भी सवाल खड़े हुए थे।

swatva

Leave a Reply