कर्जमाफी पर राहुल गांधी के दावे को उनके ही सीएम ने नकारा

0

नयी दिल्ली : किसानों की कर्जमाफी पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की उस समय भद पिट गई जब इस संबंध में उनके द्वारा दिये एक आंकड़े को उन्हीं की पार्टी के मुख्यमंत्री ने नकार दिया। किसानों से राहुल गांधी ने मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में वादा किया था कि वे महज दो दिनों में कर्जा माफ़ कर देंगे। मध्य प्रदेश, राजस्थान और छतीसगढ़ में कांग्रेस सरकार बन गयी, लेकिन राहुल गांधी का वादा पूरा नहीं हो पाया। अभी तक किसानों का कर्जा माफ़ नहीं किया गया। जब मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ से कर्जमाफी पर पूछा गया तो उन्होंने कहा कि 10 दिनों में भी कर्जमाफी संभव नहीं।

उधर इस मामले में आज मप्र के पूर्व सीएम और भाजपा नेता शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस पार्टी पर धोखाधड़ी का आरोप लगाया। हाल के चुनावी दौरों में राहुल गांधी ने फिर कर्जमाफ़ी पर दावा करना शुरू कर दिया कि कांग्रेस ने दो दिन में किसानों का कर्जा माफ़ कर दिया। शिवराज ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने किसानों के साथ छलावा किया। 2 लाख रुपये तक किसानों का कर्जा माफ़ करने का वादा किया गया था, लेकिन किसानों का कर्जा माफ़ नहीं किया गया।
दूसरी तरफ मध्य प्रदेश कांग्रेस सरकार के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी प्रेस वार्ता करके सफाई पेश की, उन्होंने कहा की 10 दिनों में कर्जमाफी संभव ही नहीं है। स्पष्ट है कि कमलनाथ ने राहुल गांधी को अपने बयान से झूठा साबित कर दिया। इस चुनाव में राहुल गांधी ने गरीबों के बैंक खाते में हर साल 72 हजार रुपये भेजने का वादा किया है। अब उनके इस नए वादे का क्या भरोसा करें, यह तो वक्त ही बताएगा।

Leave a Reply