मॉडर्न स्कूल के 1008 छात्र-छात्राओं ने श्रीरामचरितमानस का सामूहिक पाठ करके रचा अविस्मरणीय कीर्तिमान

0

दसवीं कक्षा के छात्र-छात्राओं के संगीतमय पाठ से भक्तिमय हुआ वातावरण

नवादा नगर : मॉडर्न इंग्लिश स्कूल नवादा कुंती नगर के प्रांगण में एक अविस्मरणीय इतिहास रचा गया। नवादा के ज्ञात इतिहास में प्रथम बार हिंदी साहित्य के सूर्य गोस्वामी तुलसीदास की जयंती के पावन अवसर पर मॉडर्न इंग्लिश स्कूल, नवादा के प्रांगण में एक साथ 1008 छात्र छात्राओं ने श्रीरामचरितमानस का सामूहिक एवं संगीतमय पाठ करके एक कीर्तिमान स्थापित कर दिया।

swatva

विद्यालय के हिंदी विभाग द्वारा इस भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें विद्यालय के कुल 1008 छात्र छात्राओं ने भाग लिया। कार्यक्रम के लिए भव्य पंडाल एवं मंच का निर्माण किया गया। कार्यक्रम में 10 छात्र-छात्राओं ने मंच से एवं शेष सभी ने मंच के सामने पंडाल में बैठकर श्रीरामचरितमानस का सस्वर संगीतमय पाठ किया।

कार्यक्रम का विधिपूर्वक शुभारंभ मॉडर्न शैक्षणिक समूह के अध्यक्ष डॉ. अनुज कुमार, उनकी माताजी श्रीमती कुंती देवी, प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष अशोक कुमार सिंह, बिहार टीचर्स ट्रेनिंग कॉलेज एसोसिएशन के महासचिव शैलेश कुमार एवं आरएसएस के विभाग प्रचारक उपेंद्र भाई त्यागी के कर कमलों से संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित करके किया गया। इस दौरान मंगलाचरण का गायन हिंदी शिक्षक उमेश पांडेय एवं रवि रंजन के द्वारा किया गया। इस दौरान मंच पर समाजसेवी साकेत बिहारी एवं विद्यालय के प्राचार्य गोपालचरण दास भी उपस्थित थे।

प्रभु श्रीराम एवं गोस्वामी तुलसीदास की तस्वीर पर माल्यार्पण करने के पश्चात डॉ. अनुज कुमार ने कार्यक्रम में उपस्थित विद्यार्थियों, अभिभावकगण एवं अतिथियों को संबोधित करते हुए कहा कि विद्यालय के हिंदी शिक्षकों एवं कार्यक्रम में भाग ले रहे दसवीं कक्षा के विद्यार्थियों द्वारा किया गया यह अद्भुत आयोजन सचमुच अद्वितीय है। इस कार्यक्रम में भाग लेने वाले सभी विद्यार्थी प्रशंसा के पात्र हैं। आज विद्यालय का प्रांगण एक विशिष्ट आध्यात्मिक ऊर्जा से ओतप्रोत है। ऐसे कार्यक्रमों के द्वारा हम विद्यार्थियों की आध्यात्मिक एवं सांस्कृतिक चेतना का उन्नयन कर सकते हैं एवं उनमें सकारात्मक विचारों एवं नैतिकता का विकास कर सकते हैं।

इस कार्यक्रम में मंच से श्रीरामचरितमानस के संगीतमय पाठ के लिए ग्यारहवीं कक्षा से प्रज्ञा भारती एवं मिशिका, दसवीं कक्षा से गरिमा राज, सिमरन कुमारी, विजयलक्ष्मी, हर्ष राज, शशांक शेखर, सुमन कुमार एवं नवमी कक्षा से अभिज्ञान तथा मुस्कान ने भाग लिया। इनके साथ विद्यालय के संगीत शिक्षक पवन कुमार एवं अनिल कुमार ने संगीतकार की भूमिका निभाई। मंच पर श्री राम, लक्ष्मण भरत शत्रुघ्न एवं हनुमान जी का वेश धारण करके विद्यालय के यूकेजी के नन्हे कलाकारों ने मन मोह लिया, वहीं गोस्वामी तुलसीदास का स्वरूप धारण करके दसवीं कक्षा के प्रिंस कुमार ने मंच की शोभा बढ़ाई।

मंच संचालन का कार्य श्रवण बरनवाल जी ने सम्यक रूप से किया। लगभग 11:30 बजे मानस पाठ प्रारंभ किया गया एवं इसमें धनुष यज्ञ प्रकरण कथा एवं श्रीराम-लक्ष्मण-परशुराम संवाद का विस्तार पूर्वक पाठन किया गया। मानस पाठ का समापन 12:45 में हुआ जिसके बाद श्री रामायण जी की आरती गायन के बाद उपस्थित अतिथियों अभिभावकों एवं विद्यार्थियों के बीच प्रसाद वितरण किया गया।

उपस्थित जनसमूह में कई बुजुर्ग एवं वरिष्ठ अभिभावकों ने अपनी गरिमामयी उपस्थिति दर्ज करवायी। विभिन्न विद्यालयों एवं महाविद्यालयों के शिक्षक तथा व्याख्यातागण कार्यक्रम में उपस्थित रहे। इनके अलावे विद्यार्थियों के साथ सैकड़ों अभिभावकों ने भी इस कार्यक्रम में अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई एवं इस कार्यक्रम की भूरी भूरी प्रशंसा की। सभी ने इस कार्यक्रम की मुक्त कंठ से प्रशंसा की विद्यार्थियों का उत्साह देखते ही बनता था।

कार्यक्रम को सफल बनाने में विद्यालय के शिक्षक गण सुजय कुमार, एम के विजय, मुकेश कुमार, नीरज मिश्रा, मणिकांत मिश्रा, प्रवीण कुमार पंकज, विपुल कुमार सिंह, अशोक कुमार, रोशन मिश्रा, राजीव रंजन, वीएस तिवारी, हरेराम पांडेय, अनीता मैम, नूतन कुमारी, लक्की कुमारी, सारिका कुमारी, बिस्मिता साहू, श्रुतिगीति मैम, आदि के साथ अन्य सभी शिक्षकों का सक्रिय सहयोग रहा।

विशाल कुमार की रिपोर्ट

Leave a Reply