संकल्प रैली : नमोमय गांधी मैदान, अधिकारी चौकस, कार्यकर्ता उत्साहित, जानिए क्या है खास इंतजाम?

0
Cut outs, hoardings have covered the roadsides and buildings across the capital city ahead of NDA's Sankalp Rally

पटना : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली को लेकर पटना का गांधी मैदान अतिसंवेदन शील क्षेत्र बन गया है। अंदर से बाहर तक पूरा गांधी मैदान नमो मय हो गया है। गांधी मैदान की बाउंडरी का चप्पा-चप्पा नरेंद्र मोदी व राजग के अन्य नेताओं के बैनरों से पट गया है। उत्सव व उमंग के माहौल के बावजूद गांधी मैदान में अभी किसी के प्रवेश की इजाजत नहीं है। 1 मार्च की सुबह से ही यहां भारत सरकार व बिहार सरकार के आला अधिकारियों के आने-जाने का सिलसिला शुरू हो गया। वैसे तो इस क्षेत्र की सुरक्षा व्यवस्था की जिम्मेदारी पटना जिला प्रशाासन एवं एनएसजी की है। लेकिन, इस विशाल गांधी मैदान मंे आयोजित रैली में शामिल होने वाले लाखों कार्यकर्ताओं, समर्थकों व नेताओं को किसी प्रकार की असुविधा नहीं हो इसके लिए बिहार भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता पूरे प्राणपन से लगे हुए हैं। वैसे गांधी मैदान के सभी गेट बंद कर दिए गए हैं और उसके सभी दरवाजों पर सुरक्षा प्रहरियों को तैनात कर दिया गया है। यह पूरा मैदान 24 घंटे सुरक्षा कब्जे में रह रहा है। पटना के एसएसपी से लेकर डीआईजी, आईजी, प्रधानसचिव स्तर के कई अधिकारी वहां जमे हुए हैं।

Securities personnel are on toes seeing PM Modi’s
3rd March rally at Gandhi Maidan, Patna

1 मार्च की सुबह भाजपा नेता और दीघा के विधायक संजीव चैरसिया अपने सहयोगियों के साथ गांधी मैदान की व्यवस्था का जायजा लेते दिखे। सफाई से लेकर भाषण सुनने में किसी भी संभावित परेशानी को लेकर सभी बिंदुओं पर विचार कर रहे थे। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय और भाजपा के संगठन महामंत्री नागेंद्र जी कई बार यहां की व्यवस्था की समीक्षा कर चुके है। इस रैली के लिए भव्य मंच का निर्माण कराया जा रहा है। ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि पुलवामा हमले के लिए जिम्मेंदार आतंकियों पर पाकिस्तान में घुस कर कार्रवाई के बाद प्रधानमंत्री पहली बार बिहार आ रहे हैं। ऐसे में उन्हे प्रत्यक्ष देखने और सुनने के लिए भारी भीड़ उमडेगीं। गांधी मैदान के बाहर भी लोगों को खड़ा होना पड़ सकता है। इस बात को ध्यान में रखकर लगभग 50 स्थानों पर बड़ा एलइडी स्क्रिन लगाया जा रहा है ताकि भीड़ अनियंत्रित न हो।

swatva

Leave a Reply