Home बिहार अपडेट नवादा 24 नवंबर : नवादा की मुख्य खबरें

24 नवंबर : नवादा की मुख्य खबरें

0

राइफल शूटर शालू गुप्ता को मिला मॉडर्न निदेशक का साथ, सम्मानित कर दिया हरसंभव मदद का भरोसा

नवादा : मॉडर्न शैक्षणिक समूह, के निदेशक डॉ. अनुज कुमार ने विद्यालय के प्रार्थना सभा में बुधवार को विद्यार्थियों एवं शिक्षकों के समक्ष राइफल शूटर शालू गुप्ता का स्वागत एवं सम्मान किया तथा प्रतियोगिता में भाग लेने हेतु शालू एवं उनके अभिभावक सहित यात्रा-खर्च एवं अन्य खर्चों के लिए 25000 रुपए की नकद सहायता राशि प्रदान कर उत्साहवर्धन किया।

देश के खेल जगत का उभरता सितारा बन जिले का मान बढाने वाली नवादा की बेटी राइफल शूटर शालू गुप्ता को केरल में आयोजित होने वाली 65वीं राष्ट्रीय शूटिंग चैंपियनशिप कंपीटिशन इन राइफल्स में भाग लेना है। बिहार का प्रतिनिधित्व करने के लिए चयनित किए जाने पर उन्हें डॉ अनुज ने बधाई दी।

बता दें कि जिले के वारिसलीगंज निवासी जीवन कुमार गुप्ता की पुत्री शालू कुमारी इस चैंपियनशिप में बिहार राज्य का प्रतिनिधित्व करने हेतु चयनित हुई है। परंतु अपनी यात्रा-खर्च एवं अन्य खर्चों को वहन करने में आर्थिक समस्याओं से जूझ रही थी। अपनी आर्थिक समस्याओं का हवाला देते हुए वह कई सरकारी एवं निजी संस्थाओं एवं व्यक्तियों से मदद की गुहार लगा रही थी, परंतु किसी ने इस होनहार बच्चे की सहायता नहीं की। इस बात की खबर मॉडर्न इंग्लिश स्कूल के शिक्षक एवं समाजसेवी प्रत्यूष आनंद को प्राप्त हुई तो उन्होंने शालू को मॉडर्न शैक्षिक समूह के निदेशक डॉ अनुज कुमार से मिलाने का फैसला किया।

शालू से मिलने के बाद मॉडर्न शैक्षणिक समूह के निदेशक डॉ. अनुज कुमार ने बड़ी गंभीरता से उसकी समस्याओं को सुना, शूटिंग के क्षेत्र में उसके उपलब्धियों के बारे में जाना और उसके भविष्य के सपनों के बारे में बात की। उसकी लगन एवं राइफल शूटिंग के प्रति जुनून को देखकर उन्होंने शालू की सहायता करने का निर्णय लिया।

उन्होंने तत्काल शूटिंग चैंपियनशिप में भाग लेने के लिए केरल जाने आने, वहां होटल में अपने अभिभावक के साथ ठहरने तथा अन्य आवश्यक खर्चों के लिए ₹25000 की नकद सहायता राशि प्रदान की एवं बेहतरीन प्रदर्शन करके लौटने पर यथासंभव हर प्रकार की आर्थिक एवं अन्य सहायता देने का वादा किया।

इस अवसर पर विद्यार्थियों एवं अन्य खिलाड़ियों को संबोधित करते हुए डॉ अनुज कुमार ने कहा कहा कि खेलकूद का क्षेत्र हो अथवा पढ़ाई-लिखाई या वैज्ञानिक शोध का क्षेत्र हो, यदि हमारे जिले एवं क्षेत्र का कोई भी होनहार विद्यार्थी या खिलाड़ी आर्थिक एवं अन्य समस्याओं से जूझ रहा हो, वह हमसे आकर मिले। मैं हरसंभव उसकी सहायता अवश्य करूंगा। ज्ञात हो डॉ अनुज कुमार जिले के हैंडबॉल एसोसिएशन के अध्यक्ष हैं और खेलकूद एवं खिलाड़ियों के प्रति उनके हृदय में अपार प्रेम है।

वे प्रायः जरूरतमंद खिलाड़ियों को अपनी ओर से आर्थिक, सामाजिक एवं अन्य सहायता प्रदान करते रहते हैं। विगत दिनों जब नवादा की हैंडबॉल टीम बालक वर्ग में प्रथम एवं बालिका वर्ग में तृतीय स्थान प्राप्त कर बेगूसराय से लौटी थी तो मॉडर्न के निदेशक ने उनके शानदार प्रदर्शन के लिए सम्मान समारोह का आयोजन करके सभी खिलाड़ियों का स्वागत एवं सम्मान किया था। शालू को सम्मानित करने के अवसर पर राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित सेवानिवृत्त शारीरिक शिक्षक अलख देव प्रसाद, प्रत्यूष आनंद सहित विद्यालय के सभी शिक्षकगण उपस्थित थे।

“प्रशासन चला गांव की ओर” के तहत शिविर लगा पदाधिकारियों ने दर्जनों जनसमस्याओं का किया निपटारा

नवादा : बिहार सरकार के मुख्य सचिव तथा डीएम उदिता सिंह के आदेशानुसार जिले के काशीचक प्रखंड के रेवरा जगदीशपुर पंचायत मुख्यालय में प्रखंड स्तरीय जनसमस्या निवारण शिविर आयोजित की गयी। आयोजित शिविर में काशीचक प्रखंड प्रमुख पंकज कुमार स्थानीय मुखिया शंकर कुमार तथा बीडीओ ने बुके देकर डीडीसी दीपक कुमार मिश्रा एवं अपर समाहर्त्ता उज्ज्वल कुमार सिंह को स्वागत किया।

शिविर को डीडीसी, अपर समाहर्त्ता एवं स्थानीय जनप्रतिनिधि ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर प्रखंड स्तरीय जन समस्या निवारण शिविर का उद्घाटन किया। शिविर में 300 से अधिक आवेदन प्राप्त हुए, जिसमें से 100 आवेदनों को ऑन स्पॉट निष्पादन किया गया।

शिविर में जिला स्तरीय पदाधिकारियों के द्वारा 25 से अधिक स्टॉल लगाकर स्थानीय लोगों की समस्याओं को सुना गया एवं आवश्यक मार्ग दर्शन देते हुए कई समस्याओं का ऑन स्पॉट निष्पादन किया गया। बीडीओ कुमार रवि के द्वारा शिविर के लिए बेहतर ढ़ंग से तैयारी की गई थी। काफी बड़े मंच का निर्माण किया गया, जिससे स्थानीय जनप्रतिनिधियों एवं परिवादियों को काफी सुविधा हुई। स्थानीय लोग अनुशासित होकर उल्लास और उमंग के साथ शिविर में आये और अपनी समस्याओं के समाधान होने के बाद काफी प्रसन्न दिख रहे थे।

शंकर रविदास ने बताया कि यह डीएम के प्रयास से यहां शिविर आयोजित कर हमलोगों की समस्याओं का समाधान किया गया, जिसका हमलोग काफी समय से प्रतीक्षा कर रहे थे। विशेष शिविर में जिला भूअर्जन पदाधिकारी मो मुस्तकीम, सदर एसडीओ उमेश कुमार भारती, आपदा प्रभारी सुजीत कुमार, बीडीओ रवि कुमार तथा सीओ संजय कुमार के अलावा स्थानीय जनप्रतिनिधि सहित काफी संख्या में ग्रामीण आदि मौजूद थे।

रोजगार मेला में 74 अभ्यर्थियों का हुआ चयन

नवादा : श्रम संसाधन विभाग पटना के निर्देशानुसार जिला नियोजनालय के द्वारा संयुक्त श्रम भवन (आईटीआई) कैम्पस में एक दिवसीय रोजगार मेला का आयोजन किया गया। इस नियोजन-सह-मार्गदर्शन कैम्प में 228 अभ्यर्थी उपस्थित हुए। इस अवसर पर उत्कर्ष स्मॉल फाईनेंस बैंक के प्रतिनिधि विक्रम वर्मा के द्वारा क्रेडिट ऑफिसर, सेल्स एक्जक्यूटिभ, कस्टमर सर्विस ऑफिसर, रिलेशनशिप ऑफिसर 100 पद के विरूद्ध 129 अभ्यर्थियों का ऑनलाईन परीक्षा के पश्चात 74 अभ्यर्थियों का चयन किया गया।

जॉब कैम्प में जिला नियोजन पदाधिकारी जैनेन्द्र कुमार, डीएसएम वन नितेष कुमार तथा डीएसएम टू पवन कुमार के द्वारा बेरोजगार युवक-युवतियों के लिए चलाये जा रहे रोजगार से संबंधित योजना एवं प्रयास के बारे में मार्गदर्शन दिया गया।

डीआरसीसी के प्रतिनिधियो के द्वारा भी बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड, स्वंय सहायता भत्ता एवं कुशल युवा कार्यक्रम के बारे में मार्गदर्शन दिया गया। इस अवसर पर एमजीएनएफ राजेश कुमार पाठक तथा डाटा इन्ट्री ऑपरेटर सदानंद कुमार की महत्व पूर्ण भूमिका रही। बताया गया कि इस जॉब कैम्प के उपरांत प्रत्येक माह कार्यालय के द्वारा जॉब कैम्प का आयोजन किया जाएगा, जिसकी सूचना समाचार पत्रों के माध्यम से ससमय प्रकाशित कर दी जाएगी।

गंगा जल उद्धव योजना का जल संसाधन मंत्री ने मोतनाजे गांव पहुंच किया निरीक्षण

नवादा : गंगा जल उद्धव योजना से घर-घर तक शुद्ध गंगा जल पहुंचाने को लेकर लगातार मुख्यमंत्री व जल संसाधन मंत्री योजना का निरीक्षण कर रहे है। इसी कड़ी में जल संसाधन मंत्री संजय झा नवादा के मोतनाजे गांव पहुंच गंगा जल उद्धव योजना का निरीक्षण किया।

इस दौरान मंत्री श्री झा ने गंगा जल शोधन संयंत्र और उपकरण का बारिकी से अवलोकन करते हुए वहां मौजूद पदाधिकारियों को उद्घाटन करने की तैयारी करने को लेकर कई आवश्यक निर्देश दिया। उन्होंने यूटीलिटी भवन एवं परिसर में स्थित विभिन्न संयंत्रों का निरीक्षण किया। मंत्री श्री झा ने बताया कि यूटिलिटी भवन में गंगाजल को फिल्टर किया जाता है।

उन्होंने जल शोधन संयंत्र का भ्रमण कर अधिकारियों के साथ समीक्षा करते हुए प्लांट के बिन्दुओं पर जानकारी प्राप्त किया। मंत्री ने बताया कि इस संयंत्र के उद्घाटन के लिए सभी आवश्यक तैयारी पूर्ण की जा रही है, निकट भविष्य में इस महत्वाकांक्षी योजना का उद्घाटन होना है।

उन्होंने कहा कि यह बिहार सरकार की अति महत्वकांक्षी एवं जनउपयोगी योजना है, जिसके तहत बाढ़ के पानी को पेयजल के रूप में गया, बोधगया, राजगीर और नवादा को आपूर्ति की जायेगी। यह मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का ड्रीम प्रोजेक्ट है, जो निर्धारित समय के अंदर पूर्ण किया जा रहा है, जो बहुत बड़ा गेम चेंजर है।

मुख्यमंत्री कुमार ने राज्य के विकास के लिए अनलिमिटेड काम किए हैं, जिसमें यह योजना भी प्रमुख है। जिन क्षेत्रों में पेयजल की कमी रही है, वहां गंगा के बाढ़ के जल को पेयजल के रूप में लोगों को आपूर्ति की जायेगी। उनके घरों तक प्रतिदिन 135 लीटर प्रति व्यक्ति षुद्ध गंगा जल आपूर्ति की जायेगी, यह काफी कठिन काम था।

कोविड-19 के समय कार्य करने में कठिनाई आई थी फिर भी कार्य को पूर्ण किया गया। 151 किलोमीटर दूर हाथीदह से गंगाजल को लिफ्ट कर मोतनाजे में लाया गया, जिसको बड़े जलाशय में स्टोर किया जा रहा है। यहां से राजगीर को जल शोधन कर शुद्ध पेय जल आपूर्ति की जायेंगी। मार्च 2023 तक नवादा जिले को भी पौरा गांव से जल शोधन कर शुद्ध पेय जल की आपूर्ति की जा सकेगी। यह आरओ से भी बेहतर क्वालिटी का पेय जल है।

सचिव जल संसाधन एवं आपदा विभाग संजय कुमार अग्रवाल ने भी उद्घाटन के लिए सभी आवश्यक तैयारी बेहतर ढ़ंग से करने के लिए कई महत्वपूर्ण निर्देश डीएम उदिता सिंह तथा उपस्थित पदाधिकारियों को दिया।। उन्होंने कहा कि जल शोधन परिसर को हरा-भरा करें एवं आकर्षक फूल पत्तियों से सजाएं। परिसर के संपूर्ण क्षेत्र में साफ-सफाई एवं पौधे लगाने का कार्य प्रारंभ कर दिया गया है।

ज्ञात हो कि जल संसाधन मंत्री श्री झा इसके पूर्व भी कई बार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का महत्वाकांक्षी गंगा जल उद्धव योजना का निरीक्षण कर चुके है। इनके अलावा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी इस योजना का निरीक्षण कर चुके है। योजना को चालू होने का इंतजार जिलेवासी बेसब्री से कर रहे है, इस योजना को लेकर जिलेवासियों में काफी उत्साह देखा जा रहा है।

लखीसराय पुलिस ने 04 सुपारी किलर युवकों को किया गिरफ्तार

नवादा : लखीसराय पुलिस ने जिले के हिसुआ पुलिस के सहयोग से चार सुपारी किलरों को गिरफ्तार कर अपने साथ ले गयी। कलयुगी बेटे ने ही सुपारी देकर पिता की हत्या करवा दी थी। पकड़े जाने पर बाप से नफरत की कहानी बयां की थी। हत्या में शामिल बेटा शुभम सहित चार युवक को लखीसराय की पुलिस ने हिसुआ से गिरफ्तार कर लिया।

बता दें कलयुगी बेटे ने अपने ही पिता की हत्या के लिए सुपारी किलर को 45,000 रूपये में हिसुआ से बुलाया था। मृतक मनोज विश्वकर्मा लखीसराय शहर के दालपट्टी के बताए जाते है। 08 नवंबर की अहले सुबह मॉर्निग वाक के दौरान कलयुगी बेटे ने अपने पिता की हत्या करायी थी। लखीसराय पुलिस की गिरफ्त में सभी सुपारी किलर हिसुआ थाना क्षेत्र के रौशन कुमार पिता देवनारायण वर्मा, विकास कुमार पिता मनोज कुमार, ऋषि कुमार पिता उचित प्रसाद और बबलू रविदास पिता अमीरख रविदास को गिरफ्तार कर लखीसराय पुलिस अपने साथ ले गयी।

नगर में बढ़ी बाइक चोरी की घटनाओं को लगाम लगाने में पुलिस विफल

नवादा : नगर में बाइक चोरी की घटनाओं में लगातार बृद्धि हो रही है। दो अलग अलग स्थानों से दो बाइक की चोरी बाइक चोरों ने कर ली। बाइक मालिकों ने सूचना नगर थाना को दी है। सूचना के आलोक में पुलिस छानबीन में जुट गयी है।

पीड़ित बाइक मालिक गोनावां निवासी अमित कुमार की स्पेलेंडर बाइक BR 02 V 1599 और मंगर बीघा निवासी सुरेंद्र कुमार की टीवीएस स्टार सिटी बाइक की चोरी की सूचना नगर थाने में दर्ज कराई है। बता दें नगर समेत पूरे जिले में बाइक चोर गिरोहों द्वारा कहीं न कहीं बाइक चोरी की घटना को अंजाम दिया जा रहा है. बावजूद पुलिस बाइक चोर गिरोह पर लगाम लगाने में विफल साबित हो रही है।

याद रखें ! और… सावधान हो जायें, चोरों के लिए ठंड का मौसम चोरी के लिये अनुकूल

नवादा : जिले में ठंड का आगमन हो चुका है । लोग लिहाफ में छुपने लगे हैं । इसके साथ ही शादी का मुहूर्त आरंभ हो गया है । त्योहारों की शृंखला समाप्त हो चुकी है। ऐसे में लाजिम है कि आप चेत जायें। ऐसे मौसम में चोरी की वारदात बढ़ जाती है।

कहीं आपके घर पर चोरों की निगाह तो

नहीं :-सावधानी बरतें, शादी समारोह या सैर सपाटे पर जाने के पहले कीमती सामान को सुरक्षित जगह रखवा दें। क्योंकि, चोरों की नजर आपके घर पर भी हो सकती है।ठंड के साथ ही जिले में चोरी की वारदात अचानक बढ़ गई है।

पिछले एक पखवाड़े के भीतर चोरों ने 8 चोरी की घटना को अंजाम दिया है। अकेले दो दिनों के अंदर नगर के रिहाइशी इलाकों में चोरी की घटना ने लोगों को सकते में डाल दिया है । अक्सर शादी समारोह व सैर सपाटे पर घर छोड़ कर जाना आम बात है। ऐसे में लोग कीमती सामान भी ताले के भरोसे छोड़ जाते हैं।जिसे चोर पलक झपकते ही चटका देते हैं। इसी को टारगेट कर चोर सूने मकान को निशाना बना रहे हैं।शादी समारोह वगैरह में तीन या इससे अधिक दिन तक मकान सूना रहता है और चोरों की तो मौज ही हो जाती है।

इस स्थिति में घर के चटके ताले देखकर कहीं आपकी भी खुशी काफूर न हो जाए। इसलिए विशेष सावधानी बरतें। वैसे आमतौर पर चोरी की घटना के बाद सीधा दोष पुलिस के ऊपर मढ़ दिया जाता है। लेकिन, देखा जाए तो कहीं न कहीं ऐसी घटनाओं में अपनी लापरवाही भी चोरों को मौका दे जाती है।

चोरों के लिए चोरी का माकूल मौसम है ठंड

ठंड में चादर तान कर चैन की नींद सोना सभी को पसंद है। लेकिन, चोरों के लिए ठंड का मौसम चोरी के लिहाज से सबसे माकूल मौसम है। ऐसे में चैन की नींद सोना कभी भी महंगा पड़ सकता है। आपकी थोड़ी सी आलस चोरों के लिए बेहतर अवसर साबित हो सकता है। इसलिए बेहतर होगा कि चैन से सोने से पहले जाग जाइए।

घर छोड़ने व रात को सोने से पहले करें ये उपाय

घर से बाहर जाने पर सोने-चांदी व अधिक मात्रा में रुपये नहीं छोड़ें। हो सके तो यह कीमती सामान बैंक लॉकर में जमा करवा दें या फिर अपने साथ ले जाएं। कहीं जाने से पहले पड़ोसी को बताकर जाएं। ताकि वह आपके मकान पर हर पल नजर रखें। कुछ दिनों के लिए घर से बाहर जाएं तो स्थानीय थाना पुलिस और बीट कांस्टेबल को भी इसकी जानकारी देकर जाएं। गश्त के दौरान वे उस मकान पर विशेष नजर रखें।

हां! यात्रा के दौरान कीमती समान साथ में ले जाएं तो जेबकतरों और जहरखुरानी लोगों से सावधान रहें। इसके अलावे अगर आप घर में हैं तो प्रतिदिन रात को सोने से पहले अपने घर की पूरी तरह तलाशी ले लें। घर के बाहर अंदर टॉर्च की रोशनी से यह जरूर देख लें कि कहीं कोई छुप कर घात लगाये बैठा तो नहीं है।

कहीं आपके घर के आसपास ठिकाना तो नहीं बना रहे चोर

चोरी की वारदात से आगाह करने के लिए ये बताना भी आवश्यक है कि जीवन शैली में लोग इतने बिजी हो गये हैं कि उन्हें इस बात की भी फिक्र नहीं होती कि उनके आस-पास क्या हो रहा है। या आसपास के मकान में कौन नया किरायेदार आया है।

इसे भी लापरवाही की श्रेणी में रखा जा सकता है

शहर में कई ऐसे वारदात हुए हैं।जिसमें यह बात बाद में लोगों को मालूम चला है कि उनके आसपास के मकान में रह रहा कोई सख्श चोर या संदिग्ध निकला। ऐसे में पड़ोसियों का ये अधिकार बनता है कि वह अपने आसपास के मकानों की टोह लेते रहें और किरायेदारों की जांच पड़ताल भी करते रहें। वरना यही लापरवाही आपके घर के सामानों से महरूम कर सकती हैं।

वीडियो वायरल होने के बाद दर्ज हुई प्राथमिकी

नवादा : जिले के अकबरपुर के एक गांव में मासूम के साथ दुष्कर्म के बाद आरोपी का पंचायत में उठक-बैठक का वीडियो वायरल होते ही प्रशासन हरकत में आया. बुधवार की देर शाम पीड़िता के चाचा के बयान पर प्राथमिकी दर्ज की गयी। दर्ज प्राथमिकी में सिर्फ मुर्गी फार्म संचालक अरुण पंडित को आरोपी बनाया गया है। प्राथमिकी 21 नवम्बर के आवेदन को दरकिनार कर 23 नवम्बर के आवेदन पर दर्ज किया गया है।

बता दें घटना के बाद 21 नवम्बर को पीड़िता के चाचा ने आवेदन दिया था. तब प्राथमिकी दर्ज नहीं की गयी थी। बाद में पूर्व मुखिया की अध्यक्षता में पंचायत बैठा दुष्कर्म की सजा मात्र पांच बार उठक- बैठक का वीडियो वायरल हुआ था। सबसे बड़ा सवाल यह है कि 21 नवम्बर के आवेदन पर प्राथमिकी क्यों नहीं? इससे स्पष्ट होता है कि हर कोई मामले को दबाने का हरसंभव प्रयास कर रहा है। कारण चाहे जो हो। घटना की चर्चा हर जगह हो रही है तथा वायरल वीडियो को आधार बना कार्रवाई की मांग की जा रही है।

इस बीच राजद व्यावसायिक प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष राजीव कुमार बावी ने पंचायत कर आरोपी को बचाने का प्रयास करने वाले पूर्व मुखिया के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कर पूरे मामले की जांच एसपी को खुद करने की मांग की है. इससे संबंधित प्रेस विज्ञप्ति बावी ने जारी कर एसपी से मामले को दबाने का प्रयास करने वालों को बेनकाब करने का अनुरोध किया है।

कौआकोल में एक ही रात दो घरों में चोरी!

– शिक्षक के घर में चोरों ने मचाया तांडव, सोना चांदी सहित कई कीमती सामान लेकर हुए फरार 

नवादा : जिले के उग्रवाद प्रभावित कौआकोल से एक बड़ी खबर सामने आ रही है. दो घरों में लाखों की चोरी की घटना सामने आई है। जिसके बाद इलाका में हड़कंप मच गया है। मामला कौआकोल थाना क्षेत्र के बाजितपुर गांव से जुड़ा है. जहां बुधवार की देर रात्रि दो अलग अलग घरों में अज्ञात चोरों ने गृहस्वामी समेत परिवार के अन्य सदस्यों को बंधक बनाकर लाखों रुपये मूल्य के जेवरात समेत नकदी की चोरी कर ली।

घटना को लेकर पीड़ित दोनों गृहस्वामी के द्वारा कौआकोल थाना में अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। जिसके आलोक में पुलिस प्राथमिकी दर्ज कर मामले के अनुसंधान में जुट गई है।प्राप्त जानकारी के अनुसार बुधवार की देर रात्रि बाजितपुर निवासी शिक्षिका लवली आनन्द,पति- परमानन्द के घर से 8 भर सोना एवं डेढ़ किलो चांदी समेत 10 हजार रुपये की नकदी पर अज्ञात चोरों ने हाथ साफ कर दिया। वही चोरों के द्वारा घर में घुसकर तांडव मचाया गया। दूसरी ओर इसी गांव के सुबोध यादव के घर 4 भर सोना,10 ग्राम चांदी की चोरी अज्ञात चोरों द्वारा इत्मिनान से कर ली गई।

घटना के बावत शिक्षिका पति परमानन्द ने बताया कि जब वे लोग अपने घर में सोए हुए थे,अज्ञात चोरों द्वारा उनलोगों के कमरे का दरवाजा बाहर से बन्द कर चोरों ने घटना को अंजाम दिया। इस बावत प्रभारी थानाध्यक्ष राजीव कुमार पटेल ने बताया कि घटना के बाद पुलिस अनुसंधान में जुट गई है। पुलिस दो बार घटनास्थल पर पहुंचकर हर बिंदु पर जांच शुरू कर दिया है।

NO COMMENTS

Leave a Reply

%d bloggers like this: