सरयू के प्रचार में नहीं जायेंगे नीतीश, सीएम ने मित्र से क्यों बनाई दूरी?

0

पटना : झारखंड चुनाव की तपिश की जो आंच बिहार पहुंच रही थी, उसपर जदयू सुप्रीमो नीतीश कुमार ने आज यह कहते हुए पानी डाल दिया कि वे वहां सरयू राय के लिए चुनाव प्रचार करने नहीं जायेंगे। जदयू के ही वरिष्ठ नेता और मुंगेर से सांसद ललन सिंह ने सरयू राय के समर्थन का ऐलान किया था। ललन सिंह के ऐलान के बाद बिहार एनडीए में खटपट की चर्चा एक बार फिर बुलंद हो गई थी।

एनडीए के घटकों की विश्वसनीयता दांव पर

दरअसल सरयू राय सीएम नीतीश के अच्छे मित्र हैं। लेकिन इस बार भाजपा ने उन्हें टिकट नहीं दिया और वे निर्दलीय चुनाव मैदान में ताल ठोक रहे हैं। जिस जमशेदपुर सीट से वे वहां के सीएम रघुवर दास के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं, वहां झामुमो, कांग्रेस समेत सभी दलों ने अपने उम्मीदवार हटा लिये हैं। यानी फाइट डायरेक्ट सरयू राय व सीएम रघुवर दास के बीच है।

क्या हुआ जब सरपट भागा प्रियंका का ‘मरणासन्न किसान’? पिट गई भद

बिहार को लेकर रिस्क नहीं लेना चाह रहे नीतीश

इधर जदयू सांसद ललन सिंह द्वारा सरयू राय को लेकर दिये बयान के बाद बिहार एनडीए में खटपट की खबरें उड़ने लगी। बिहार में भी अगले वर्ष विधानसभा चुनाव है। यहां भी कोई एक पार्टी अपने बूते सरकार बना लेने का कन्फिडेंस नहीं रखती है। ऐसे में नीतीश के सामने गठबंधन का विकल्प ही रह जाता है। राजद के दरवाजे नीतीश के लिए लालू—तेजस्वी के रहते नहीं खुलने वाले। यदि वहां का दरवाजा खुला भी तो नीतीश न तो फ्री होकर काम कर सकते और न लालू का राजद उन्हें करने देगा। ऐसे में एनडीए ही नीतीश के लिए शरीफ साथी बचता है। यही कारण है कि नीतीश कुमार ने जैसे ही सरयू के प्रश्न पर अफवाहें उड़ती देखी, वे सामने आए और एनडीए में भाजपा—जदयू के बीच खटपट वाली खबरों पर विराम लगा दिया। आज बुधवार को बिहार के सीएम नीतीश ने सफ कहा कि नहीं, वहां मेरी जरूरत नहीं है।

पटना में बीच सड़क ओवरटेक कर स्कूटी सवार को भून डाला

पटना में क्या कहा बिहार सीएम नीतीश कुमार ने

पटना में कृषि विभाग के कार्यक्रम के बाद मीडिया के सवालों का जबाब देते हुए उन्होंने कहा कि वहां मेरी जरूरत नहीं है। सीएम ने सिर्फ इतना ही कहा और गाड़ी में बैठकर रवाना हो गए। पत्रकारों के और किसी भी सवाल का जवाब उन्होंने नहीं दिया। मालूम हो कि जदयू के सांसद ललन सिंह ने कल मंगलवार को पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा था कि पार्टी सरयू राय का समर्थन करेगी और जरूरत पड़ी तो सीएम नीतीश भी उनके चुनाव प्रचार में जायेंगे।

Leave a Reply