29 जुलाई : नवादा की मुख्य खबरें

0

अमित आशिक की सुरीली आवाजों से भोजपुरी इंडस्ट्रीज में मचा रहा तहलका

नवादा : जिले के वारिसलीगंज प्रखंड क्षेत्र के बंढ़ा गांव निवासी उदय सिंह के पुत्र अमित आशिक अपनी मधुर आवाजों से पूरे बिहार में लहरा रहा परचम, तमाम कांवर गीतों की भीड़ से एकदम अलग परम्परा, संस्कार और मिट्टी की महक के साथ ही सावन त्योहार की खूबसूरती को करीने से पिरोकर प्रस्तुत किए गए मगही काबर गीत ‘ लवर बम’ ने रिलीज के साथ ही यूट्यूब पर रंग जमा दिया है। बुधवार को यूट्यूब पर रिलीज किए गए इस मगही कावर गीत को नवादा के उभरते हुए कलाकार सिंगर अमित आशिक ने अपनी मखमली आवाज दी है।

बताते चलें अमित आशिक का एक सप्ताह पहले “शादी कर लिए हैं” जैसे गाने यूट्यूब पर रिलीज हुआ था जिसमें 2.5 मिलियन (2500000) लाख लोगों ने देख लिया है! गायक अमित आशिक ने बताया हमारे पब्लिक श्रोतागण भगवान स्वरूप हैं हम जो भी हैं जिस छोड़ पर पहुंचे हैं जो कुछ भी कर पा रहे हैं आज इन्हीं पब्लिक का दिया हुआ आशीर्वाद है! संगीतकार चंदन सिंह ने लीक से हट कर इस कांवर गीत के बोल लिखे हैं।

संगीतकार चंदन सिंह ने मधुर संगीत और कोरस अंत्र डालकर गीत को अति कर्णप्रिय बना दिया है जबकि महक इंटरटेनमेंट के निर्माता कन्हैया कुमार के प्रयास से इस गीत को जुदा अंदाज में प्रस्तुत करने में सफलता मिली है। महक एंटरटेनमेंट कम्पनी द्वारा रिलीज के साथ ही इस वीडियो गीत की व्यूअरशिप ने धमाल मचा दिया है। शुरुआती प्रति मिनट में ही इसे 50 से 70 व्यू मिले हैं जबकि प्रति घंटे 3 हजार से अधिक के औसत से इसमें वृद्धि हो रही है। किसी भी वीडियो सॉन्ग के लिए यह एक रिकॉर्ड है।

इससे उत्साहित लेखक राहुल जडेजा गायक अमित आशिक व निर्माता कन्हैया कुमार ने कहा है कि इस पारम्परिक काबर गीत की सफलता ने हमें प्रेरित किया है कि हम साहित्य और सांस्कृति को अक्षुण्ण बनाए रखेंगे। गायक अमित आशिक ने म्यूजिक इंडस्ट्री के तमाम सहयोगियों को बढ़-चढ़ कर साथ देने के लिए शुभकामनाएं दी है और अपने शुभचिंतकों का आभार जताया है।

पत्रकारों ने डीएम को दिया स्मारपत्र, कार्रवाई का आश्वासन

नवादा : जिले के कौआकोल में असमाजिक तत्वों ने पत्रकार रौशन कुमार सोनू के निजी वाहन पर शराब रख फंसाने की साजिश के मामले में बुधवार को जिला पत्रकार संघ का प्रतिनिधि मंडल डीएम यशपाल मीणा से मिलकर जांच की मांग की। डीएम ने जांच कराकर न्याय देने की बात कही। सोनू के साथ ही संघ के अध्यक्ष अरविन्द कुमार रवि, यशवंत, रविन्द्र पांडेय, मनमोहन के साथ ही जिले के पत्रकारों ने प्रशासन से मामले की निष्पक्षता से जांच कर साजिशकर्ता के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की है।

जानकारी के मुताबिक रविवार की रात्रि 1 बजकर 20 मिनट पर कौआकोल पुलिस को कन्ट्रोल रुम पटना से सूचना मिली कि कौआकोल ब्लॉक गेट के सामने पत्रकार रौशन कुमार सोनु के बैगनआर गाड़ी से शराब उतारा जा रहा है। जिसके आलोक में कौआकोल पुलिस आननफानन में वहां पहुंची तथा छापेमारी कर वाहन की पड़ताल की गई।

इस क्रम में उक्त वाहन तथा आसपास से पुलिस को कुछ भी नहीं मिला। पुलिस उस स्थान पर 3 बजे तक डटी रही। पर कुछ भी अतापता नहीं चल सका। जिसके बाद पुलिस वहां से लौट गई। पुनः सोमवार को सुबह करीब सात बजे कौआकोल पुलिस को पटना कन्ट्रोल रुम से सूचना दी गई कि रौशन कुमार सोनू के वाहन पर अंग्रेजी शराब रखा हुआ है। जिसके बाद पुलिस ने दुबारा वहां जाकर वाहन की पड़ताल किया। जिस क्रम में पुलिस ने उक्त वाहन के बोनट पर 375 एमएल की एक बोतल अंग्रेजी शराब तथा वाहन के बॉडी के ऊपर छत पर रखे 375 एमएल की एक बोतल अंग्रेजी शराब बरामद किया गया। पुलिस द्वारा वाहन को भी जब्त कर लिया गया था।

अभियुक्त को गिरफ्तार करने गई पुलिस पर लगे कई गंभीर आरोप

नवादा : नगर थाना क्षेत्र के आषाढ़ी गांव में अभियुक्त को गिरफ्तार करने गई पुलिस पर घर वालों ने कई गंभीर आरोप लगाया है। किसी मामले में अभियुक्त बने चिंटू कुमार के परिजनों ने बताया कि मंगलवार की देर रात्रि पुलिस चिंटू को गिरफ्तार करने आई थी, लेकिन चिंटू घर में नहीं था। परिजनों का कहना है कि हमलोग सभी परिवार गांव में ही भोज खाने के लिए चले गए थे।

घर में सिर्फ एक महिला थी जिसके साथ पुलिसकर्मियों ने गाली गलौज करते हुए अभद्र व्यवहार किया। साथ ही पूरे घर में जमकर उत्पात मचाया और गोदरेज में रखें नगद समेत कई अन्य सामान लेकर चलते बने। इतना ही नहीं घर के बाहर लगे दो बाइक को भी ले गए। पुलिस के इस रवैया को देखकर घरवाले काफी उग्र है। इस संबंध में जब सदर एसडीपीओ उपेंद्र प्रसाद से पूछा गया तो उन्होंने अनभिज्ञता जाहिर करते हुए कहा कि मामला मेरे संज्ञान में नहीं है। पुलिस इस तरह से नहीं कर सकती है। बावजूद मामले की सत्यता की जांच की जायेगी।

यदुराम ठाकुर की पूजा अर्चना के साथ धान रोपने का कार्य आरंभ

नवादा : जिले के वारिसलीगंज प्रखंड क्षेत्र के मकनपुर गांव में नाग पंचमी के दिन कुल देवता बाबा यदुराम ठाकुर की पिडी के पास विभिन्न गांव ब्राह्मणों के द्वारा भव्य तरीके से पूजा अर्चना संपन्न की गई। नाग पंचमी के दिन पूजा संपन्न होने के बाद सम्पूर्ण मकनपुर ग्राम पंचायत क्षेत्र के किसान अपने अपने खेतों में धान रोपनी शुरू कर दिया।

बता दें कि मकनपुर गांव में सैकड़ों वर्षों से धान रोपनी शुरू करने के पहले गांव वासियों के द्वारा अपने कुलदेवता यदूराम ठाकुर की पूजा अर्चना (घी पूजा) करने की परंपरा का निर्वाहन करते हुए अगले दिन से धान रोपनी शुरू करने का कार्य करते आ रहे हैं। जिसका निर्वाहन आज भी गांव वासियों के द्वारा अपार श्रद्धा के साथ किया जा रहा है। आज के वैज्ञानिक युग में भी परंपरा का निर्वाह ग्रामीणों द्वारा किया जा रहा है।

पूजा अर्चना और घी देने के लिए गांव के लोग कई दिनों से तैयारी आरंभ कर देते हैं । मुख्य रुप से पंचायत क्षेत्र के गोपालक को घी और दूध पहुंचाने का निमंत्रण, क्षेत्र के खानापुर और चंडीपुर गांव के ब्राह्मणों को पूजा पाठ संपन्न कराने के लिए निमंत्रण देना आदि शामिल है। नाग पंचमी के दिन मकनपुर गांव सहित संपूर्ण मकनपुर पंचायत में किसी प्रकार का खेती बाड़ी से जुड़े कार्य करने की मनाही होती है। घी पूजा के अगले दिन से गांव के किसान युद्ध स्तर पर खेती कार्य में जुड़ जाते हैं।

आधा दर्जन गांव में नाग पंचमी के बाद होती है धान की रोपनी :

– मकनपुर गांव में यदुराम ठाकुर के वंशज निवास करते हैं। जिनके बारे में कहा जाता है कि मकनपुर गांव को उन्होंने ही बसाया था। उनकी पूजा अर्चना नाग पंचमी के दिन भव्य तरीके से की जाती है। पूजा संपन्न होने के अगले दिन से मकनपुर व गांव के इर्द-गिर्द और वारिसलीगंज बाजार से करीब आधा दर्जन गांव गोपालपुर, लीला बीघा भुआल चक, कोल्हा बीघा, मसुदा, दरियापुर आदि गांवो के किसान नाग पंचमी के दिन पूजा अर्चना करने के बाद ही धान रोपनी शुरू करते हैं। नाग पंचमी के पहले चाहे क्षेत्र में कितना भी वारिश या नहर का पानी बह जाए लेकिन धान की रोपनी नहीं की जाती है जो परंपरा सैकड़ों वर्षों से चली आ रही है और आज भी निरंतर जारी है।

महज कुछ पैसे लेकर श्रद्धापूर्वक गोपालक देते हैं पूजा के लिए दूध दही :

-मकनपुर पंचायत क्षेत्र में बसे पशु पालकों का गांव मकनपुर समेत लीला बीघा,भुआलचक ,कोल्हा बीघा आदि के पशुपालक सैकड़ों वर्षों से बाबा के दरबार में पूजा अर्चना के समय लगने वाले घी और दूध पहुंचाने की परंपरा का निर्वाह कर रहे हैं। आज भी पूजा के दिन पशुपालक नाममात्र के पैसे लेकर अपने घरों से शुद्ध घी व दूध बाबा के दरबार में लेकर स्वयं उपस्थित होते है। लोगों द्वारा पहुंचाए गए घी पूजा-अर्चना के दौरान धूप के साथ जला दी जाती है। जबकि दूध का खीर बनाकर गांव वासियों के बीच प्रसाद के रूप में बांट दी जाती है।

पूजा से पहले किसान तैयार करते हैं खेत :

-मकनपुर ग्राम पंचायत का प्राय: सभी छोटे बड़े गांव के किसान नाग पंचमी के घी पूजा से पहले अपने खेतो को तैयार कर रखते हैं। पूजा समाप्ति की रश्म अदायगी के दूसरे दिन से ही युद्ध स्तर पर खेती किसानी का काम शुरू हो जाता है। किसान अपने सारे काम को बंद कर पहले धान की रोपनी करते हैं।

हालांकि कृषि विज्ञान के अनुसार कुछ नई वेराइटी का धान को कम से कम 15 दिन पहले रोपना होता है। लेकिन परम्परा के सामने किसी की नहीं चलती है। बाबा यदुराम की पूजा अर्चना के बाद ही धान रोपने की परंपरा आज भी मकनपुर में कायम है।

आनलाइन फार्म भरने में उत्पन्न हो रही भारी परेशानी

नवादा : कोरोना संक्रमण को लेकर पिछले 6 महीना से स्कूलों कॉलेजों में सन्नाटा पसरा हुआ है। जबकि विश्वविद्यालय स्तर की सभी परीक्षाएं अपने निर्धारित समय से काफी विलंब हो गया है। अब जब संक्रमण की रफ्तार थोड़ी धीमी हुई है तब सरकार के आदेशानुसार 19 जुलाई से स्नातक पार्ट वन और पार्ट टू का ऑनलाइन परीक्षा फार्म भरने की तिथि घोषित कर दिया गया। जिस कारण कॉलेज में रौनक लौटी है। लेकिन ऑनलाइन फार्म भरने में आवेदकों सहित साइबर कैफे वाले को आर्थिक क्षति के साथ-साथ कई खामियों से रूबरू होना पड़ रहा है।

बता दें कि दो वर्ष लेट हो चुकी स्नातक सत्र 18- 21 पार्ट टू और 19- 20 सत्र के पार्ट वन के विद्यार्थियों का ऑनलाइन फॉर्म भरने की तिथि 19 जुलाई से 27 जुलाई तक निर्धारित थी। मात्र 5 दिनों में दोनों वर्गों के बड़ी संख्या में विद्यार्थियों का फॉर्म भरने के साथ नामांकन प्रक्रिया पूरी करना काफी कठिन कार्य हो गया। फलत: नामांकन एवं फार्म भरने को ले जिले के कॉलेजों में विद्यार्थियों का हुजूम उमड़ पड़ा। फार्म भरने की तिथि समाप्त होने के भय से विद्यार्थियों का जमावड़ा सुबह 6 बजे से ही कॉलेज गेट पर जमा हो जाती रही है। कॉलेज का दरवाजा खुलते ही विद्यार्थियों का हुजूम कॉलेज परिसर में बने काउंटर पर लाइन में लग जाते हैं।

तिथि विस्तारित होने की जानकारी नहीं रहने के कारण महाविद्यालयों में विद्यार्थियों की लंबी कतार सुबह से ही लग जाती है। हालांकि अत्यधिक भीड़ जमा होने की शिकायत मिलने के बाद अंतत: विश्वविद्यालय के द्वारा फार्म भरने की तिथि विस्तारित करते हुए 31 जुलाई तक कर दिया गया। साइबर कैफे के संचालक मुकेश कुमार ,संतोष कुमार, राजू कुमार आदि बताते हैं कि अत्यधिक भीड़ के कारण खासी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। खासकर विद्यार्थियों का दबाव के कारण एक ही व्यक्ति का कई बार पेमेंट करना पड़ रहा है।

बताते हैं कि सरवर डाउन रहने या कोई अन्य तकनीकी खराबी के कारण पेमेंट कट जाने के बाद भी कंफर्म प्रिट नहीं दिया जा रहा है। जिसे दो या तीन बार शुल्क पेमेंट करना पड़ रहा है। कुछ विद्यार्थियों के अनुसार बिना पेमेंट किए ही कंफर्म रसीद ऑनलाइन उपलब्ध हो गया है। इस संबंध में साइबर कैफे संचालक बताते हैं कि शुरुआत के दिनों में ऑनलाइन पेमेंट करने की व्यवस्था में काफी खामी थी। एक बार पेमेंट ऑप्शन पर क्लिक कर देने के बाद पेमेंट हो गया तो ठीक, नहीं तो दूसरे बार पेमेंट का ऑप्शन ही नहीं दिया जा रहा था। जिस कारण परेशान विद्यार्थी गलती से दूसरे तीसरे विद्यार्थियों का पेमेंट कर दिया है।

बताते हैं कि एक ही छात्र का एक से अधिक बार पेमेंट कट जाने के बाद भी ऑन लाइन प्रिट रिसीट नहीं देने के कारण दबाव में आकर साइबर कैफे वाले को दो या तीन बार पेमेंट करना पड़ा है। बताया गया कि इस प्रकार का पेमेंट भी अकाउंट में वापस नहीं लौट रहा है। जिस कारण साइबर कैफे संचालकों सहित विद्यार्थियों को आर्थिक क्षति उठानी पड़ रही है।

विश्वविद्यालय को भेजी गई है त्रुटि की जानकारी :

-एसएन सिन्हा महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ सतीश सिंह चंद्रा ने बताया कि ऑनलाइन भुगतान में हो रही परेशानियों की जानकारी विद्यार्थियों से प्राप्त हुई है। ऑनलाइन भुगतान के बिषय में विश्वविद्यालय के संबंधित अधिकारियों को अवगत करा दी गई है।

16 लीटर विदेशी शराब बरामद, मोटरसाइकिल समेत तीन गिरफ्तार

नवादा : जिले के उग्रवाद प्रभावित गोविन्दपुर पुलिस ने अलग-अलग स्थानों पर छापामारी कर 16 लीटर विदेशी शराब बरामद किया है। इस क्रम में मोटरसाइकिल के साथ धंधेबाज को गिरफ्तार किया है। इस बावत उत्पाद अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज कर आरोपी को न्यायिक हिरासत में भेज दिया। थानाध्यक्ष डा नरेन्द्र प्रसाद ने बताया कि गोविन्दपुर चौक के पास झारखंड राज्य के बासोडीह से मोटरसाइकिल से लेकर आ रहे हरनारायणपुर के बाल्मीकि यादव को 16 लीटर विदेशी शराब के साथ गिरफ्तार कर लिया गया।

शराब की खेप नवादा ले जाया जा रहा था। इस बावत उत्पाद अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज कर आरोपी को न्यायिक हिरासत में भेज दिया। दूसरी ओर उत्पाद अधिनियम के फरार चल रहे अभियुक्त थाली के मुकेश कुमार को गुप्त सूचना के आधार पर नवादा से तथा सुघङी के बौधु राम को घर से गिरफ्तार कर लिया। दोनों का कोरोना जांच के बाद न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

फुलवरिया जलाशय की मछली विपन्न व उत्पादन पर लगा ग्रहण

नवादा : जिले के उग्रवाद प्रभावित रजौली प्रखंड क्षेत्र के सबसे बङे फुलवरिया से मछली विपन्नन व उत्पादन पर एकबार फिर ग्रहण लग गया है। नये व पुराने अभिकर्ता के अपने अपने दावे हैं। ऐसे में मामला पटना उच्च न्यायालय से लेकर थाने तक पहुंच गया है। वैसे न्यायालय ने भले ही अपना अंतरिम आदेश अबतक जारी नहीं किया है लेकिन स्थानीय प्रशासन के सामने ऊहापोह की स्थिति बनी हुई है। दोनों मछली निकालने की मांग रहे अनुमति:- फिलहाल नये व पुराने अभिकर्ताओं ने राशि विभाग में जमा करायी है। ऐसे में दोनों मछली निकालने की अनुमति मांग रहे हैं । ऐसे में प्रशासन के सामने ऊहापोह की स्थिति बनी हुई है। फिलहाल जलाशय से मछली निकालने का कार्य ठप है।

क्या है आरोप :-

भौर निवासी उमेश प्रसाद का आरोप है कि पूर्व के अभिकर्ता महसई के रामबली प्रसाद द्वारा राशि जमा नहीं किये जाने के कारण उन्हें विभाग ने काली सूचि में डालते हुए निविदा संख्या 01/21-22 दिनांक 15 जून 21 के तहत निलामी निकाली गई थी। उक्त निलामी के क्रम सर्वाधिक बोली मेरे नाम किया गया था। विभाग द्वारा मांग के अनुरूप राशि जमा कराने के बाद मछली विपन्नन व निकालने की अनुमति प्रदान की गयी थी। इस क्रम में करीब 54 लाख रूपये मूल्य से अधिक का मछली बीज कर्ज लेकर जलाशय में डाला।

रद्द कर दी निविदा :-

अचानक विभाग ने बगैर किसी सूचना व जमा राशि लौटाये निविदा को निरस्त कर पुराने अभिकर्ता के नाम पूर्व की निविदा को बहाल कर राशि जमा करवा ली। ऐसा कर विभाग ने न केवल धोखा दिया बल्कि आर्थिक व मानसिक क्षति पहुंचाई।

दी चुनौती :-

अभिकर्ता उमेश प्रसाद उक्त मामले को पटना उच्च न्यायालय में चुनौती दी है। इसके साथ ही थानाध्यक्ष को आवेदन देकर मछली निकालने के सुरक्षा उपलब्ध कराये जाने के साथ दोषी अधिकारियों के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की है। अब जब मामला न्यायालय से लेकर थाने तक पहुंचा है तब फिलहाल मछली विपन्नन व बिक्री पर ग्रहण लग गया है। फिलहाल दोनों पक्ष मछली पर अधिकार जमाने के लिये अपने अपने दावे कर रहे हैं। ऐसे में न्यायालय के अंतरिम आदेश का इंतजार विभाग व स्थानीय प्रशासन को है।

खेत में काम कर रही दो महिलाओं की वज्रपात से मौत, मचा हड़कंप

नवादा : जिले के हिसुआ थाना क्षेत्र के धमौल बेलदारी गांव के बधार में वज्रपात से दो महिलाओं की मौत हो गई, वहीं एक महिला को गंभीर हालत में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। सभी मृतक व जख्मी घटना के दौरान खेत में काम कर रही थी। घटना के बाद गांव में हड़कंप मच गया है। बताया जाता है कि खेत में काम करने के दौरान तेज बारिश शुरू हो गई, लेकिन महिलाओं ने खेत में अपना काम जारी रखा।.यही चूक उनकी जिंदगी के लिए घातक बन गई। जब आसमान से सीधे उनके ऊपर आफत गिर पड़ी।

ग्रामीणों ने बताया कि कृष्णा चौहान की पत्नी सहुद्री देवी, यदु महतो की पतोहू की मौत हुई है एक महिला गंभीर रूप से घायल है। मौत के बाद पूरे गांव में कोहराम मच गया, खेत में काम कर रहे मौत की खबर मिलते ही अचानक आनन-फानन में सभी लोगों ने अपने काम छोड़ अपने घर की ओर भाग निकल।

स्थानीय लोग बताते हैं कि वज्रपात होने के बाद पूरे गांव में कोहराम मच गया। इस बावत हिसुआ थाना प्रभारी ने बताया कि थाना से महज 500 गज दूरी पर गांव पड़ता है। किसी ने अबतक मौत की सूचना नहीं दी है। इसलिए हमें कोई जानकारी नहीं है। मैं किसी भी प्रकार की मौत की कोई पुष्टि नहीं करता हूं।

118 दिन बीतने के बाबजूद खुलेआम घूम रहा हत्याकाण्ड का अभियुक्त ,पीड़ित ने एसपी से की गिरफ्तारी की मांग

नवादा : जिले के उग्रवाद प्रभावित सिरदला थाना क्षेत्र में चार महीने पूर्व नरेश चौहान पिता स्व सोमर चौहान के पुत्र केदार चौहान की ससुराल वालों ने हत्या कर दी थी। इस बावत 31 मार्च को सिरदला थाना कांड संख्या 129 /21 में धारा 302 /34 के तहत मामला दर्ज किया गया था। हत्याकांड में अभियुक्त किरण देवी, राजो चौहान, मुरारी चौहान, सोनू चौहान को नामजद अभियुक्त बनाया गया था। कांड के करीब 118 दिन गुजरने के बावजूद अबतक एक भी अभियुक्त को पुलिस गिरफ्तार करने में विफल रही है।

इस बाबत पर नरेश चौहान बलुआही थाना नरहट निवासी ने शिकायत पुलिस अधीक्षक डीएस साँवला राम से करते हुए अभियुक्तों की गिरफ्तारी की मांग की है। आरोप है कि हत्याकांड में अनुसंधान कर्ता द्वारा लापरवाही बरती जा रही है। मृतक केदार चौहान के पिता नरेश चौहान ने मीडिया से आप बीती सुनाते हुये कहा कि बेटा को खो दिया चुका हूं अब अभियुक्त हमारी जान लेने पर तुले हैं। बराबर घर पर चढ़कर केस उठाओ नहीं तो जान मारने की धमकी देने का आरोप लगाया है।

आहर में डूबने से किशोर की मौत, परिजनों में मचा कोहराम

नवादा : जिले के उग्रवाद प्रभावित गोविंदपुर थाना क्षेत्र के रामपुर गांव के हाई स्कूल के बगल में आहर में डूबने से किशोर की मौत हो गयी। घटना के बाद मृतक के परिजनों में कोहराम मच गया। मिली जानकारी के अनुसार 14 वर्षीय किशोर रोहित कुमार रामपुर गांव के हाई स्कूल के बगल में काफी गहरे आहर में डूब गया। जिससे उसकी मौत हो गयी। जैसे ही इसकी जानकारी गांव के लोगों को मिली। आनन-फानन में बड़ी  तादाद में लोग मौके पर पहुँच गए और आहर में छलांग लगाकर किशोर की तलाश करने लगे।

काफी मशक्कत के बाद स्थानीय लोगों की मदद से रोहित कुमार के शव को ग्रामीणों के द्वारा बाहर निकाला गया। शव मिलने के बाद पूरे गांव में कोहराम मच गया। स्थानीय लोगों ने किशोर के डूबने की सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में ले पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।

भगवान को जिला प्रशासन ने नहीं दिया तो खटखटाया अदालत का दरवाजा

नवादा : भगवान रामचन्द्र को जिला प्रशासन से नहीं मिला न्याय तो खटखटाया अदालत का दरवाजा। मामला नरहट थाना क्षेत्र के अवगील से जुड़ा है। बताया जाता है कि उक्त गॉव स्थित ठाकुरवाड़ी के देखरेख तथा उस पर होने वाले खर्च के लिये ठाकुरवाड़ी के पुजारी सिरचन्द पांडेय तथा आदित्य पांडेय ने निबंधित विक्रय विलेख के द्वारा वर्ष 31 मई 1942 को भगवान रामचन्द्र, भगवान जानकी एवं भगवान लक्ष्मण के नाम विभिन्न खेसरा का 75 डीसमिल भूमि खरीदा था।

नया सर्वे के दौरान सर्वे कर्मचारी ने उन भगवानों के सेवायत आदित्य पांडेय का दखल कब्जा खरीदी गई भूमि पर पाते हुए नया सर्वे खतियान भी भगवान श्री रामचन्द्रजी, भगवान श्री जानकी जी एवं भगवान श्री लक्ष्मण जी के नाम दर्ज किया तथा सेवायत के रूप में पुजारी आदित्य पांडेय के नाम का उल्लेख किया।
उक्त भूमि का जमाबंदी भी उन भगवानों के नाम कायम है।

किन्तु गॉव के ही पिन्टू रावत एवं अन्य लोग भगवान के नाम रहे उक्त भूमि को दखल करने पर तुले हुए है। तब वर्तमान सेवायत संजय वात्सयान ने उन भगवानों की सम्पत्ति की रक्षा के लिये नरहट थाना से लेकर पुलिस अधीक्षक तक तथा अंचल अधिकारी से लेकर डी एम तक गुहार लगाया।

लेकिन कोई भी प्रशासनिक पदाधिकारी के कान पर जू नही रेंगा। फलतः उक्त सेवायत ने भगवान रामचन्द्र, भगवान जानकी एवे भगवान लक्षमण की ओर से व्यवहार न्यायालय में वाद दायर कर न्याय की गहार लगाई है। अब लोग यह सोचने को मजबूर है कि आये दिन भूमि विवाद का निपटारा करने का दावा करने वाला जिला प्रशासन इस मामले पर ध्यान क्यों नही दिया।

सर्पदंश से जख्मी बालक अस्पताल में भर्ती

नवादा : जिले के नारदीगंज प्रखंड क्षेत्र के ओड़ो गांव में बालक सांप काटने से जख्मी हो गया। जख्मी अवस्था में इलाज के लिए सदर अस्पताल नवादा में दाखिल कराया गया है। बताया जाता है कि बालदेव कुशवाहा का सात र्वषीय पुत्र राहुल कुमार को सर्प डंक मार कर जख्मी कर दिया। सर्पदंश होते ही स्वजनों में कोहराम मच गया। पीडि़त के पिता बालदेव कुशवाहा मूलत; उतरप्रदेश राज्य के रहने वाले हैं। फिलहाल ओड़ो गांव में गोरेलाल साव के घर में सपरिवार किरायेदार के रूप में रहता है,और राजमिस्त्री का कार्य करके परिवार का भरण पोषण करता है।घटना गुरूवार की सुबह में हुई।

मिली जानकारी के अनुसार सभी लोग अपने घर के बाहर दरबाजे पर बैठा हुआ था,वह बालक भी उसी जगह पर खेल रहा था,तभी गेहूंमन सांप छत से नीचे उसी जगह पर गिर पड़ा,और उस बालक को काट लिया,जिससे बच्चा रोने व चिल्लाने लगा,उसके बाद घर के नजदीक रहे नाली की ओर सांप चल दिया। बालक को सांप काटते देखते ही उसके स्वजन व अन्य लोगों ने देखा।

घटना की खबर मिलते ही पप्पु साव,बजरंगी प्रसाद,सुदामा पासवान,प्रशांत तिवारी समेत अन्य लोग दौड़ पडे,और सांप को अधमरा कर बाल्टी के अंदर ढक दिया। स्वजनों ने तत्काल बालक को गंभीरावस्था में सदर अस्पताल नवादा में इलाज के लिए दाखिल कराया। घटना की खबर मिलते ही समाजिक कार्यकर्ता सह पूर्व मुखिया अरविन्द मिश्र ने सदर अस्पताल पहुंचे,और पीडि़त बालक व उसके परिजन से मिलकर सांत्वना दिलाया,उसके बाद वहां कार्यरत चिकित्सक से मिलकर बेहतर इलाज करने के लिए अनुरोध किया। कार्यरत चिकित्सक ने इलाज के बाद उसके परिजनों से कहा कि स्थिति में सुधार हो रहा है,अब वह खतरे से बाहर है।

swatva

Leave a Reply