भारत के इस राज्य में एक नहीं, पांच—पांच उपमुख्यमंत्री?

0

नयी दिल्ली : भारत के इस राज्य ने सभी जाति—धर्म—समुदाय को प्रतिनिधित्व देने का अनोखा तरीका खोज निकाला है। यह राज्य है आंध्र प्रदेश जो देश का पहला ऐसा स्टेट होने जा रहा है, जहां एक नहीं, बल्कि पांच—पांच उपमुख्यमंत्री नियुक्त होंगे। यानी, आंध्र प्रदेश भारत का वह पहला राज्य होने वाला है जहां के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी ने पांच—पांच उप मुख्यमंत्री नियुक्त करने का फैसला लिया है।

आंध्र भारत में ऐसा करने वाला पहला राज्य

इस निर्णय के पीछे श्री रेड्डी ने जो तर्क दिये उसके अनुसार उन्हें जिन—जिन समुदायों और जातियों का खास समर्थन मिला है उन सभी को वे उचित सम्मान देना चाहते हैं। इसीलिए उन्होंने पांच उपमुख्यमंत्री नियुक्त करने का फैसला किया जो अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़ी जाति, अल्पसंख्यक और कापू समुदाय से होंगे।
आज अपने ​नवनिर्वाचित विधायकों के साथ बैठक में रेड्डी ने अपने फैसले की जानकारी देते हुए बताया कि देश में ऐसा पहली बार होगा कि किसी कैबिनेट में पांच उप मुख्यमंत्री होंगे। इन पांच लोगों में से दो पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू के लिए भी काम कर चुके हैं, जो पिछड़ी जाति और कापू समुदाय से हैं। रेड्डी ने यह भी बताया कि कल शनिवार को 25 मंत्रियों की कैबिनेट शपथ लेगी और ढाई साल बाद इसमें फेरबदल होगा। उन्होंने पार्टी विधायकों को लोगों की शिकायतों को प्रथमिकता से हल करने का निर्देश देते हुए कहा कि लोग उनके प्रदर्शन को करीब से देख रहे हैं। लोग पूर्व की सरकार और नई सरकार के बीच अंतर दिखाना चाहते हैं।

Leave a Reply