देश और समाज को नई चेतना प्रदान करते हैं स्वामी विवेकानंद के विचार : अश्विनी चौबे

0

पटना : केंद्रीय पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन तथा उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने कहा कि भारत की सभ्यता, संस्कृति, संस्कार व स्वाभिमान के अमर स्वर के रूप में स्वामी विवेकानंद युगो युगांतर तक समाज एवं देश को नई दिशा प्रदान करते रहेंगे। उनका कृतित्व एवं व्यक्तित्व देश, खासकर युवा वर्ग के लिए एक प्रेरणा का स्रोत है। उनके विचार देश एवं समाज में चेतना जागृत करते हैं।

केंद्रीय राज्यमंत्री चौबे बुधवार को स्वामी विवेकानंद की जयंती पर राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर स्मृति न्यास, दिल्ली द्वारा “भारत के पुनर्जागरण में स्वामी विवेकानंद का योगदान” विषय पर आयोजित संगोष्ठी को वर्चुअल माध्यम से संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर केंद्रीय राज्यमंत्री चौबे ने कहा कि स्वामी विवेकानंद के विचार अमर रहेंगे। उनके द्वारा प्रस्तुत प्रत्येक शब्द युवाओं में प्रेरणा जागृत करता है। बदलते आधुनिक परिवेश में उनके द्वारा दिखाए गए मार्ग आज काफी प्रासंगिक है। भारत के पुर्नजागरण में उनके विचारों का मार्गदर्शन काफी जरूरी है।

उन्होंने देश और समाज में जागृति लाने का कार्य किया। आज केंद्र सरकार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में युवा कल्याण पर विशेष ध्यान दे रही है। युवाओं के समग्र विकास पर कार्य किया जा रहा है। स्वामी विवेकानंद को आदर्श मानकर उनके बताए रास्ते पर चलते हुए विश्व गुरु बनने की ओर देश अग्रसर है। कार्यक्रम की अध्यक्षता समाजवादी चिंतक शिव कुमार ने की। स्वागत भाषण संस्था के अध्यक्ष नीरज कुमार ने दिया। इस मौके पर प्रख्यात रंगकर्मी मुजीब खान के निर्देशन में स्वामी विवेकानंद के जीवन चरित्र पर नाटक का मंचन किया गया। ऑनलाइन बड़ी संख्या में लोगों ने इस नाट्य मंचन को देखा।

swatva

Leave a Reply