नहीं चलने देंगे रामायण एक्सप्रेस, संतों ने क्यों कहा ऐसा?

0

नयी दिल्ली : भगवान श्री राम से जुड़े तीर्थस्थलों की यात्रा कराने वाली आईआरसीटीसी की रामायण एक्सप्रेस को लेकर संत समाज भारतीय रेलवे पर भड़क उठा है। ट्रेन में वेटरों को साधुओं की वेशभूषा पहनाए जाने से साधु—संत काफी खफा हैं और उन्होंने इसे तुरंत ठीक न किये जाने पर रामयण एक्सप्रेस को नहीं चलने देने की चेतावनी दी है। ट्रेन का एक विडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है जिसमें यात्रा के दौरान वेटर संतों की तरह गेरुआ कपड़े पहने हुए यात्रियों को खाना परोस रहे हैं।

वेटरों के ‘संत लुक’ से भड़के साधु

उज्जैन स्थित स्वस्तिक पीठाधीश्वर और अखाड़ा परिषद के पूर्व महामंत्री डा.अवधेशपुरी महाराज ने इसके लिए रेल मंत्री अश्विन वैष्णव को भी एक चिट्ठी लिख कड़ी नाराजगी व्यक्त की है। ट्रेन में सर्विस देने वाले वेटरों की वेशभूषा तुरंत बदलने की मांग के साथ ही ऐसा न किये जाने पर रामायण एक्सप्रेस के परिचालन को बंद करा देने की चेतावनी भी दी गई है।

रेलमंत्री को कहा, शीघ्र करें सुधार

मालूम हो कि आईआरसीटीसी ने हाल ही में रामायण एक्सप्रेस ट्रेन शुरू की है। यह ट्रेन रामायण ​सर्किट के तहत तीर्थयात्रियों को अयोध्या, वाराणसी, जनकपुर समेत भगवान राम से जुड़े धार्मिक स्थलों की यात्रा कराती है। गेरुआ कपड़ों में वेटर द्वारा लोगों के जूठे बर्तन उठाने वाले वीडियो से संत समाज काफी मर्माहत फील कर रहा है।

swatva

Leave a Reply