विश्व कैंसर दिवस पर इन स्थानों पर होगी निःशुल्क जाँच, पढ़िए लक्षण व बचाव के उपाय

0

कैंसर मरीजों की पहचान एवं उन्हें बेहतर उपचार की सुविधा प्रदान करने के उद्देश्य से 4 फरवरी यानी विश्व कैंसर दिवस पर राज्य के सभी स्वास्थ्य केन्द्रों में निःशुल्क जाँच शिविर का आयोजन किया जाएगा। इसको लेकर राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार ने सभी सिविल सर्जन को पत्र लिखकर दिशा निर्देश दिया है। पत्र के माध्यम से बताया गया है कि यह शिविर विश्व कैंसर दिवस यानि 4 फरवरी से 10 फरवरी तक समस्त स्वास्थ्य केन्द्रों में लगाया जाएगा।

हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर भी होगी निःशुल्क जाँच एवं परामर्श की सुविधा:

मनोज कुमार ने पत्र के माध्यम से बताया है कि सभी जिलों के जिला अस्पतालों, अनुमंडल अस्पतालों/ रेफ़रल अस्पतालों एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों/ अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों एवं हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर कैंसर जाँच एवं परामर्श शिविर का आयोजन होगा। इस दौरान यहाँ आने वाले लोगों की कैंसर की जाँच की जाएगी। साथ ही कुछ सामन्य कैंसर जैसे ब्रैस्ट कैंसर एवं मुँह के कैंसर इत्यादि के संभावित कारणों, लक्षणों एवं उससे बचाव के लिए जरुरी परामर्श भी दिए जाएंगे।

संभावित मरीजों को बेहतर उपचार के लिए किया जाएगा रेफर:

शिविर के दौरान चिकित्सकों द्वारा सामान्य कैंसर रोगियों की पहचान की जाएगी। संभावित कैंसर मरीज को बेहतर उपचार के लिए पटना स्थित महावरी कैंसर अस्पताल, इंदिरा गाँधी आयुर्विज्ञान संस्थान, पटना मेडिकल कॉलेज एंड अस्पताल एवं एम्स में रेफर किया जाएगा।

ये हैं कैंसर के संकेत:

• शरीर के किसी अंग में असामन्य सूजन का होना
• तिल या मस्सों के आकार या रंग में परिवर्तन
• लगातार बुखार या वजन में कमी
• घाव का लंबे समय से नहीं भरना
• 4 हफ्ते से अधिक समय तक आकरण दर्द का रहना
• मूत्र विसर्जन में कठिनाई या दर्द का होना
• शौच से रक्त निकलना
• स्तन में सूजन या कड़ापन का होना
• 3 सप्ताह से अधिक लगातार खाँसी या आवाज का कर्कश होना
• असामान्य रक्त प्रवाह या मासिक धर्म के बाद भी योनी से रक्त का निकलना

बचाव के उपाय:

• ध्रूमपान एवं तम्बाकू का सेवन नहीं करें
• भोजन में फ़ल एवं सब्जियों का अधिक उपयोग करें
• शरीर के वजन को संतुलित रखें
• नियमित शारीरिक व्यायाम करें

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार:

• कैंसर मौत का दूसरा बड़ा कारण है। वर्ष 2018 में विश्व भर में 96 लाख लोगों की मृत्यु कैंसर के कारण हुयी।
• लगभग 33% कैंसर के कारण होने वाली मौतों के पीछे 5 प्रमुख व्यवहार एवं आहार संबंधी कारण जुड़े होते हैं। जिसमें बॉडी मॉस इंडेक्स का बढ़ जाना, फ़ल एवं सब्जी का कम इस्तेमाल करना, शारीरिक व्यायाम में कमी एवं शराब के साथ तम्बाकू इस्तेमाल करना शामिल है।
• तम्बाकू इस्तेमाल से 22% कैंसर रोगियों की मौत होती है।

Leave a Reply