12 अक्टूबर : नवादा की मुख्य खबरें

0

21 दिनों के अनवरत प्रयास के बाद नवादा दुर्गा पूजा के पूर्व नवादा नगर हुआ चकाचक

नवादा : ग्रीन नवादा , क्लीन नवादा के सपनों को साकार करने के उद्देश्य से राजद विधायक विभा देवी के निर्देश पर सफाई अभियान के इक्कीसवें दिन पुरे नवादा नगर को 9 बजे रात्रि से सुबह तक क्लीन कर दिया गया। 45 मजदूर रात भर नगर के मुख्य मार्ग समेत कोली खिड़की से भी कचड़े निकाल कर ठिकाना लगा दिया।

नगर वासियों की मानें तो नवादा की ऐसी सफाई कभी नहीं देखी। यह कार्य नगर परिषद नवादा के जिम्मे है, किन्तु उसकी अकर्मण्यता को देखते हुए श्री राज कृष्णा एजुकेशनल एंड सोशल वेलफेयर ट्रस्ट के माध्यम से विधायक ने नगर सफाई का बीड़ा उठाया। उन्होंने बताया कि सफाई अभियान छठ पर्व तक जारी रहेगा।

नगरवासियों से अपील करते हुए उन्होंने कहा कि सफाई बरकरार रखने के लिए आप सबों के सहयोग की आवश्यकता है। खासकर दुकानदार भाइयों से निवेदन है की कचरे को उचित और निर्धारित स्थान पर ही डालें ताकि सफाई बनी रहे। ट्रस्ट की बैठक में लिए गए निर्णय के अनुसार नगर के प्रत्येक वार्डों में गहन सफाई अभियान चलाया जायगा।

शम्भु विश्वकर्मा, लालकेश्वर राय, अमित राजवंश सरकार, पंकज यादव, भोला यादव, नितीश कुमार, मथुरा यादव आदि के नेतृत्व में रात भर सफाई अभियान चलाया गया। बैठक में नरेशचंद्र शर्मा, अनिल प्रसाद सिंह, संजय मारुती, तौकीर शहंशाह, दिनेश कुमार अकेला, शशिभूषण शर्मा आदि ने निर्णय लिया था कि तय रूट और नियमित योजना के अनुसार सफाई अभियान चलाया जाय जिसे पूरा किया गया।

खुला माँ दुर्गा की प्रतिमा का पट, श्रद्धालुओं की उमड़ी भीड़

नवादा : नगर के रेलवे कॉलोनी में विधिवत पूजा-अर्चना के साथ सोमवार को मां दुर्गा की प्रतिमा का पट खोल दिया गया। यहां पर बंगला रीति रिवाज के अनुसार पूजा की जाती है और नवरात्र की षष्ठी तिथि को कलश स्थापित कर जगतजननी की पूजा की जाती है। मां दुर्गा की प्रतिमा का पट खुलते ही जयकारों से पूजन स्थल गूंज उठा। श्रद्धालुओं में काफी उत्साह देखा गया। पूजा के दौरान कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर पूरा ख्याल रखा गया।

गौरतलब है कि कोरोना के चलते हर पर्व-त्योहार फीका पड़ गया। दशहरा पर भी इसका असर देखा जा रहा है। शहर में किसी भी स्थान पर बडे पंडाल का निर्माण नहीं कराया गया है। प्रतिमाएं भी काफी छोटी-छोटी बनाई गई हैं। प्रतिमा स्थापित होने वाले स्थान पर सिर्फ मंडप का निर्माण कराया गया है। शासन-प्रशासन के निर्देशों का पालन करते हुए पारंपरिक तरीके से और विधि विधान से माता की पूजा अर्चना की जा रही है।

रेलवे कॉलोनी पूजा समिति के अध्यक्ष चंद्रिका राय ने बताया कि परंपरा के अनुसार और बंगला रीति रिवाज से पूजा होने के चलते यहां षष्ठी तिथि को ही प्रतिमा स्थापित कर पूजा की जाती है। शहर के विभिन्न स्थानों पर कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए दुर्गा पूजा की तैयारी की गई है। नवरात्र की सप्तमी तिथि को वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच मां दुर्गा की प्रतिमाओं के पट खोले जाएंगे। कोरोना के चलते तैयारियों पर असर पड़ा है, लेकिन उत्साह बरकरार है।

पूजा के बीच माहौल बिगाड़ने की कोशिश, कट्टा लहराते युवक को दबोच पुलिस को सौंपा

नवादा : नगर के सबसे व्यस्ततम और भीड़भाड़ वाले इलाके स्टेशन रोड में दो देसी कट्टा के साथ युवक को लोगों ने तत्परता दिखाते धर दबोचा। लोगों ने बताया कि वह असामाजिक प्रवृत्ति का लग रहा था और माहौल बिगाड़ने की कोशिश में था।

बताया जाता है कि मंगलवार को दोनों हाथों में कट्टा लिए एक युवक बीच बाजार में पहुंच गया और लोगों को डराने लगा। उसी दौरान अचानक लोगों ने युवक को धर दबोचा तथा दोनों देसी कट्टा को छीन लिया। हालांकि युवक अपना नाम बदल बदल कर बता रहा था।

स्थानीय लोगों ने बताया कि पूजा का दिन है और माहौल बिगाड़ने को लेकर दोनों हाथ में लेकर युवक देसी कट्टा लहरा रहा था। कुछ लोग उसे देखकर डर गए। हालांकि लोग एकजुट हुए और मौका देखकर युवक को पीछे से दबोच कर हथियार छीन लिया। लोगों ने बताया कि युवक ज्यादातर लड़कियों को निशाना बना रहा था और जान से मारने की धमकी दे रहा था। जिससे कई महिलाएं डरकर वहां से भाग गईं।

हालांकि युवक ने फायरिंग नहीं की। स्थानीय लोगों ने मौका देखते ही युवक को धर दबोचा तथा पुलिस को सौंप दिया। पुलिस द्वारा कड़ाई से पूछताछ किए जाने पर युवक ने बताया कि उसका नाम महाकार रंजीत है। वह हिसुआ थाना क्षेत्र के हदसा गांव निवासी अर्जुन चौहान का पुत्र है।

नाबालिगों के हाथ ई-रिक्शा का हैंडल, कुम्भकर्णी नींद में सोया प्रशासन

नवादा : नगर समेत सम्पूर्ण जिले में ई रिक्शा की भरमार हो गयी है। ऐसे में में इन दिनों ई रिक्शा ई रिक्शा चालक दस से बारह सवारियां भरकर निकलते हैं, वहीं रात में बिना रोशनी के सड़कों और गलियों में दौड़ रहे हैं। जिसके कारण नग,र में कई लोग घायल हो रहे हैं। आलम यह है कि ट्रैफिक पुलिस की मदद से इस वक्त मानकों की अनदेखी कर नाबालिग ई-रिक्शा चालक बने बैठे हैं। न तो इनके पास परमिट है और न ही इनके पास लाइसेंस फिर भी धड़ल्ले से ई-रिक्शा चलाकर लोगों के मौत का कारण बन रहे हैं।

इसी क्रम में मंगलवार को नगर के व्यस्त मेन रोड में  नाबालिग चालक ने एक बाइक सवार को टक्कर मार दी। जिससे बाइक सवार को गहरी चोटें आई। घटना से आक्रोशित पीड़ित बाइक चालक की मानें तो जब तक कोई बड़ा हादसा नहीं होगा तब तक प्रशासन की कुम्भकर्णी निद्रा नहीं टूटेगी। इस प्रकार की घटनाएं आम हो गयी है।

swatva

Leave a Reply