बक्सर एवं भागलपुर से धन्वंतरि चलंत अस्पताल शुरू, 72 तरह की होगी जांच

0

पटना: केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने आईसीएमआर अधिकृत पायलट प्रोजेक्ट के तहत बक्सर एवं भागलपुर में मोबाइल लैब लबाइक का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से हरी झंडी दिखाकर शुभारंभ किया। अत्याधुनिक जांच मशीनों से सुसज्जित बाइक घर पर पहुंचकर लोगों को 72 तरह के जांच के साथ टेलीमेडिसिन की भी सुविधा उपलब्ध कराएगी।

चौबे ने कहा कि चिकित्सा चिकित्सक आपके द्वार कार्यक्रम को सफल बनाने में यह मील का पत्थर साबित होगा। इस टेस्टिंग लैब बाइक को उन्होंने धनवंतरी चलत अस्पताल नाम दिया है। जिससे घर पर पहुंचकर लोगों को जांच एवं परामर्श की सुविधा उपलब्ध कराएगी। इस अवसर पर भागलपुर एवं बक्सर से सिविल सर्जन सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति भी जुड़ें।

चौबे ने कहा कि बेहतर चिकित्सीय सुविधा उपलब्ध कराने में यह सहायक साबित होगा। कोरोना काल में यह काफी उपयोगी है। उन्होंने बताया कि मोबाइल लैब- लबाइक द्वारा भागलपुर व बक्सर में ब्लड एवं अन्य प्रकार के कुल 76 जाँच किया जाएगा। वहीं जो बीमार मरीज हैं उन्हें एम्स के बेहतरीन चिकित्सकों से टेलीमेडिसिन के द्वारा दूरस्थ चिकित्सा प्रदान किया जाएगा एवं उन्हें दवा आदि भी पर्चा में प्रिंट निकालकर दिया जाएगा। जो अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान द्वारा किया जाएगा। सभी मरीजों का रिकार्ड ट्रिपल आईटी के विशेष सर्वर एवं मुख्य डाटा सेंटर पर भी संरक्षित होगा।

युवा भाजपा नेता अर्जित चौबे ने बताया कि कार्यकारी एजेंसी के रूप में एक्युस्टर टेक्नोलॉजीस प्राइवेट लिमिटेड एवं आलसोल टेक्नोलॉजी ऐंड कंसल्टेंट्स प्राइवेट लिमिटेड, ई-हेल्थ सिस्टम है। इनके एक्सपर्ट की पैनी नजर पूरी प्रक्रिया पर होगी।

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, पटना एवं इंडियन इंस्टीट्यूट आफ इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी, भागलपुर का तकनीकी सहयोग मिलेगा। मरीज को चिकित्सा पुर्जा का हार्ड कॉपी भी प्रिंट मिलेगा। और जो मरीज अपने मोबाइल नंबर पर यह विवरण चाहते हैं उन्हें व्हाट्सएप्प या ईमेल भी भेज दिया जाएगा। यह सभी कार्य रियल टाइम यानी कि बिना रुकावत त्वरित होगा। इसके साथ ही भागलपुर, बक्सर से डिजिटल ई हेल्थ कार्ड प्रोजेक्ट का पायलट शुभारंभ हुआ है। इसके माध्यम से हेल्थ कार्ड तैयार किया जाएगा। जिसमें सभी चिकित्सीय विवरण उपलब्ध होगा।

swatva

Leave a Reply