पुल निर्माण कंपनी के बेस कैंप हमला मामले में मुख्य आरोपी समेत तीन गिरफ्तार

0

नवादा : जिले के गोविन्दपुर पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने पुल निर्माण कंपनी के बेस कैंप पर हमला मामले के मुख्य आरोपी समेत तीन को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपियों में चांद मियां के अलावा उसका भाई मो. रोज और सतीश महतो शामिल हैं। सभी बक्सोती गांव के निवासी बताए गए हैं।

रजौली एसडीपीओ संजय कुमार ने गिरफ्तारी की पुष्टि करते हुए बताया है कि तीनों को पश्चिम बंगाल के पुरुलिया से गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने वैज्ञानिक अनुसंधान के जरिए आरोपियों को पकड़ने में कामयाबी हासिल की।

उन्होंने बताया कि  इस मामले में पूर्व में तीन लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है। एक सप्ताह पूर्व मुश्ताक, वाहिद अंसारी और बक्सोती बाज़ार के आफ़ताब को गिरफ्तार किया गया था। जबकि मुख्य आरोपी चांद मियां फरार चल रहा था। जिसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही थी।

एसडीपीओ ने बताया कि घटना के बाद एसपी हरि प्रसाथ एस ने स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (एसआइटी) गठन किया था। जिसमें एएसपी अभियान कुमार आलोक, रजौली एसडीपीओ रजौली संजय कुमार, गोविंदपुर थानाध्यक्ष डॉ. नरेंद्र प्रसाद उतरवा व डीआझ्यू टीम को शामिल किया गया था।

एसआइटी ने त्वरित कार्रवाई करते हुए आठ लोगों को हिरासत में लिया था। जिसमें पूछताछ के बाद पांच लोगों को छोड दिया गया। वहीं अन्य तीनों की संलिप्तता सामने आने पर जेल भेज दिया गया था।

बता दें बीते पांच जनवरी की रात वकसोती के पास सकरी नदी पर पुल निर्माण करा रही आरएएस कंपनी के बेस कैप पर हमला किया गया था।  जिसमें बदमाशों ने जेसीबी, पिकअप बोलेरो को फुक डाला था। 17 मजदूरों के कपड़े उतरवा कर उसके साथ मारपीट की गई थी। हमलावरों ने 17 मोबाइल व 80 हजार रुपये लूट लिए थे।

घटना को अंजाम देने के बाद सभी डेल्हा पहाड़ी की ओर फरार हो गए थे। जाते-जाते दो राउंड हवाई फायरिंग भी बदमाशों द्वारा की गई थी।

swatva

Leave a Reply