9 अक्टूबर : सारण की मुख्य ख़बरें

0
chhapra news

गश्त के दौरान मिली लड़की को आरपीएफ ने चाइल्डलाइन को सौपा

सारण : छपरा एएसआई आरपीएफ छपरा पूनम पाठक और  कांस्टेबल रामजी यादव ने बीती रात छपरा रेलवे स्टेशन परिसर पर औचक गश्त की। गश्त के दौरान उन्होंने देखा की एक लड़की स्टेशन के प्लेटफार्म नम्बर एक पर लगेज मशीन के बाहर सर्कुलेटिंग एरिया में डरी-सहमी खड़ी थी। लड़की ने पुलिस को देख छुपने का प्रयास की जिसपर उसके पास जाकर पूछताछ की गई।

स्टेशन पर अकेली एवं छुपने का कारण पूछागया, तो लड़की ने अपना नाम लक्ष्मी कुमारी और अपने पिता का नाम सवालिया साह बताया, जो कादीपुर की रहने वाली है। लड़की को आरपीएफ की देखरेख में चाइल्डलाइन छपरा के सुषमा देवी विटी को मौके पर बुलाकर लड़की को सौप दिया गया।

संघ सेवकों ने किया पथ संचालन

सारण : छपरा राष्ट्रीय संघ सेवक के द्वारा जिला मुख्यालय स्थित मारुति मानस मंदिर से विजयादशमी के अवसर पर पथ संचालन कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जो मानस मंदिर से निकलकर राजेंद्र सरोवर, नगरपालिका चौक, सुनार पट्टी, गांधी चौक, कटहरी बाग, साहेबगंज, थाना चौक, डाक बंगला रोड होते हुए पुनः मानस मंदिर पहुंचा जहां शाखा लगाकर शस्त्र पूजन के बाद विभाग कार्यवाहक रजनीश शुक्ल ने सेवकों को संबोधित किया है और उन्होंने बताया कि संघ कई उत्सव मनाता है। जिसमें विजयादशमी भी एक महत्वपूर्ण उत्सव है। संघ की स्थापना 1925 के बाद यह लगातार होता रहा है। जहां सैकड़ों की संख्या में संघ सेवकों ने हिस्सा लिया तथा कार्यक्रम के अंत में प्रसाद वितरण कर सखा का समापन किया गया।

क्लब ने रावण वध देखने आए श्रधालुओ के लिए लगाया प्याऊ

सारण : रोटरी क्लब छपरा और रोटरेक्ट क्लब छपरा सिटी द्वारा प्रत्येक वर्ष की भांति इस साल भी रावण वध देखने आए श्रद्धालुओं के लिए डाक बंगला रोड में प्याऊ लगाया गया।  जिसका संचालन  रोटरी छपरा के अध्यक्ष डॉ बीके सिन्हा ने किया और कहा कि पिछले कई साल से इस तरह के आयोजन रोटरी सदस्य करते आये है और आगे भी ये सेवा रोटरी क्लब करती रहेगी।

सचिव अमरेंद्र कुमार सिंह ने कहा कि रावण वध देखने बहुत दूर दूर लोग से आते है और स्टेडियम में पानी की कोई व्यवस्था नहीं रहता है। इसलिए हम सभी आगंतुको को पानी पिलाने का काम करते है। इस मौके पर कार्यक्रम में सहयोग करने वालों में रोटेरियन मृदुल शरण, रोटेरियन शहजाद आलम, रोटेरियन जीनत जरीन मशीह, रोटेरियन वीणा शरण, रोटेरियन हिमांशु ,आरसीसी प्रेसिडेंट पवन सिंह, रोट्रैक्टर अभिषेक जयसवाल, रोट्रैक्टर आजाद, रोट्रैक्टर मोनू, राजा बाबू शहजाद, संकेत रवि मसूद आलम, अभिषेक कुमार सिंह, रणधीर रंजन, प्रकाश कुमार, भी शामिल थे। देर रात तक प्याऊ के जरिए लोगों को पानी उपलब्ध कराया गया।

जलजमाव से परेशान लोगो ने किया सड़क जाम

सारण : छपरा शहर के करीब चौक राहत रोड चौराहे पर स्थानीय लोगों के द्वारा लगातार नाली का पानी और जलजमाव को लेकर टायर जलाकर सड़क जाम कर दिया तथा नगर निगम और जिला प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की।

सड़क जाम होने के कारण पैदल, साइकिल और मोटरसाइकिल से चलने वाले राहगीरों को भारी मुसीबत का सामना करना पड़ा। प्रदर्शनकारियो का कहना है कि उन्होंने लगातार जिला प्रशासन से नाली की मरम्मत व जलजमाव के लिए अनुरोध की है पर इस पर कोई कार्रवाई नहीं की गई। पूरे नवरात्र राहगीर व मोहल्ला वासियों ने नवरात्रि की पूजा नाली के पानी में चलकर की है। इससे उग्र मोहल्ला वासियों ने आज यह सड़क जाम कर प्रदर्शन किया।

20 बार रक्तदान करने वाली रचना को राष्ट्रीय युवा गौरव सम्मान

सारण : छपरा जिले की रक्त वीरांगना नाम से प्रसिद्ध रचना पर्वत को आगामी 13 अक्टूबर को राष्ट्रीय युवा गौरव सम्मान से सम्मानित किया जाएगा।  रचना शहर के प्रभुनाथ नगर निवासी रामानंद पर्वत व फुलमती देवी की पुत्री स्थानीय फेस ऑफ फ्यूचर इंडिया के सक्रिय सदस्य है, जो अब तक 20 बार रक्तदान कर चुकी है। जिसको लेकर रचना को राष्ट्रीय युवा गौरव सम्मान से सम्मानित किया जाएगा।

वही रचना के बारे में बताया जाता है कि बहुमुखी प्रतिभा की युवती हैं जो फेस आंफ फिउचर के साथ ही राष्ट्रीय स्तर से लेकर कई अन्य क्षेत्रों से सम्मान पा चुकी है। जिसमें वेटलिफ्टिंग में राष्ट्रीय स्तर के वेटलिफ्टर चैंपियनशिप भी घोषित की जा चुकी है। वही रचना फेस पिक्चर द्वारा आयोजित नोडल  बस्ती में स्थापित शिक्षा केंद्रों पर मुफ्त में शिक्षा देती हैं। दिल्ली में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों में मुख्य अतिथि भारत सरकार युवा खेल मंत्री किरण रिजुजी, सामाजिक न्याय मंत्री रामदास अठावले, गृह राज्य मंत्री किरण रेड्डी मिजोरम के पूर्व राज्यपाल अमलोक रत्न कोहली जैसे अतिथियों का उपस्थिति रहेगा।

वही इस सम्मान को लेकर रचना को कई सामाजिक संगठनों के लोग तथा संस्था से जुड़े गोरिया कोठी के प्राचार्य डॉ परमेंद्र रंजन, फेस ऑफ फ्यूचर के मंटू कुमार यादव, रंजीत कुमार सोनाली सिन्हा, रश्मि ऋतुराज, प्रियंका कुमारी, लवली भारती, शालू जायसवाल, मनीषा कुमारी, रोशनी श्रीवास्तव, नेहा, सृष्टि, इंजीनियर राम दुलार माझी सहित सैकड़ों लोगों ने बधाई दी।

सारण महिला कबड्डी टीम ने जीता सारण चैंपियंस ट्रॉफी

सारण : रविवार को सारण जिला कबड्डी संघ के दिशानिर्देश में माँ यूथ ऑर्गेनाईजेशन द्वारा बीआर सेंट्रल स्कूल, अरवा में महिला कबड्डी की पहली “सारण चैंपियंस ट्रॉफी” आयोजित हुई। कार्यक्रम का शुभारंभ महिला नेत्री प्रियंका सिंह, समाजसेवी आनन्द शंकर, मुखिया रमावती देवी, मुकेश यादव, राठौर जया सोनल व रिंकि मिश्रा द्वारा किया गया। प्रतियोगिता में सारण की चार प्रमुख महिला टीमों-छपरा, नरांव, मशरख एवं तेलपा ने भाग लिया जिसमें फाइनल में छपरा ने नरांव को पराजित कर जीत हासिल की।

समापन अवसर पर मुख्य अतिथि महाराजगंज के सांसद श्री जनार्दन सिंह सिग्रीवाल परमेंद्र सिंह एवं विशिष्ट अतिथि विधायक जितेन्द्र राय ने विजेता टीम को इनाम देकर सम्मानित किया। कबड्डी प्रतियोगिता में दिवसीय प्रतियोगिता में खिलाड़ियों ने अपने जौहर दिखाकर आए हुए दर्शकों का मन मोह लिया। सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल ने खिलाड़ियों एवं दर्शकों को संबोधित करते हुए कहा कि खिलाड़ी खेल को खेल की भावना से खेलें। खेलों से भाईचारे एवं प्यार प्रेम का बढ़ावा मिलता है। यही एक विधा है जिसमें सब मिलकर रहते है। ग्रामीण क्षेत्रों में ऐसे आयोजन करने से कबड्डी की लोकप्रियता तो बढ़ेगी ही साथ ही में महिलाओं की आत्मशक्ति बढ़ेगी।विधायक जितेन्द्र राय ने खेल कमेटी का धन्यवाद करते हुए कहा कि गांवों में इस प्रकार के खेल आयोजित होने चाहिए, जिससे रास्ता भटक चुके युवाओं को सही मार्ग दर्शन मिल सके।

मौके पर खिलाड़ियों की हौसला अफजाई करते हुए सारण जिला कबड्डी संघ के सचिव सुरेश प्रसाद सिंह ने बधाई दी। उन्होंने कहा कि कबड्डी खेलने से युवाओं व बच्चों का सर्वांगीण विकास होता है। एक ओर जहां इस खेल से सांस की बीमारी दूर रहती है, वहीं शरीर भी मजबूत बनता है। दूसरी ओर, इसके माध्यम से बच्चों में टीम स्पिरिट की भावना बढ़ती है। बताया कि प्राचीनकाल में ऋषियों व मुनियों के गुरुकुल में भी कबड्डी खेली जाती थी। ये शिष्यों के शारीरिक व्यायाम के लिए फायदेमंद मानी जाती थी। आज के दौर में तो इसके प्रसार के लिए कबड्डी प्रीमियर लीग भी होने लगे हैं। जहां देश के कोने-कोने के खिलाड़ी अपना कौशल दिखा रहे हैं।

खेल आयोजन में ऑफिसियल के रूप में पंकज कश्यप, निगम कंसल, राकेश कुमार सिंह, सुशील सिंह, मोहित कुमार, रामबाबू पंडित, सूरज कुमार आदि थे। इस प्रतियोगिता में राजेश तिवारी, धर्मेन्द्र यादव, सारण जिला कबड्डी संघ के संरक्षक डॉक्टर देव कुमार सिंह, सौरभ पाण्डेय, एडुकेअर, छपरा के मुकेश सिंह, सेंट माइकल्स स्कूल के अमित सिंह भारतीय, रोटी बैंक, परमात्मा मिश्रा आदि ने भी खिलाड़ियों को प्रोत्साहित किया। कार्यक्रम के आयोजन में संजीत राय, सुबोध सिंह, निशान्त परमार, राजेश यादव, अजित राय आदि की प्रमुख भूमिका रही। बीआर सेन्ट्रल स्कूल इस आयोजन का मुख्य प्रायोजक था।

swatva

Leave a Reply