बैकों की हड़ताल से परेशानी, अधिकतर एटीएम में नहीं डाले गए नोट

0

पटना डेस्क : बैंकों के विलय एवं सरकार की नीतियों के विरोध में मंगलवार को बिहार के विभिन्न जिलों में स्थित सभी बैंकों में ताले लटके रहे। ऑल इंडिया बैंक इम्पलाइज एसोसिएशन एवं बैंक इम्पलाइज फेडरेशन ऑफ इंडिया के आह्वान पर बैंकों में आज 22 अक्टूबर को हड़ताल रही। चार बैंकों के विलय एवं सरकार पर निजीकरण का आरोप लगाते हुए बैंकर्स ने नारेबाजी की।
हालांकि भारतीय स्टेट बैंक, ग्रामीण बैंक, कोआपरेटिव बैंक और निजी बैंक हड़ताल में शामिल नहीं हैं, फिर भी आम लोगों को भारी दिक्कत का सामना करना पड़ा। अधिकतर एटीएम में भी कैश नहीं डाले गए, लिहाजा दोपहर से पहले ही अधिकतर एटीएम ठप हो गए। इससे ग्राहकों को काफी परेशानी हुई। जरूरतमंद रुपये निकालने के लिए एक जगह से दूसरी जगह भटकते रहे। मगर उन्हें निराशा हाथ लगी। सुबह में ही सभी बैंकों की शाखाओं में कर्मियों ने ताला जड़ दिया व धरना पर बैठ गए।
इस अवसर पर राजधानी पटना समेत विभिन्न जिला मुख्यालयों में बैंक कर्मचारी संघ के सदस्यों ने प्रदर्शन किया। कर्मियों ने कहा कि सरकार की जनविरोधी नीतियों की वजह से आम जनता परेशान है। इसी के खिलाफ हम प्रदर्शन कर रहे हैं।

Leave a Reply