OBC आरक्षण पर सुमो- दस साल केंद्र की सत्ता में रहने के बाद भी लालू नहीं दिला सके न्याय

0

पटना : बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री व राज्यसभा सदस्य सुशील कुमार मोदी ने मेडिकल कालेज में दाखिले के ऑल इंडिया कोटा स्कीम (AIQ) के तहत यूजी और पीजी मेडिकल में ओबीसी वर्ग के छात्रों को 27 फीसद आरक्षण देने का ऐतिहासिक निर्णय करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया है।

सुमो ने कहा कि इसी शैक्षणिक सत्र से लागू होने वाले फैसले से हर साल पिछड़ा वर्ग एवं ईडब्लूएस के 5,550 छात्रों को इसका फायदा मिलेगा। भाजपा लगातार केंद्रीय कोटा में ओबीसी को आरक्षण देने की मांग करती रही। मैंने राज्य सभा के शून्यकाल में भी इसके लिए सरकार से मांग की थी।

अन्य ट्वीट में सुमो ने कहा कि आरक्षण का यह निर्णय पिछड़े, अतिपिछड़े और कमजोर आय वर्ग को आगे बढाने के लिए मोदी सरकार की गहरी प्रतिबद्धता का सूचक है। इससे पहले प्रधानमंत्री ने ओबीसी वर्ग के 27 सांसदों को मंत्री बनाकर उनका मान बढाया। पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा भी एनडीए सरकार ने ही दिया।

केंद्र द्वारा आरक्षण दिए जाने के बाद सुमो ने लालू प्रसाद यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने 2007 में मेडिकल एडमिशन के केंद्रीय कोटे में एससी-एसटी को तो आरक्षण दिया, लेकिन ओबीसी को वंचित रखा था। जिस यूपीए सरकार में लालू प्रसाद केंद्रीय मंत्री रहे या जिसे उनकी पार्टी का समर्थन था, वह दस साल सत्ता में रहने के बाद भी मेडिकल के केंद्रीय कोटा में ओबीसी को आरक्षण नहीं दिला पाई। एनडीए सरकार में कोई भी ताकत पिछड़ों की हकमारी नहीं कर सकती।

swatva

Leave a Reply