दहेज के लिए विवाहिता की हत्या कर शव को किया गायब, पति समेत छः लोगों पर मुकदमा

0

नवादा : जिले के पकरीबरावां थाना क्षेत्र के असमा गांव में दहेज के लिए विवाहिता की हत्या कर शव गायब कर दिया गया है। जिसकी एफआईआर नंबर 397/21 पकरीबरावां थाने में दर्ज कराई गई है। इस मामले में पति सहित ससुराल के छः आरोपितों को नामजद एवं 10 अज्ञात लोगों पर एफआईआर दर्ज किया गया है।

दर्ज प्राथमिकी में जिला नांलदा थाना गिरियक के रामनगर मरकटृ गाँव निवासी सुनील कुमार ने पुलिस से कहा है कि अपनी बहन पम्मी कुमारी की शादी वर्ष 16 में हिंदू रिति रिवाज के साथ पकरीबरावां थाना क्षेत्र के असमा गांव निवासी लाल सिंह के पुत्र रामाशीष के साथ की थी।

शादी के दौरान अपने सामर्थ्य के अनुरूप उपहार दान भी दिया था, लेकिन शादी के कुछ माह बाद से ही पति व ससुराल वालों ने बुलेट मोटरसाइकिल, सोने की चेन और नगद रुपये मायके से मांगने का दबाव डाल उनकी पुत्री को प्रताड़ित करने लगे।

पति, भैसुर सहित सभी ससुराल वाले परिजन हमेशा मारपीट करते थे

पुत्री पम्मी ने ससुराल वालों को मनाने की भरपूर कोशिश करते हुए बताया कि मेरे पिता की दहेज देने की क्षमता नहीं है। इसके बाद से पति, भैसुर सहित सभी ससुराल वाले परिजन पम्मी के साथ हर हमेशा मारपीट करते थे।

मृतका के भाई सुनील ने बताया कि गुरुवार को इसी गांव के एक व्यक्ति द्वारा सूचना मिली कि मेरे बहन की गला घोंटकर हत्या करने के बाद वो लोग जलाने की कोशिश में लगे हुए हैं। जब अपने परिजन के साथ पुलिस को लेकर पहुंचा तो साक्ष्य को छुपा दिया गया। बताया जाता है कि मृतका को एक बेटा और एक बेटी है। पुत्री चार साल की है जिसका नाम मिस्टी है एवं पुत्र टिगना 10 माह का है।

एक माह पूर्व हआ था समझौता:-

करीब एक माह पूर्व ससुराल वाले मेरी बहन से मारपीट कर दहेज लाने के लिए जबर्दस्ती कहने लगे तो फिर मैंने ससुराल पहुँचकर समझबूझ कर मामले को शांत कराया था। अचानक मौत की सूचना पर परिजन गांव पहुंचे तो आसपास के लोग बातों-बातों में उलझाए रहे। इस दौरान आधे जले शव को गायब कर दिया गया और सभी साक्ष्य को छुपाने की कोशिश की गई।

दोनों बच्चे को भी जान से मार देने का लगाया आरोप:-

मृतिका पम्मी कुमारी के भाई सुनील कुमार ने बताया कि थाने में आवेदन देने के उपरांत से ही लगातार दुरभाष पर बहनोई रामाशीष कुमार द्वारा दोनों बच्चे की जान से मारने की धमकियां दी जा रहा है। बोला जा रहा है कि केस को उठा लो वरना जैसे बहन को मार दिया हूं वैसे ही तुम्हारे भांजा भांजी को भी मार दूँगा। इधर मामा ने अपनी भांजा भांजी की सलामती के लिए पुलिस की मदद की मांग की है।

मृतिका के भाई ने पुलिस पर लगाया लापरवाही का आरोप:-

मृतका के भाई सुनील कुमार ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा कि मेरी बहन को मरे हुए दो दिन हो गया है और पुलिस किसी प्रकार की कार्रवाई नहीं कर रही। पुलिस मात्र एक बार ही मेरे साथ असमा गांव गई और प्राथमिक दर्ज के बाद पुलिस गांव जाना उचित नहीं समझी। पकरीबरावां एसडीपीओ एवं थानाध्यक्ष बार-बार चुनावी ड्यूटी का हवाला देते हुए किसी प्रकार की कार्रवाई करने से बच रहे हैं।

कहती है पुलिस:-

इस मामले में जानकारी मिली है। मायके पक्ष की तरफ से थाना में आवेदन के आधार पर प्राथमिकी दर्ज कर लिया गया है। आगे की कार्रवाई के लिए पुलिस छानबीन कर रही है। मामला क्या है कार्रवाई के बाद ही पता चल सकेगा। मुकेश कुमार साहा, पकरीबरांवा, पुलिस अनुमंडल पदाधिकारी।

swatva

Leave a Reply