Home बिहार अपडेट नवादा 07 अक्टूबर : नवादा की मुख्य खबरें

07 अक्टूबर : नवादा की मुख्य खबरें

0

समेकित जांच केन्द्र पर जाम से निपटने के लिए प्रशासन नहीं उठा रहा ठोस कदम

नवादा : बिहार-झारखंड समेकित जांच चौकी से झारखंड के कोडरमा जिले के ताराघाटी जंगल तक निरंतर जाम की समस्या देखी जा रही है। समेकित जांच चौकी पर शराब एवं अन्य नशीले पदार्थों की सघन जांच की जा रही है। उत्पाद विभाग द्वारा एक लेन में सभी वाहनों की धीमे जांच के कारण जाम की समस्या हो रही है। जाम के कारण चितरकोली पंचायत के लोगों को दिबौर से रजौली अवस्थित प्रखंड मुख्यालय आने-जाने में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। तीसरे चरण में होने वाले पंचायत चुनाव को लेकर प्रखंड मुख्यालय आने-जाने वाले लोगों एवं प्रत्याशियों को काफी परेशानियों से जूझना पड़ा है।

समाजसेवी मुन्ना सिंह, रामबालक यादव, अवधेश सिंह ने बताया कि समेकित जांच चौकी पर वाहन जांच के लिए लेन की संख्या बढ़ाने की आवश्यकता है। जबतक जांच लेन की संख्या नहीं बढ़ेगी तबतक जाम की समस्या कायम रहेगी। ऐसी स्थिति में झारखण्ड के रास्ते से आने वाले यात्री बसों, प्राइवेट कारों एवं एम्बुलेंस को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ट्रकों में लोड कच्चा सामान का भी नुकसान हो रहा है। उत्पाद विभाग के कर्मियों का कहना है कि सरकार के द्वारा उचित व्यवस्था हो जाती तो जाम से निजात मिल जाती। सीमित साधन रहने के कारण झारखण्ड से आने वाली छोटी एवं बड़ी वाहनों की जांच में समय लग रहा है।

जाम में फंसे यात्रियों की मानें तो जाम में जंगल एवं घाटी क्षेत्र रहने के कारण खाना तो दूर लोग पानी के लिए तरस रहे हैं। जाम की समस्या से लोगों के वक्त बर्बादी के साथ-साथ सुरक्षा का भी खतरा बना रहता है। कई बस सवार यात्री तो पैदल चलकर समेकित जांच चौकी पार करने को मजबूर हैं। जाम की गंभीर समस्या देखने को मिली थी। इस बार पंचायत चुनाव के साथ-साथ दुर्गा पूजा के पूर्व एक बार पुन: वही स्थिति उत्पन्न हो गई है। जाम से यात्रियों में काफी रोष देखा जा रहा है।

14 आदतन अपराधियों पर फिर हुई सीसीए की कार्रवाई

नवादा : बिहार पंचायत निर्वाचन 2021 के अवसर पर जिले भर में विधि-व्यवस्था एवं शांति बहाल करने के लिए जिला दंडाधिकारी यशपाल मीणा के द्वारा आवश्यक कदम उठाये गए हैं। पंचायत निर्वाचन 2021 के अवसर पर शांति भंग करने के प्रयास करने वालों एवं व्यवधान उत्पन्न करने वालों पर पुलिस अधीक्षक डी.एस. सावलाराम द्वारा चिन्हित आरोपी को नोटिस करते हुए अपना पक्ष रखने हेतु सूचित किया गया है।

नोटिस तामिला होने के बावजूद आरोपी द्वारा अपना पक्ष रखने हेतु उपस्थित नहीं होने की स्थिति में बिहार अपराध नियंत्रण अधिनियम 1981 की धारा 03 के तहत निरूद्धादेष कार्रवाई करने का निदेश दिया गया है। विदित हो कि पूर्व में जिले भर के 64 अपराधकर्मियों पर सीसीए की कार्रवाई की जा चुकी है एवं 14 अन्य अपराधकर्मियों पर सीसीए की कार्रवाई की गयी है, जिनके नाम एवं पता इस प्रकार है :-

(1) उपेन्द्र मिस्त्री, पिता-साधु मिस़्त्री, साकिन-डुमरी, थाना-गोविन्दपुर, जिला-नवादा

(2) उदय यादव, पिता-ब्रह्मदेव यादव, सा0-बनियाबिगहा, थाना-गोविन्दपुर, जिला-नवादा

(3) डब्लु कुमार, पिता-संजय शर्मा, सा0-बनियाबिगहा, थाना-गोविन्दपुर, जिला-नवादा

(4) बबलु कुमार, पिता-सत्येन्द्र चौधरी, सा0-बनियाबिगहा, थाना-गोविन्दपुर, जिला-नवादा

(5) सत्येन्द्र यादव, पिता-सरलदेव यादव, सा0-बनियाबिगहा, थाना-गोविन्दपुर, जिला-नवादा,

(6) शमशेर आलम, पिता-मो0 रफिक, सा0-बकसौती, थाना-गोविन्दपुर, जिला-नवादा

(7) अनवर मियॉ, पिता-अब्दुल सत्तार, सा0-राजा विगहा, थाना-रोह, जिला-नवादा (8) गजाधर प्रसाद, पिता-उतिम महतो, सा0-राजा विगहा, थाना-रोह, जिला-नवादा (9) भिखन सिंह, पिता-शिवदानी सिंह, सा0-नारोमुरार, थाना-वारिसलीगंज, जिला-नवादा

(10) विनोद यादव, पिता-भागवत यादव, सा0-बलवापर, थाना-वारिसलीगंज, जिला-नवादा

(11) पंकज पाठक, पिता-रविन्द्र पाठक, सा0-कुटरी, थाना-वारिसलीगंज, जिला-नवादा

(12) अंजनी सिंह, पिता-उमेश प्रसाद सिंह, सा0-कुटरी, थाना-वारिसलीगंज, जिला-नवादा

(13) मधोरण सिंह, पिता-इंजन सिंह, सा0-कुटरी, थाना-वारिसलीगंज, जिला-नवादा

(14) संजय महतो उर्फ मुन्ना महतो, सा0-मीरचक, थाना-वारिसलीगंज, जिला-नवादा। अब तक कुल 78 अपराधकर्मियों पर सी.सी.ए. की कार्रवाई की जा चुकी है।

इन सभी अपराधकर्मी को निर्देश दिया गया है कि आदेश प्राप्ति की तिथि से पंचायत निर्वाचन 2021 सम्पन्न होने तक सभी आरोपी अपने संबंधित थानों में प्रतिदिन उपस्थिति दर्ज करायेंगे एवं वातावण शांतिपूर्ण बनाए रखेंगे।

NO COMMENTS

Leave a Reply

%d bloggers like this: