‘कटोरा लेकर भीख मांग रहे नीतीश कुमार’

0
nitish kumar

पटना : शनिवार को प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में नीति आयोग की बैठक में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि हम राज्यहित से जुड़े मुद्दे उठाते रहे हैं। चाहे विशेष राज्य के दर्जे की मांग हो या फिर राज्यहित से जुड़े मुद्दे। हमारी सरकार विशेष राज्य की दर्जे की मांग हर फोरम पर उठती रही है। नीतीश की इस मांग के बाद सियासी बयान सामने आनी लगे हैं।

नीतीश के इस मांग पर निशाना साधते हुए कांग्रेस प्रवक्ता राजेश राठौड़ ने कहा कि मुख्यमंत्री जनता को ठगने के लिए विशेष राज्य का मामला उठाते हैं। प्रधानमंत्री और गृह मंत्री के साथ मुलाकात के वक़्त नीतीश जी ने विशेष दर्जा का मामला नहीं उठाया। विशेष दर्जे के मुद्दे पर ही नीतीश कुमार महागठबंधन से गए थे। अब विशेष दर्जा तो मिला नहीं, तो नैतिकता के आधार पर वे एनडीए को छोड़ें।

राजद नेता अबु दोजाना ने कहा कि नीतीश कुमार कटोरा लेकर भीख मांग रहे हैं। वे कहते हैं कि हम बिहार के हित के साथ समझौता नहीं करते है। उन्हें बताना चाहिए, क्या बिहार को विशेष दर्जा मिल गया? नीतीश कुमार ने भाजपा के साथ समझौता विशेष राज्य के दर्जे के लिए नहीं बल्कि कुर्सी के लिए किया है।

वहीं, राजद नेता विजय प्रकाशने कहा कि नीतीश कुमार विशेष दर्जा के नाम पर भीख मांग कर बिहार की बेइज्जती कर रहे हैं। नीतीश आज डबल इंजन की सरकार में हैं। जनता को दिग्भ्रमित करने की कोशिश नहीं करनी चाहिए। उन्हें तो पीएम के साथ बैठकर बिहार का हक़ ले लेना चाहिए।

इसको लेकर जदयू प्रवक्ता सुहेली मेहता ने कहा कि नीतीश कुमार का प्रयास सराहनीय है। केंद्र सरकार अगर हमारी मांग मान लेती है तो बिहार में उद्योग भी लगेंगे और बेरोजगारी भी दूर होगी। पूरे बिहार को केंद्र सरकार पर विश्वास है। बिहार का ख्याल जरूर रखा जाएगा।

भाजपा प्रवक्ता अखिलेश सिंह ने कहा कि बिहार ने केंद्र से झोला भर मांगा है और केंद्र ने बिहार को बोरा भरकर दिया है। बिहार के विकास के लिए नरेंद्र मोदी की सरकार प्रतिबद्ध है। बिजली, सड़क, पर्यावरण व स्वास्थ्य जैसे मुद्दों पर बिहार को काफी कुछ मिला है, पूर्वांचल और बिहार के विकास के लिए नरेंद्र मोदी प्रतिबद्ध हैं।

swatva

Leave a Reply