ABP-सी वोटर सर्वे : योगी का कोई तोड़ नहीं, यूपी, गोवा & उत्तराखंड में फिर खिलेगा कमल

2

नयी दिल्ली : 2021 में होने वाले पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में एक बार फिर भाजपा का कमल विरोधियों पर हावी होता दिख रहा। भाजपा तमाम उतार—चढ़ाव के बीच अभी से इन राज्यों में विरोधी दलों से कहीं बीस निकल गई है। यह खुलासा एबीपी न्यूज और सी-वोटर की तरफ से किए गए सर्वे में सामने आया है। चौंकाने वाली बात ये है कि यूपी में जहां योगी का डंका बिना किसी टक्कर के जमकर बज रहा है, वहीं उत्तराखंड और गोवा में भी भाजपा अपने विरोधियों पर भारी है। हालांकि मणिपुर में उसके बहुमत से थोड़ा कम रहने की संभावना है, जबकि पंजाब में बाजी आप के हाथ जाती दिख रही है।

बतौर सीएम योगी अन्य सभी से बहुत आगे

एबीपी न्यूज सी-वोटर की तरफ से किए गए सर्वे के मुताबिक यूपी, उत्तराखंड और गोवा में फिर से भाजपा की सरकार बनती दिख रही है। उत्तर प्रदेश में भाजपा को 41 फीसदी तो समाजवादी पार्टी को 32 और बसपा को 15 फीसदी वोट मिलने के आसार हैं। वहीं मुख्यमंत्री के तौर पर योगी आदित्यनाथ को 41 फीसदी के साथ लोगों ने नंबर वन पसंद के तौर पर बरकरार रखा है। सपा के अखिलेश यादव 31 और बसपा की मायावती 17 फीसदी लोगों की पसंद के साथ योगी से काफी पीछे चल रहे हैं।

यूपी में भाजपा को स्पष्ट बहुमत के संकेत

सीटों के लिहाज से अगर देखें तो भाजपा के खाते में 241 से 249 सीटें जा सकती हैं जबकि समाजवादी पार्टी के हिस्से में 130 से 138 और मायावती की बसपा 15 से 19 के बीच सीटें मिलने का अनुमान है। वहीं कांग्रेस 3 से 7 सीटों के बीच सिमट सकती है।

उत्तराखंड और गोवा में भाजपा की वापसी

सर्वे के अनुसार उत्तराखंड और गोवा में भी एक बार फिर भाजपा की ही सरकार बनेगी। उत्तराखंड में भाजपा को 45 फीसदी, कांग्रेस को 34 और आप को 15 फीसदी वोट मिल सकते हैं। सर्वे में अनुमान लगाया गया है कि यहां भाजपा को 42-46 सीटें, कांग्रेस को 21-25 और आम आदमी पार्टी को 0-4 सीटें मिल सकती हैं। वहीं गोवा के लिए किये गए सर्वे से पता चलाता है कि यहां भाजपा को 24 से 28 सीटें जबकि, कांग्रेस के खाते में सिर्फ 1 से 5 सीट आ सकती है। वोटों के लिहाज से देखें तो भाजपा को यहां 38 फीसदी तो कांग्रेस को 18 फीसदी तथा आप को 23 फीसदी मत मिलने के आसार हैं।

मणिपुर और पंजाब में उतार—चढ़ाव

सर्वे के अनुसार जहां मणिपुर में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभर सकती है, वहीं पंजाब में आम आदमी पार्टी सत्तारूढ़ कांग्रेस का बर्चस्व तोड़ती दिख रही है। मणिपुर में भाजपा को 21 से 25 सीटें आ सकती है। लेकिन सरकार बनाने के लिए उसे वहां उसे 4—6 सीटें कम पड़ सकती हैं। वोट के हिसाब से देखें तो भाजपा को मणिपुर चुनाव में 36 और कांग्रेस को 34 फीसदी वोट मिल सकते हैं।

swatva

2 COMMENTS

Leave a Reply