26 मार्च : वैशाली की मुख्य ख़बरें

0
vaishali news

ग्रामीणों ने गांव को किया बैरिकेड

वैशाली : भगवानपुर प्रखंड के किरतपुर गाव में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए पूरे गांव ग्रामीणों ने बैरिकेड कर दिया है। ताकि बाहरी लोगों गांव में न आ सके। मालूम हो कि प्रखंड के किरतपुर गांव को चारों तरफ से बैरिकेडिंग कर गाव को शील कर दिया गया है। किसी भी बाहरी आदमी को आने पर प्रतिबंधित कर दिया गया है वैसे लोग जो बाहर से आएंगे उनके लिए मेडिकल चेकअप की व्यवस्था की गई है मेडिकल चेकअप के बाद ही वे गांव में प्रवेश कर सकते हैं। वैशाली जिला नागरिक विकास परिषद के अध्यक्ष केदार प्रसाद यादव के द्वारा गाव को सीलबंद किए जाने एवं मेडिकल जांच की व्यवस्था कराए जाने की घोषणा से पूरे गांव सहमत हैं पूरे ग्रामीण मिलकर किसी भी बाहरी आदमी को गांव में प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है।

युद्ध स्टार पर किया जा रहा 10,000 लीटर सैनिटाइजर का उत्पादन

वैशाली : सरकार एवं जिला प्रशासन के निर्देशानुसार जंदाहा प्रखंड के बसंतपुर पंचायत के भगवानपुर धधुआ गांव स्थित ग्लोबस स्पिरिट्स लिमिटेड कारखाना में सैनिटाइजर के निर्माण का कार्य जारी कर दिया गया है। मालूम हो कि कोरोनावायरस को लेकर सरकार एवं प्रशासन द्वारा इससे बचाव एवं सुरक्षा को लेकर कई महत्वपूर्ण निर्देश जारी किए गए हैं सरकारी निर्देश के अनुसार कोरोना वायरस से सुरक्षा को लेकर सभी लोगों को मास्क एवं सेनीटाइजर का उपयोग सुनिश्चित किया गया है। वही एक दूसरे से दूरी बनाकर रखने की चेतावनी दी गई है।

सरकार के निर्देश के आलोक में सुरक्षा के दृष्टिकोण से लोग मास्क एवं सैनिटाइजर मुहैया कराने की मांग कर रहे हैं। वहीं बाजार में मास्क एवं सेनीटाइजर उपलब्ध नहीं हो पा रहा है। नतीजतन सरकार एवं जिला प्रशासन द्वारा वैकल्पिक व्यवस्था के तहत जंदाहा प्रखंड के बसंतपुर पंचायत के ददुआ गांव स्थित ग्लोबस स्पिरिट्स लिमिटेड कारखाना में सैनिटाइजर का निर्माण किए जाने का निर्देश दिया गया है। प्रशासनिक निर्देश के आलोक में कारखाना में सैनिटाइजर का उत्पादन किए जाने को लेकर युद्ध स्तर पर कवायद जारी कर दी गई है।

इस मामले में पूछे जाने पर कारखाना के उपाध्यक्ष दीपक सरोहा जनरल मैनेजर प्रोडक्शन एके राय जनरल मैनेजर प्रशासन प्रीतम सिंह आदि कारखाना के अधिकारियों ने बताया कि जिला पदाधिकारी वैशाली द्वारा कारखाना में सैनिटाइजर का उत्पादन किए जाने का निर्देश दिया गया है। अधिकारियों ने बताया कि जिला पदाधिकारी के निर्देश के आलोक में सैनिटाइजर के उत्पादन को लेकर राज्य औषधि नियंत्रण कार्यालय से सैनिटाइजर निर्माण को लेकर उन्हें लाइसेंस प्राप्त कराया गया है। उन्होंने बताया कि कोरोनावायरस से लेकर देश में मची तबाही के मद्देनजर प्रशासनिक आदेश एवं जनहित में कारखाना कर्मियों द्वारा युद्ध स्तर पर सैनिटाइजर उत्पादन किए जाने का प्रयास जारी कर दिया गया है।

बताया गया है कि कारखाना में 85,000 लीटर वर्तमान में प्रतिदिन स्परिट निर्माण किए जाने का क्षमता है जबकि कारखाना में अधिकतम प्रतिदिन 120000 लीटर सैनिटाइजर का निर्माण किया जा सकता है। बताया गया है कि वर्तमान में कारखाना के पास लगभग 700000 लीटर एस्प्रीत एवं मटेरियल उपलब्ध है जिससे सैनिटाइजर का निर्माण किया जा सकता है बताया गया है कि सैनिटाइजर के निर्माण में स्प्रिट के अलावा ग्लिसरीन एवं हाइड्रोजन पराक्साइड की आवश्यकता होती है जिसकी व्यवस्था जारी है बताया गया है कि कारखाना में कम से कम 25 लीटर सेनीटाइजर का पैकिंग किया जाएगा। क्योंकि, कारखाना में बोतल इन प्लांट उपलब्ध नहीं है जिससे कम मात्रा में सैनिटाइजर का उत्पादन संभव नहीं है बताया गया है कि प्रशासनिक दृष्टिकोण से सैनिटाइजर की आपूर्ति हेतु ड्राम की व्यवस्था की जा रही है साथ ही जिला प्रशासन द्वारा तत्काल 10,000 लीटर सैनिटाइजर की आपूर्ति किए जाने का निर्देश प्राप्त हुआ है अधिकारियों द्वारा बताया गया कि इनके कारखाना में उत्पादित किए गए सैनिटाइजर की आपूर्ति सरकार एवं किसी लाइसेंस धारी ट्रेडर्स को भी की जा सकती है तथा अन्य स्थानों पर सैनिटाइजर को कम मात्रा में पैकिंग कर आपूर्ति किया जा सकता है।

डीपीएस सराय के प्रबंधक ने आइसोलेशन वार्ड बनाने के लिए की पेशकश

  •  आइसोलेशन वार्ड बनाने के लिए प्रशासन को लिखा पत्र

वैशाली : कोरोना वायरस को लेकर उत्पन्न हुई आपातकालीन समस्या को ले डीपीएस सराय के प्रबंधक राजू खान ने अपना स्कूल के 25 कमरों को आइसोलेशन वार्ड बनाने के लिए सरकार से पेशकश की है। इसके लिए इन्होंने जिला प्रशासन को एक पत्र लिखा है। दिल्ली पब्लिक स्कूल के निदेशक राजू खान ने वैशाली जिले अधिकारी और सदर अनुमंडलाधिकारी को दिये गये पत्र में कहा गया कि दिल्ली पब्लिक स्कूल अपने 25 कैमरे वाला भवन कोरोना वायरस से पीड़ितो के लिये सरकार को देने की बात कही।

उन्होंने कहा कि दिल्ली पब्लिक स्कूल सराय अपने स्कूल के 25 कमरों के साथ आवश्यकता अनुसार अपने स्टाप को कोरोना वायरस के मरीजों की सेवा के लिये उपलब्ध कराएगी। खान ने कहा कि आवश्यकता पड़ने पर दिल्ली पब्लिक स्कूल चिकित्सा केंद्र पर आने वालों के लिये भोजन की व्यवस्था करेंगी। उन्होंने कहा कि इस विषम परिस्थिति में दिल्ली पब्लिक स्कूल परिवार अपने देश वासियों के साथ खड़ा हैं। उन्होंने कहा कि स्कूल परिवार अपने तरफ से व हर संभव सहयोग करेंगी को एक नागरिक को करना चाहिए।

दिलीप कुमार सिंह

swatva

Leave a Reply