ओमीक्रोन का कारण मुस्लिम शासकों की समलैंगिकता! अलअक्सा मस्जिद के इमाम के बयान से हड़कंप

0

सोशल मीडिया से…

इस्लाम की दुनिया के सबसे पवित्र अलअक्सा मस्जिद में एक इमाम ने ओमीक्रोन वायरस पर ऐसा विवादित बयान दिया है जिससे पूरे मुसलमान जगत में हड़कंप मच गया है। यरुशलम में फिलीस्तीन के इस्लामिक इमाम शेख इस्साम अमीरा ने कहा कि कोरोना का खतरनाक वेरिएंट ओमीक्रोन इसलिए फैला क्योंकि मुस्लिम शासकों ने समलैंगिकता को बढ़ावा दिया। उन्होंने यह भी कहा कि मुसलमानों को ऐसे शासकों के खिलाफ उठ खड़ा होना चाहिए।

डेल्टा वेरिएंट को इमाम ने भारतीय संस्करण कहा

यरुशलम में दिये इमाम के इस विवादित बयान का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब शेयर किया जा रहा है। इसमें इमाम यह कहता दिख रहा है कि मुस्लिम शासकों ने समलैंगिकता और नारीवादी संगठनों को बढ़ावा दिया। यही कारण है कि महामारी का भारतीय संस्करण और ओमीक्रोन तेजी से फैल रहा है। यहां डेल्टा वेरिएंट को इमाम ने कोरोना का भारतीय संस्करण कहा है।

यरुशलम में लोगों से विरोध में खड़े होने की अपील

वीडियो में साफ देखा जा रहा है ​कि इमाम लोगों के बीच खड़े होकर मुस्लिम शासकों के अलावा मीडिया पर भी ओमीक्रोन फैलाने का आरोप लगा रहा है। वह मीडिया को काफिर बताते हुए लोगों से इनके खिलाफ तथा उनपर ओमीक्रोन की विपत्ति लाने वाले मुसलमान शासकों के खिलाफ उठ खड़े होने को कह रहा है। वह बताता है कि हमारे पूर्वज नहीं जानते थे कि यह रोग क्या है, क्योंकि वे अनैतिक नहीं थे। लेकिन अब ऐसी बात नहीं रह गई है। अनैतिकता के कारण ही हम सब विपत्ति में हैं।

swatva

Leave a Reply