14 जनवरी : सारण की मुख्य ख़बरें

0

गुलाब का फुल देकर किया गया 30वें राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह का शुभारंभ

सारण : छपरा यातायात पुलिस उपाधिक्षक इंद्रजीत बैठा ने थाना चौक से दोपहिया और चार पहीयाँ वाहनो पर सड़क सुरक्षा जीवन रक्षा के स्टीकर लगवाकर, विना हेमलेट वाहन चालकों को गुलाब का फुल देकर 30वें राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह का शुभारंभ किया। सड़क सुरक्षा सप्ताह की थीम ’’ सड़क सुरक्षा-जीवन रक्षा’’ रखी गई है।  यातायात पुलिस उपाधीक्षक इंद्रजीत बैठा सर ने कहा कि सड़क सुरक्षा सप्ताह के तहत आम लोगों में दुर्घटनाओं से बचने, यातायात नियमों का पालन करने के लिए जन जागृृति के प्रयास किए जाएं।

दुर्घटनाग्रस्त व्यक्ति को मानवीयता के आधार पर चिकित्सा सुविधा सुलभ करवावें।  यातायात दरोगा राजेश कुमार सिंह ने कहा कि सड़क सुरक्षा सप्ताह की सार्थकता इसी में है कि लोग दुर्घटनाओं को रोकने व दुर्घटनाओं से बचने के लिए यातायात नियमों के प्रति जागरूक हो और इनकी पालना करें। सड़क सुरक्षा अभियान में मेलोड्रामा वेलफेयर सोसायटी, रोटी बैंक,लियो कल्ब टाउन आदि सामाजिक एवं स्वयं सेवी संस्थाओं का सहयोग रहा।

कार्यक्रम आयोजनकर्ता श्री चंदन कुमार  दूबे ने लगभग 300 गाड़ियों पर सड़क सुरक्षा की स्टीकर लगातार गुलाब भेंट किया और बताया कि सड़क सुरक्षा सप्ताह के तहत जिले के अंदर, यातायात कानूनों की जानकारी देने ,बिना नम्बर वाहनों पर नम्बर अंकित करवाने, अलर्ट जोन में लगे जाब्ता नियमों की जानकारी देने आदि से जुड़ी विभिन्न गतिविधियां आयोजित की जाए।

इस दौरान विभिन्न काॅलेजों व स्कूलों में सड़क सुरक्षा विषय पर वाद विवाद प्रतियोगिता भी आयोजित की कराई जाए,सारण की सभी जनता से अपील हेमलेट जरूर लगाएँ कहा, वही अर्जुन सिंह ने कहा कि आज के दौर में सड़क हादसों में काफी लोग अपनी जान गंवा रहे हैं। जिंदगी अनमोल है। दुपहिया वाहन चलाते समय हेलमेट लगाना अति आवश्यक है और कार चलाते समय सीट बेल्ट का प्रयोग भी अवश्य करना चाहिए। तभी हादसों से बचा जा सकता है। उन्होंने सभी को नियमों का पालन करने की प्रेरित किया।

इस दौरान रिफलेक्टर व सडक सुरक्षा सम्बन्धी सामग्री का वितरण किया । काॅलेज व स्कूल में सडक सुरक्षा कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। साथ ही यातायात निरीक्षक यातायात नियमों का उल्लघंन करने वालों के खिलाफ कार्यवाई हो

इस कार्यक्रम में अहम भूमिका में अशिष कुमार,अमरेश सिंह,संतोष सेनानी , दिवेश दिवेदी,अनुराग कुमार, कमाल असरफ,बलवंत सिंह,शशि सिंह,.राजेश तिवारी ,रविशंकर उपाध्याय जी अली अहमद के अलावा अन्य लोग मौजूद थे

परीक्षा की तिथि में बदलाव के लिए कुलपति को दिया आवेदन

सारण : छपरा अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने आज 14 जनवरी को जयप्रकाश विश्वविद्यालय के कुलपति को आवेदन देकर स्नातक तृतीय वर्ष सत्र 2015-18 एवं 2016-19 के होने वाले परीक्षा के तिथि में बदलाव करने की मांग की।

निवर्तमान छात्रसंघ अध्यक्ष रजनीकांत सिंह ने बताया कि विश्वविद्यालय द्वारा जारी परीक्षा तिथि में 19 जनवरी को दोनों पालियो में परीक्षा होना है वहीं 19 जनवरी को ही बिहार सरकार द्वारा पूरे बिहार में “जल-जीवन हरियाली” को लेकर मानव श्रृंखला का आयोजन किया गया है।

जिसमे सभी सरकारी, गैर सरकारी स्कूल, कॉलेज एवं पदाधिकारी मौजूद रहेंगे और उस दिन आवागमन भी बाधित रहेगा ऐसे में परीक्षार्थियों को अपने सेंटर पर पहुंचने में काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है अतः छात्र हित को ध्यान में रखते हुए अभाविप ने 19 जनवरी रविवार को होने वाले परीक्षा तिथि में बदलाव कर किसी दूसरे दिन कराने का आग्रह किया।

डीएम ने की मानव श्रृंखला की तैयारियो की समीक्षा

सारण : छपरा जिलाधिकारी सुब्रत कुमार सेन के अध्यक्षता में मानव श्रृंखला की तैयारी की समीक्षा बैठक समाहरणालय सभागार मे अयोजित कि गई जहां जलवायु परिवर्तन से मानव जीवन के प्रभाव को ध्यान में रखकर सरकार के द्वारा जल-जीवन-हरियाली का अभियान चलाया गया है।

मानव श्रृँखला इन्ही विषयां पर केन्द्रीत है। मानव श्रृँखला में ज्यादे से ज्यादे लोग सहभागी बने और पर्यावरण की रक्षा का प्रयास करें। जल संरक्षण और वृक्षारोपण इसके दो महत्वपूर्ण अंग है। जिलाधिकारी ने कहा कि लोग स्वेच्छा से हर्षोल्लास के साथ मानव श्रृंखला में भाग ले। इसका भविष्य में व्यापक प्रभाव देखने को मिलेगा।

जिलाधिकारी ने कहा कि मानव श्रृँखला 19 जनवरी को दिन में 11ः30 बजे से 12ः00 बजे तक बनेगी। इसके लिए पेयजल की व्यवस्था, मेडिकल टीम, फर्स्टएड की व्यवस्था रखनी होगी। कहीं किसी को परेशानी नहीं को यह भी देखना होगा। इसके लिए जिला स्तर पर नियंत्रण कक्ष की व्यवस्था की जाएगी।

अनुमण्डल सोनपुर और मढ़ौरा में भी नियंत्रण कक्ष बनाने का निदेश दिया गया। जिलाधिकारी ने कहा कि पटना से छपरा की ओर आने वाली मुख्य पथ पर बाँयी ओर श्रृँखला बनेगी। सभी अनुमण्डल पदाधिकारी और वरीय पदाधिकारीयों को निदेश दिया गया कि मार्गो को घुम कर एक बार देख लें और साफ-सफायी की व्यवस्था कराये। इस संबंध में नगर आयुक्त को भी निदेश दिया गया।  पुलिस अधीक्षक श्री हर किशोर राय ने कहा कि सभी थाना प्रभारी चौकीदार के साथ बैठक कर लें और सुरक्षा का माहौल बनाएँ निदेश दिया गया है।

सीएए पर डरने की कोई जरुरत नहीं : आरसीपी सिंह

सारण : राज्यसभा सांसद एवं जदयू के राष्ट्रीय महासचिव आरसीपी सिंह ने सोमवार को नागरिकता कानून को लेकर ट्वीट करने वालों को आड़े हाथों लिया। ट्वीट करने वालों पर तंज भी कसा तथा कहा कि कोई कानून संसद से पारित होता है, तो वो कानून पूरे देश में लागू होता है।

सांसद आरसीपी सोमवार को मांझी विधानसभा के बूथ अध्यक्ष तथा सचिवों के सम्मेलन को जलालपुर के बसडीला में संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि नागरिकता कानून से गुमराह होने की जरूरत नहीं है। कानून में कहीं भी नागरिकता लेने की बात नहीं कही गई है।

अफगानिस्तान, पाकिस्तान तथा बांग्लादेश से आए धार्मिक उत्पीडि़त लोगों को ही नागरिकता देने की बात है। सांसद ने अफवाह मास्टरों से सावधान रहने की जरुरत जताई जो लोग लोकसभा चुनावों में कह रहे थे कि आरक्षण खत्म हो जाएगा वो पार्टी आरक्षण बढ़ाने के लिए राज्यसभा में वोटिंग के दौरान उस पार्टी के चार में से एक सांसद मौजूद रहते हैं।

सांसद ने कार्यकर्ताओं से कहा कि बूथों के जीतने के बाद ही चुनाव जीता जा सकता है। सारण प्रमंडल की सभी 24 सीटों को जीतने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार कार्यकर्ताओं के सलाह-मशविरा से ही योजनाओं को लागू कराते है। आने वाले वर्षों में प्रिपेड कार्ड के आधार पर बिजली शुल्क जमा करने, शराबबंदी, सात निश्चय योजना, दहेजबंदी, हरियाली योजना इन सबके उदाहरण हैं।

जहानाबाद की जीविका दीदी के सलाह पर ही शराबबंदी की गई।  मांझी के 298 बूथों के अध्यक्ष तथा सचिव अपने-अपने गांव में नीतीश कुमार के चेहरे है। प्रत्येक बूथों का भौतिक सत्यापन के बाद ही अध्यक्ष तथा सचिव का चुनाव हुआ है।अ ब चुनाव में जदयू किसी बूथ पर पीछे नहीं हटेगी।

मिशन परिवार विकास पर जागरूकता के लिए निकाली गई रैली

सारण : छपरा जिले में मिशन परिवार विकास अभियान की शुरुआत की गयी। इसको लेकर सदर अस्पताल परिसर से एएनएम स्कूल के छात्राओं द्वारा जागरूकता रैली निकाली गयी। रैली को सिविल सर्जन डॉ. माधवेश्वर झा ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

इस दौरान छात्राओं ने परिवार नियोजन को लेकर हम दो हमारे दो, बच्चे दो हीं अच्छे, छोटा परिवार सुखी परिवार जैसे नारे लगाये। रैली के माध्यम से लोगों को परिवार नियोजन के बारे में जागरूक किया गया। रैली सदर अस्पताल से निकलकर डाकबंगला रोड, डीएम आवास रोड, शिशु पार्क राजेंद्र स्टेडियम होते हुए पुन: अस्पताल में पहुंचकर समाप्त हो गया।

इस मौके पर सिविल सर्जन डॉ. माधवेश्वर झा ने कहा जिले में मिशन परिवार विकास अभियान शुरूआत की गयी है,  जो 31 जनवरी तक चलेगा। यह अभियान दो चरणों में पूर्ण होगा। अभियान के तहत 14 से 20 जनवरी तक दंपति संपर्क सप्ताह मनाया जाएगा। इस दौरान आशा घर-घर जाकर योग्य दंपतियों से मिलेंगी एवं उन्हें परिवार नियोजन के साधनों के विषय में जानकारी देंगी. अभियान के दौरान वर्ष 2019 में जनवरी से दिसम्बर माह तक के परिवार नियोजन कार्यक्रम के तहत वार्षिक पुरस्कार समारोह का आयोजन होगा। इसमें बेहतर प्रदर्शन करने वाले स्वास्थ्य संस्थान, सेवा प्रदाताओं एवं उत्प्रेरकों को पुरस्कृत किया जाएगा।

21 से 31 जनवरी तक परिवार नियोजन सेवा सप्ताह :

21 से 31 जनवरी तक परिवार नियोजन सेवा सप्ताह का आयोजन किया जाएगा। दंपति संपर्क पखवाड़े के दौरान आमजन में जागरूकता लाने के लिए सही उम्र में शादी, शादी के बाद कम से कम 2 साल के बाद पहला बच्चा, दो बच्चों में कम से कम 3 साल का अंतराल एवं प्रसव के बाद या गर्भपात के बाद परिवार नियोजन के स्थायी एवं अस्थायी साधनों पर ज़ोर दिया जाएगा। वहीँ परिवार नियोजन सेवा सप्ताह के दौरान प्रथम रेफ़रल इकाइयों में नसबंदी शिविर का आयोजन किया जाएगा।

प्रसव के बाद महिला नसबंदी एवं कॉपर- टी पर विशेष ध्यान :

संस्थागत प्रसव के बाद लगभग 60% एवं सुरक्षित गर्भपात के बाद लगभग 90% दम्पतियों में परिवार नियोजन के लिए मांग है। इसे ध्यान में रखते हुए प्रसव के बाद महिला नसबंदी एवं कॉपर- टी संस्थापन पर अभियान के दौरान विशेष बल दिया जाएगा। इसके लिए प्रसव कक्ष में परिवार कल्याण परामर्शी, एएनएम, स्टाफ़ नर्स के माध्यम से प्रसव एवं गर्भपात के लिए आए हुए इच्छुक महिलाओं को उत्प्रेरित करते हुए सुविधा प्रदान करायी जाएगी।

क्या है मिशन परिवार विकास अभियान :

केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा कुल प्रजनन दर(प्रति महिला बच्चों की कुल संख्या) में कमी, आधुनिक गर्भनिरोधों के उपयोग को बढ़ाने, गर्भनिरोधक साधनों की सामुदायिक स्तर पर पहुँच सुनिश्चित करने एवं परिवार नियोजन के प्रति जन-जागरुकता को बढ़ाने के लिए उच्च कुल प्रजनन दर की सूची में शामिल बिहार में मिशन परिवार विकास की शुरुआत की गयी है।

सैंपल रजिस्ट्रेशन सर्वे की रिपोर्ट के अनुसार अभी बिहार की कुल प्रजनन दर 3.2 है। मिशन विकास परिवार के तहत वर्ष 2025 तक बिहार के प्रजनन दर को 2.1 तक लाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। जिसमें नवीन गर्भनिरोधक साधन अंतरा एवं छाया, सारथी वैन से परिवार नियोजन पर जागरूकता, नवदंपति के लिए नयी पहेली किट एवं सामुदायिक जागरूकता के लिए सास-बहू सम्मेलन जैसी नवीन गतिविधियों को शामिल किया गया है।

इस मौके पर डीएस डॉ. रामइकबाल प्रसाद, डीपीएम अरविन्द कुमार, डीसीएम ब्रजेंद्र कुमार सिंह, डीपीसी रमेश चंद्र कुमार, डीएमएनई भानू शर्मा, डॉ. रविशंकर प्रसाद, डॉ. अमरेंद्र कुमार सिंह, डॉ. एचडी सिंह, हेल्थ मैनेजर राजेश्वर प्रसाद, यूनिसेफ के एसएमसी आरती त्रिपाठी, केयर इंडिया के परिवार नियोजन समन्वयक प्रेमा कुमारी, बीएम अमितेश कुमार, बंटी कुमार रजक, गौरव कुमार, प्रिसं कुमार समेत अन्य मौजूद थे।

गरीबों असहायों के बीच खाद्यान पैकेट का हुआ वितरण

सारण : छपरा लायन्स क्लब ऑफ छपरा सहारा द्वारा समाज के गरीब, पीड़ित, असहाय लोगो के बीच राइस बैंक चैलेंज का खाद्यान्न सामग्री वितरण किया गया। लायन्स क्लब के डिस्ट्रिक्ट चेयरपर्सन लायन एस जेड़ ए रिजवी की देख रेख एवं क्लब के अध्यक्ष ब्रजेन्द्र किशोर, सचिव शैलेश कुमार सिंह के नेतृत्व में छपरा शहर के नगरपालिका चौक के समीप जूटे गरीबो के बीच खाद्यान्न का पैकेट वितरित किया गया।

क्लब के द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम के संयोजक हारुण अंसारी ने बताया कि लायंस क्लब के संस्थापक सर मेल्विंन जोन्स के जन्म दिन के उपलक्ष्य में लायन्स क्लब अंतरराष्ट्रीय ने इसे राइस बैग चैलेंज सप्ताह के रूप मनाने का निर्णय लिया था जिसके तहत क्लब की स्थानीय क्लब के अध्यक्ष ब्रजेन्द्र किशोर ने कहा कि यह वितरण कार्य  पुनः बुधवार को होगा।

इस कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ क्लब के वरीय सदस्य एवं सहारा इंडिया के सेक्टर मैनेजर  आर .पी.सिंह ,एस जेड़ ए रिजवी अजय सहाय एवं डॉ. विद्या भूषण श्रीवास्तव ने संयुक्त रूप से किया। सचिव शैलेश कुमार सिंह ने जानकारी दी कि क्लब द्वारा कई ऐसे कार्यक्रम की रूपरेखा बनाई  गई है जो समाज के अभिवंचित,असहाय एवं गरीब परिवारों की सेवा से जुड़ी है।

इस कार्यक्रम. में सतीश कुमार सिंह, संजीव कुमार श्रीवास्तव,संदीप कुमार ,संतोष  कुमार ,कुणाल चौधरी, सहित अन्य सदस्य उपस्थित थे।

 बैडमिंटन प्रतियोगिता का केके बैठा ने किया उद्घाटन

सारण : छपरा स्वर्गीय प्राचार्य सुशील कुमार सिंह स्मारक बैडमिंटन प्रतियोगिता का उद्घाटन आज क्षत्रिय छात्रावास में आरंभ हुई यह प्रतियोगिता आगामी 15 जनवरी तक चलेगी 3 दिनों तक चलने वाले इस प्रतियोगिता का उद्घाटन जगदम महाविद्यालय के प्राचार्य केके बैठा एवं पूर्व प्रोफ़ेसर केके द्विवेदी ने किया।

प्रतियोगिता के प्रथम दिन बालिका सब जूनियर में पीयूष प्रतीक ने प्रिंस को राज पांडे ने करण कुमार को दिव्यांश ने उज्जवल को अक्षय ने सूरज को जबकि आर्यन ने अंशु को हराया विदित हो कि स्वर्गीय प्रचार्य सुशील कुमार सिंह जगदम महाविद्यालय में 30 वर्षों तक पद पर रहे उनके कार्यकाल में महाविद्यालय का पठन-पाठन अनुशासन एवं खेल के क्षेत्र में अग्रणी रहा।

लगातार 24 वर्षों तक विश्वविद्यालय विभिन्न प्रतियोगिताओं में चैंपियन रहा उनके प्रयास से पहली बार जिला क्रिकेट संघ एवं बैडमिंटन संघ का राज्य स्तरीय संबद्धता प्राप्त हुआ वे इंडियन नेशन आर्यावर्त शहीद कई समाचार पत्रों में भी कार्य किया।

इस अवसर पर मुख्य रूप से सीनेटर ब्रजकिशोर सिंह रमेश कुमार सिंह, राकेश कुमार सिंह, हरेंद्र सिंह, देवेंद्र, विद्याभूषण श्रीवास्तव, दिनेश सिंह, बैजनाथ सिंह, संजीव सिंह सहित बड़ी संख्या में खेल प्रेमी उपस्थित रहे।

सड़क सुरक्षा जागरूकता के लिए लगाया गया ब्लड डोनेशन कैंप एवं नेत्र जांच शिविर

सारण : छपरा सड़क सुरक्षा सप्ताह पर जागरुकता को लेकर परिवहन विभाग के द्वारा सोमवार को सदर अस्पताल में ब्लड डोनेशन कैंप एवं नेत्र जांच शिविर लगाया गया। इस अवसर पर मोटरयान निरीक्षक विनोद कुमार एवं मुख्य किरानी जितेंद्र कुमार सहित विभाग के दर्जनो पदाधिकारी एवं कर्मचारियों के द्वारा रक्तदान किया गया।

जहां महिला चिकित्सक डॉ किरण ओझा, ब्लड बैंक टेक्नीशियन धर्मवीर सहित विभाग के अन्य कर्मचारी उपस्थित थे। रक्तदान के उपरांत श्री कुमार ने बताया कि रक्तदान महादान है। इससे किसी की जान बचाई जा सकती है।  सदर अस्पताल परिसर में परिवहन विभाग के द्वारा नेत्र जांच शिविर का भी आयोजन किया गया।

इस अवसर पर जिला परिवहन पदाधिकारी जयप्रकाश नारायण ने बताया कि नेत्र जांच शिविर के दौरान 10 लोगों का नेत्र जांच कराकर उन्हें दवाई उपलब्ध कराई गई है। वहीं कई लोगों को चश्मा लगाया जाना है, जिसके लिए उनके द्वारा चश्मा बनाने के लिए दे दिया गया है। सड़क सुरक्षा सप्ताह समारोह के समापन पर उन लोगों को विभाग द्वारा निशुल्क चश्मा भी उपलब्ध कराया जाएगा।

रोट्रेक्ट क्लब के अध्यक्ष ने जन्मदिन पर किया पौधरोपण

सारण : छपरा रोट्रेक्ट क्लब ऑफ़ सारण सिटी के तत्वावधान में जल-जीवन-हरियाली कार्यक्रम के तहत तथा रोट्रेक्ट क्लब सारण सिटी के अध्यक्ष रोट्रेक्टर आलोक कुमार सिंह के जन्मदिन के अवसर पर स्थानीय शिशु पार्क में मुख्य अतिथि श्याम बिहारी अग्रवाल ने पौधरोपण कर जल-जीवन-हरियाली कार्यक्रम की शुरुआत की।

इस दौरान मुख्य अतिथि सहायक मंडलाध्यक्ष न्यू जनरेशन पीडीआरआर रोटेरियन श्याम बिहारी अग्रवाल ने कहा वर्तमान समय में कई प्रजाति के जीव जंतु एवं वनस्पतियां अर्थात् पेड़ पौधे विलुप्त हो रहे हैं, जो प्रकृति के संतुलन के लिए बहुत ही भयावह है। ऐसे में मनुष्य होने के नाते हमारी जिम्मेदारी बहुत बढ़ जाती है,अपने आसपास के वनस्पतियों एवं जीव-जंतुओं की रक्षा करने का संकल्प लें।

जहाँ भी पौधारोपण हो उसकी सलामती की भी जिम्मेदारी लेनी होगी तभी पौधा पेड़ के रूप में विकसित होगा। पानी जीवन यापन के लिए बहुत जरूरी हैं, इसलिए जल का संचय करें, पानी बचाने के लिए समुचित व्यवस्था करें नहीं तो आनें वाली पीढ़ी हमें कभी माफ नहीं करेगी  इस दौरान रोट्रेक्ट सारण सिटी के अध्यक्ष आलोक कुमार सिंह, सचिव सैनिक कुमार, निकुंज कुमार तथा अभिषेक कुमार आदि उपस्थित थें।

सभी व्रतों में एकरूपता के लिए हुई चर्चा

सारण : छपरा युवा ब्राह्मण चेतना मंच के तत्वावधान में आज श्री महादेव मंदिर के परिसर में सम्वत् 2077 के सभी व्रत, त्योहार तथा सभी संदिग्ध व्रतों पर विस्तार से चर्चा हुई। सभी व्रत में एकरूपता रहे इस पर विद्वानों ने अपने अपने विचार व्यक्त किए।

इस निर्णय में निर्णायक मंडल के अध्यक्ष वयोवृद्ध कर्मकांड भाष्कर पण्डित सर्वानन्द उपाध्याय, कर्मकांड के विद्वान पण्डित अशोक तिवारी, पण्डित मनपूजन तिवारी, पण्डित त्रिलोकीनाथ पाण्डे, पण्डित नवलकिशोर शास्त्री, पंडित, भागवत पाठक, पण्डित अमित तिवारी, पंडित, सोनू मिश्र, पण्डित, रंगनाथ तिवारी एवं सैकड़ों की संख्या में गणमान्य विद्वद् जन उपस्थित रहे।

सभा में युवा ब्राह्मण चेतना मंच के संयोजक डॉ सुभाष पाडेय ने अलग अलग क्षेत्रों से पधारे हुए ब्राह्मणों से कहा कि इस निर्णय का पहल समाज में एकरूपता का संदेश देगा। वहीं मंच के वरिष्ठ अधिकारियों ने आगत विद्वानों को अंगवस्त्र और माला पहनाकर स्वागत किया और कार्यक्रम के मध्य डॉ शशिकांत तिवारी द्वारा रचित पुस्तक का विमोचन किया गया।

धन्यवाद ज्ञापन पण्डित रंगनाथ तिवारी ने किया, संचालन डॉ शशिकांत तिवारी ने किया और आगत अतिथियों का स्वागत  जिलाध्यक्ष आचार्य हरेराम शास्त्री ने किया और कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए मंच के प्रवक्ता पंडित अमरेंद्र ओझा उर्फ पिंटू जी के साथ सभी लोगो का सहयोग बताया। संदिग्ध व्रत पर शहर के प्राचीन भारतेश्वरी संस्कृत महाविद्यालय के वरीय  प्राध्यापक  डॉ चन्द्रभान त्रिपाठी और वेदाचार्य पंडित विनय कुमार मिश्र ने संदिग्ध व्रतों के निर्णय में अहम भूमिका निभाई।

Leave a Reply