Home बिहार अपडेट नवादा 22 जुलाई : नवादा की मुख्य खबरें

22 जुलाई : नवादा की मुख्य खबरें

0

सुप्तावस्था में सांप ने बालक को काटा, हुई मौत

नवादा : नारदीगंज थाना क्षेत्र के नारदीगंज पंचायत की पड़रिया निवासी दीपू विश्वकर्मा के तीन वर्षीय पुत्र विकास कुमार की मौत सर्पदंश से हो गई। मृतक का निवास स्थल नारदीगंज से मसौढा जाने वाली मार्ग में पईन के किनारे में है। घटना की खबर मिलते ही स्वजनों व शुभचितको में शोक की लहर दौड़ पड़ी। स्वजनों का रो रोकर बुरा हाल हो रहा था।

घटना की खबर के बाद पूर्व मुखिया प्रमोद कुमार, बीरेंद्र कुमार कुशवाहा, राजेश विश्वकर्मा, नन्हू विश्वकर्मा, मुकेश पासवान, हरखित पासवान, राकेश पासवान समेत कई लोग पहुंचे और शोक संतप्त परिजनों से मिलकर ढ़ांढस बंधाया। बताया जाता है मृतक विकास कुमार अपनी मां प्रभा देवी के साथ मंगलवार की रात में घर के अंदर चौकी पर सोया हुआ था।

उसी चौकी पर अन्य तीन बच्चे भी सोए हुए थे। तभी 1 बजे रात में बिस्तर पर करैत सांप चढ़ गया और सोए हुए बच्चे को काट लिया। जैसे ही बच्चे को सांप ने काटा जोर से चिल्लाने लगा। सभी परिजन जग गए। देखा कि बिस्तर पर सांप है। लोग दौड़े और सांप को मार दिया। उसे इलाज के लिए सीएचसी लाया लेकिन हालत में सुधार नहीं होने पर पावापुरी विम्स ले जाया गया। जहां चिकित्सकों ने इलाज के उपरांत बेहतर इलाज के लिए पटना भेज दिया। इलाज के लिए ले जाने के दौरान बिहार शरीफ पहुंचते ही बालक ने दम तोड़ दिया।

मृतक चार भाइयों में सबसे छोटा था। उसके पिता राज मिस्त्री का काम कर परिवार का भरण पोषण करते हैं। बच्चे के निधन होने से घर में कोहराम मच गया। पीड़ित परिवार ने आपदा राहत कोष से मुआवजे की मांग डीएम से की है। सीओ अमिता सिन्हा ने कहा मृतक के स्वजनों का आवेदन मिलने पर आपदा राहत कोष से सरकारी प्रावधानों के मुताबिक मुआवजे की राशि उपलब्ध कराया जाएगा।

जिले में ट्रामा सेंटर की व्यवस्था नहीं, लोग परेशान

नवादा : केंद्र व राज्य सरकार की ओर से स्वास्थ्य व्यवस्था में सुधार लाने के लिए लगातार प्रयास किया जा रहा है। इसके लिए कई योजनाएं चलाई जा रही है। योजना के माध्यम से अस्पताल भवन निर्माण से लेकर रोगियों के इलाज की समुचित सुविधा उपलब्ध कराया जा रहा है। शहर व ग्रामीण इलाकों में स्वास्थ्य केंद्र खोले जा रहे हैं।

स्वास्थ्य व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त करने के लिए करोड़ों रुपये खर्च किए जा रहे हैं। लेकिन अबतक जिले में ट्रामा सेंटर की व्यवस्था नहीं की गई है। बता दें कि विभागीय नियमानुसार राष्ट्रीय राजमार्ग व स्ट्रेट हाइवे वाले इलाके में ट्रामा सेंटर खोलने का प्रावधान है। सड़क दुर्घटना व आकस्मिक घटना होने पर घायल होने वाले रोगियों का सेंटर में इलाज होना है।

नवादा जिले में पटना-रांची राष्ट्रीय राजमार्ग 31 और राजगीर-गया राजमार्ग 82 समेत अन्य स्टेट हाइवे सड़कें हैं। इन सड़कों पर 24 घंटे छोटे-बड़े वाहनों का परिचालन होता है। आए दिन सड़क दुर्घटना होती है। और कई लोग दुर्घटना के शिकार होते रहते हैं। लेकिन ऐसे रोगियों के इलाज के लिए अबतक जिले में ट्रामा सेंटर की व्यवस्था नहीं की गई है। इसके कारण घायल रोगियों को इलाज की समुचित सुविधा नहीं मिल पा रही है। रोगियों को इलाज कराने में काफी परेशानी उठानी पड़ रही है।

टा्रमा सेंटर है क्या : 

– स्वास्थ्य विभाग की ओर से घटना-दुर्घटना में घायल होने वाले रोगियों के इलाज के लिए ट्रामा सेंटर का संचालन किया जा रहा है। सेंटर में सिर्फ घायल रोगी का ही इलाज होता है। लेकिन जिले में टा्रमा सेंटर नहीं होने से घायल रोगियों का इलाज पीएचसी, अनुमंडल व सदर अस्पताल में किया जा रहा है। ऐसे में रोगी की हालत गंभीर होने पर परेशानी बढ़ जाती है। रोगियों को इलाज के लिए बाहर जाना पड़ता है।

कहते हैं अधिकारी :

– सरकार द्वारा स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से घायल रोगियों के इलाज के लिए ट्रामा सेंटर का संचालन किया जाता है। जिसमें घायल रोगियों के इलाज की समुचित व्यवस्था होती है। घटना-दुर्घटना होने पर घायल रोगियों की भर्ती की जाती है। और त्वरित इलाज की सुविधा उपलब्ध कराने का प्रावधान है। फिलहाल जिले में टा्रमा सेंटर की व्यवस्था नहीं है। स्वास्थ्य विभाग की बैठक में जिलाधिकारी द्वारा अकबरपुर प्रखंड के फतेहपुर मोड़ के आस-पास निर्माण कराने पर चर्चा की गई थी। ऐसे घायल व अन्य रोगियों को इलाज की समुचित व्यवस्था उपलब्ध करायी जा रही है।

धार्मिक धरोहर बचाने का प्रयास लाया रंग, खनन पर लगी रोक

नवादा : जिले के उग्रवाद प्रभावित रजौली प्रखंड मुख्यालय से 6 किलोमीटर दूर लोमष ऋषि पहाड़ पर धार्मिक धरोहर बचाने को ले समाजसेवियों द्वारा किया गया प्रयास अब रंग लाना शुरू कर दिया है। छपरा गांव के सामाजिक कार्यकर्ता पूर्व मुखिया विनय कुमार सिंह की याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने रजौली में लोमष ऋषि पहाड़ पर हो रहे खनन पर रोक लगा दिया है। जिससे धार्मिक धरोहर बचाने की उम्मीद और जगी है।

जैसे ही लोगों को पता चला कि धार्मिक धरोहर की सुनवाई में कोर्ट ने संज्ञान लेते हुए खनन पर रोक लगा दी है, लोगों की खुशी और उम्मीद और जग गई। याचिकाकर्ता के प्रयास को लोगों ने सराहा:- भाजपा के मंडल अध्यक्ष गौरव शांडिल्य उर्फ गगन ने धार्मिक धरोहर बचाने को ले किए गए प्रयास का उन्होंने सराहना किया और कहा कि रजौली का अस्तित्व है इसे मिटना नहीं चाहिए इसके लिए जो भी प्रयास हो लगातार होता रहना चाहिए।

पूर्व प्रधानाध्यापक बालकृष्ण प्रसाद यादव ने कहां कि लोमष ऋषि पर्वत पर याज्ञवल्कय ऋषि का भी स्थान है। यह आज से नहीं 100 वर्ष पूर्व से ही धार्मिक धरोहर के रूप में जाना जाता रहा है लेकिन अधिकारियों और राजनेताओं की उदासीनता के कारण इसका अस्तित्व खत्म होता जा रहा था। अस्तित्व मिटते देखकर हम लोगों को काफी पीड़ा होती थी। आज यह उम्मीद जगी है कि अब यह अस्तित्व बच जाएगा जिससे मन काफी प्रसन्न हुआ है।

हाई कोर्ट ने क्या कहा :

– छपरा गांव के सामाजिक कार्यकर्ता पूर्व मुखिया विनय कुमार सिंह की याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने राज्य सरकार पर कड़ी टिप्पणी की और तुरंत खनन कार्य पर रोक लगाने का आदेश जारी किया। 31 अगस्त को सरकार सरकार से सभी बिंदु पर जवाब मांगा है। याचिकाकर्ता ने हाई कोर्ट में पीआईएल दाखिल कर कहा था कि जिले के रजौली प्रखंड के लोमष ऋषि पहाड़ धार्मिक धरोहर से जुड़ा है। जिसका अस्तित्व मिटता जा रहा है। कोर्ट में याचिकाकर्ता ने धार्मिक धरोहर से जुड़े हुए कई साक्ष्य कोर्ट के समक्ष रखा जिसे देखकर सरकार से जवाब मांगा गया।

लोक शिकायत में भी हुई थी इस मामले को लेकर सुनवाई :

– लोक शिकायत निवारण में सुनवाई के दौरान लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी ने पूरे मामले को देखते हुए यह पाया था कि बंदोबस्ती के दौरान स्थानीय पदाधिकारियों के द्वारा कई साक्ष्य छुपा कर विभाग को रिपोर्ट भेजी गई थी, जिसके बाद बंदोबस्ती किया गया था। वर्ष 2015 में पहाड़ की बंदोबस्ती करने के दौरान तत्कालीन सीओ से रिपोर्ट मांगी गई थी जिसमें पूछा गया था कि पहाड़ पर कोई धार्मिक धरोहर तो नहीं पहाड़ के आस पास कोई गांव तो नहीं रिपोर्ट में तत्कालीन सीओ ने इन सभी बातों को छुपाते हुए विभाग को रिपोर्ट देकर गलत ढंग से पहाड़ का बंदोबस्ती का रास्ता साफ किया था।

सामाजिक कार्यकर्ता पूर्व मुखिया विनय सिंह ने मुख्यमंत्री से लगाई थी गुहार :

-जिले के रजौली में जल जीवन हरियाली यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पहुंचे थे। उस समय सामाजिक कार्यकर्ता पूर्व मुखिया विनय कुमार सिंह ने धार्मिक धरोहर पर हो रहे पत्थर खनन को रोकने को ले मुख्यमंत्री को आवेदन दिया था। जिसके बाद मुख्यमंत्री कार्यालय से 26 दिसंबर 2019 को विभाग के प्रधान सचिव को पूरे मामले की जांच करने को ले आदेश दिया गया था। उसके बाद इस मामले की सुनवाई लोक शिकायत निवारण में हुई थी सुनवाई की रिपोर्ट सरकार को भेजी गई थी।

लोमष ऋषि पहाड़ पर है ऋषि मुनियों की तपोस्थली :

– लोमष ऋषि पहाड़ के सबसे उंची चोटी पर लोमष ऋषि और याज्ञवल्क्य ऋषि का तपोस्थली है।इस पहाड़ के इर्द गिर्द दर्जनों गांव के लोगों का आस्था जुड़ा है।सभी लोग यहां मन्नत मांगने आते हैं और पूरा होने के बाद अपने बच्चों का मुंडन संस्कार कराते हैं।

पहाड़ के बगल में है घनी आबादी और शैक्षणिक संस्थान :

-लोमष ऋषि पहाड़ से 500 मीटर दूरी पर सरकारी विद्यालय है और उससे 100 मीटर आगे घनी आबादी वाला गांव सरमसपुर है। इस पहाड़ पर पत्थर तोड़ने के लिए कंपनी के द्वारा ब्लास्टिग किया जाता है तब गांव में मानो भूकंप के जैसा झटका महसूस होता है। जिससे यहां के लोग काफी परेशान हैं। कई बार लोगों को जान माल का नुकसान हुआ है।

खनन व पर्यटन विभाग को भेजा गया लोक शिकायत का आदेश :

-लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी ने अपने आदेश में लिखा है कि खनन एवम पुरातात्विक विभाग एवं पर्यटन विभाग को संलग्न साक्ष्य के आलोक में पुरातात्विक धरोहर को पुन: सर्वेक्षण समीक्षा करने की आवश्यकता है ताकि लोमष ऋषि आश्रम एवम याज्ञवल्क्य ऋषि आश्रम के अलावा आसपास के पुरातात्विक स्थलों को विभागीय नियमानुसार सूचीबद्ध कर संरक्षित कर सके एवम खनन कार्य पर रोक लगाई जा सके। उन्होंने इस संबंध में अपेक्षित कार्रवाई हेतु इस आदेश की कॉपी सचिव खनन एवम भूतत्व विभाग बिहार पटना, सचिव पर्यटन विभाग एवम जिलाधिकारी नवादा को भेज चुके हैं।

नगर से दो बाइक की चोरी

नवादा : नगर के दो अलग-अलग मुहल्लों से बाइक चोर गिरोह ने दो बाइकों की चोरी कर ली । पीङित ने सूचना नगर थाने को दी है। नगर के अंसार नगर मुहल्ले में अपने संबंधी से मिलने पहुंचे अकबरपुर प्रखंड क्षेत्र के धंधारी गांव के मो शमशाद आलम की बाइक हीरो ग्लैमर नम्बर बी आर 27 डी 7410 की चोरी बाइक चोर गिरोह कर ली। इसी प्रकार नगर के न्यू एरिया मुहल्ले से शिक्षक राजीव कुमार के घर के आगे लगी होंडा शाइन नम्बर बी आर 01 डी एल 919 को बाइक चोर गिरोह ने चोरी कर ली ।

दोनों पीड़ितों ने चोरी की सूचना नगर थाना को दी है। सूचना के आलोक में पहुंची पुलिस ने मामले की जांच आरंभ की है। बता दें नगर में शायद ही कोई दिन ऐसा गुजरता हो जिस दिन दोपहिया व चार पहिया वाहन की चोरों द्वारा चोरी न की जाती हो।

असामाजिक तत्वों ने बाबा भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा को किया खंडित

नवादा : जिले केअकबरपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत नेमदारगंज बाजार में स्थापित बाबा डॉ भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा को बुधवार की देर रात असमाजिक तत्व के लोगों ने तोड़ दिया। प्रतिमा तोड़ने की जानकारी ग्रामीणों द्वारा फोन कर थाने को दिया। सूचना मिलते ही अकबरपुर थानाध्यक्ष अजय कुमार गोविंदपुर थानाध्यक्ष डॉ नरेन्द्र प्रसाद, अकबरपुर बीडीओ मृत्युंजय कुमार,सीओ रोहित कुमार दल-बल के साथ घटनास्थल पर पहुंच कर जायजा लिया।

बाबा साहेब की प्रतिमा तोड़ने जाने पर ग्रामीण तथा भीम अर्मी के द्वारा निंदनीय बताते हुए प्रशासन से पुनः प्रतिमा स्थापित करने तथा सुरक्षा के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाने की मांग की। प्रतिमा तोड़ने जाने की सुचना मिलते ही एसडीओ चन्द्रशेखर आजाद , डीएसपी संजय कुमार पाण्डेय ने घटनास्थल पर पहुंच कर जायजा लिया।

मौके पर उपस्थित भीम आर्मी के जिला अध्यक्ष चंदन कुमार चौधरी,तथा सदस्य बुधाय चौधरी, सुरेन्द्र चौधरी, रामचंद्र रविदास, सुरेश राम,बाबुलाल रविदास ने प्रशासन से प्रतिमा तोड़ने वाले असमाजिक तत्व के लोगों को चिन्हित कर कारवाई करने की मांग करते हुए नये प्रतिमा सरकारी खर्च से तथा सुरक्षा के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाने की मांग की।

मौके पर उपस्थित राजद महिला प्रकोष्ठ जिलाध्यक्ष रेणु सिंह ने बाबा साहेब की प्रतिमा तोड़ने जाने को निंदनीय बताया। उन्होंने कहा की जो भी इस घटना को अंजाम दिया बहुत गलत किया ,बाबा साहेब तो सबके हित में संविधान लिखा है। उन्होंने जिला प्रशासन से मांग करते हुए कहा कि जो भी असमाजिक तत्व के लोग बाबा साहेब का प्रतिमा तोड़ा है उसे गिरफ्तार कर कानुनी कारवाई करने की मांग की साथ ही प्रतिमा को सुरक्षा के लिए सीसीटीवी कैमरा लगाने की मांग की।

जंगल से आए पानी ने मचाई तबाही, कई घरों में नहीं जले चूल्‍हे, दुकानदारों को आर्थिक नुकसान

नवादा : जिले के उग्रवाद रजौली  जंगली क्षेत्र में हुई बारिश से खुरी नदी में आई बाढ़ का पानी बुधवार को धमनी पंचायत के कुम्हरुआ गांव के घरों व दुकानों में घुस गया। जिससे गांव के लोग मुश्किलों में घिर गए। दोपहर 12 बजे तक लोगों के घरों में चूल्हे भी नहीं जले थे और लोग भूख से बिलबिलाते रहे। छोटे-छोटे बच्चों वाले घर के लोगों को काफी परेशानियां हुई। दोपहर 12:30 बजे तक बाढ़ का पानी का जलस्तर कम होने के बाद राहत मिलने के आसार दिखे।

गांव के ग्रामीणों दर्जनों महिला-पुरुषों का आरोप है कि कुम्हरुआ गांव के किनारे पर जो डैम बना है, उस में बाढ़ का पानी भर गया था। डैम का वह पानी कुम्हरुआ व गिरगी, डुमरकोल गांव जाने वाले रास्ते में खुरी नदी पर बनी पुलिया के दोनों किनारों से होकर कुम्हरुआ गांव के घरों व दुकानों में घुस गई। ग्रामीणों का कहना है कि पंचायत की मुखिया द्वारा मनरेगा योजना से खुरी नदी पर 3.70 लाख रुपये की लागत से छोटी पुलिया का निर्माण कराया गया था। जिसके कारण बाढ़ का पानी पुलिया के दोनों छोर से होकर गांव में घुस गया।

अगर यह पुलिया 5-7 फीट और लंबी होती तो लोगों के घरों में बाढ़ का पानी नहीं जाता और पुलिया के रास्ते होकर वह नदी में चला जाता। लेकिन धमनी मुखिया धीरज कुमार की लापरवाही से गांव के लोगों को भारी मुश्किलों का सामना करना पड़ा है और लोगों के घरों में पानी घुस गए हैं। जिससे लोगों की मुश्किलें बढ गयी है ।

युवक ने की फांसी लगा खुदकुशी

नवादा : जिले के हिसुआ नगर पंचायत क्षेत्र के बङी मस्जिद मुहल्ले के युवक ने गले में फांसी का फंदा लगा खुदकशी कर लिया। सूचना के आलोक में पहुंची पुलिस ने शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजा है। बताया जाता है कि मो मंजूर का 18 वर्षीय पुत्र मो कुर्बान पटना में रहता था। एक दिन पूर्व बकरीद मनाने घर आया था।

त्यौहार के दूसरे दिन गुरुवार की सुबह कमरे में फांसी लगा खुदकुशी कर ली। खुदकुशी के संबंध में परिजन कुछ बताने से परहेज कर रहे हैं। थानाध्यक्ष राजीव कुमार पटेल ने बताया कि गले में फांसी लगाने के निशान मिले हैं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कह पाना संभव है। पूरे मामले की जांच आरंभ की है।

चौकीदार की हृदयगति रूकने से मौत

नवादा : जिले के गोविन्दपुर प्रखंड क्षेत्र के खैरा खुर्द गांव के चौकीदार त्रिवेणी सिंह की मौत बुधवार की देर रात हृदयगति रूकने से हो गयी। मौत की सूचना मिलते ही गांव में सन्नाटा छा गया। चौकीदार के बङे पुत्र मनोज कुमार ने बताया कि संध्या आठ बजे समाचार सुनने के बाद वे बाथरूम गये। बाहर निकलते ही पसीने से सराबोर चौकी पर आकर गिर गये। पत्नी बचन देवी को इशारा कर कुछ बताने का प्रयास किया।

इस क्रम में स्थानीय चिकित्सक को इलाज के लिए बुलाया गया लेकिन उन्होंने बाहर ले जाने की सलाह दी। अकबरपुर प्राथमिकी स्वास्थ्य केन्द्र लाते रास्ते में मौत हो गयी। मौत की सूचना मिलते ही जिला सरपंच संघ के अध्यक्ष त्रिवेणी सिंह, मुखिया संतोष उर्फ रामविलास राजवंशी, लालो प्रसाद आदि ने पहुंच कर शोक संतप्त परिवार को सांत्वना दी।

प्रभारी मंत्री का हिसुआ में कार्यकर्ताओं ने किया भव्य स्वागत

– नदियों को अतिक्रमण से कराया जायेगा मुक्त–नीरज 

नवादा : जिला प्रभारी मंत्री सह वन एवं पर्यावरण मंत्री नीरज कुमार बब्लू का हिसुआ में भाजपा कार्यकर्ताओं ने भव्य स्वागत किया। कार्यकर्ताओं ने उन्हें फूल माला एवं पुष्प गुच्छ देकर सम्मानित किया, जबकि पूर्व विधायक अनिल सिंह ने अपने आवास पर प्रभारी मंत्री को अंग वस्त्र एवं पुष्प गुच्छ देकर सम्मानित किया। प्रभारी मंत्री ने बिहार के प्रथम मुख्यमंत्री डा श्रीकृष्ण सिंह के ननिहाल खनवां में बने अस्पताल के उद्घाटन के क्रम में थोड़ी देर के लिए हिसुआ पूर्व विधायक अनिल सिंह के आवास पर रूके।

इस क्रम में उन्होंने पत्रकारों से मुखातिब होते हुए कहा कि जिन-जिन नदियों का अतिक्रमण किया गया है,  उसे अतिक्रमण से मुक्त कराया जायेगा। नदियों को अतिक्रमण से मुक्त कराने का सारा खाका तैयार कर लिया गया है। यदि आपलोगों के पास ऐसी नदी की जानकारी है, जिसे अतिक्रमण किया गया है तो इसकी सूचना उपलब्ध करायें।

भाजपा जिला अध्यक्ष को आवेदन दे, सूचना मुझ तक पहुँच जायेगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने स्पष्ट आदेश दे रखा है कि नदियों को अतिक्रमण से मुक्त कराया जाय। सरकार द्वारा इस दिशा में सार्थक कदम उठाया गया है। बढती मॅहगाई एवं पेट्रोलियम पदार्थों के दाम में आसमान उछाल के सवाल पर मंत्री ने कहा कि मॅहगाई एवं पेट्रोलियम पदार्थों के दाम में उछाल सिर्फ भारत में ही है। महॅगाई तो विश्व के सभी देशों में है।

उन्होंने कहा कि कोरोना काल में करीब  80 करोड़ परिवार को निःशुल्क खाद्यान्न, पूरे देश वासियों को निःशुल्क कोरोना का टीकाकरण, उज्जवला योजना से गरीब परिवार को निःशुल्क गैस कनेक्शन, किसान सम्मान निधि, सङक,बिजली आदि कई योजनाओं पर जो पैसा खर्च हो रहा है, वह पैसा इसी टैक्स से आया है। मौके पर पूर्व विधायक अनिल सिंह, कन्हैया कुमार समेत भारी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता मौजूद थे।

प्रभारी मंत्री ने किया समाहरणालय में विकास कार्यों की समीक्षा

– दिया आवश्यक दिशा निर्देश

नवादा : नीरज कुमार सिंह मंत्री पर्यावरण वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग, बिहार, पटना-सह-प्रभारी मंत्री नवादा की अध्यक्षता में समाहरणालय के डीआरडीए सभागार में विकासात्मक कार्यां की समीक्षात्मक बैठक आयोजित की गई। जिलाधिकारी यशपाल मीणा द्वारा पावर प्रेजेंटेशन के माध्यम से सभी विभागों की अद्यतन जानकारी दिया गया। मंत्री ने जिलाधिकारी नवादा की टीम के द्वारा किये गए कार्यां पर संतोष व्यक्त किया।

उन्होंने कहा कि वैश्विक महामारी में कोविड-19 के संक्रमण से बचाना ही सर्वोच्च प्राथमिकता है। इसके लिए काफी संख्या में सैम्पल की जांच प्राथमिकता है। इसके लिए काफी संख्या में सैंपल की जांच एवं वैक्सीनेशन जिला के द्वारा किया जा रहा है। इसके लिए माननीय प्रधानमंत्री और माननीय मुख्यमंत्री का शुक्रिया अदा किया।

उन्होंने कहा कि 15 लाख में करीब 04 लाख लोगों का टीकाकरण हो चुका है। शहरी क्षेत्रों में भी 77 प्रतिशत लोगों को टीका दिया जा चुका है। उन्होंने सभी माननीय विधायकों से आग्रह किया कि टीकाकरण के लिए सभी को जागरूक करें। जीवन को बचाना है तो टीका जरूरी है। यह वैक्सीन सफल और बिल्कुल सुरक्षित है, जिसका साइड इफेक्ट कुछ भी नहीं है। कन्फ्यूजन में नहीं रहना है आगे बढ़कर टीका लेना है। हमारे देश का टीका बिल्कुल सुरक्षित और प्रभावकारी है। सभी को टीकाकरण करवाने में माननीय विधायकों का बहुत बड़ा रोल है। सरकार का प्रयास है कि शत प्रतिशत लोगों का टीकाकरण किया जा सके।

जिला प्रशासन के द्वारा कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिए जिला प्रशासन के द्वारा बेहतरीन सुविधा उपलब्ध करायी गई है। जिले में 100 प्रतिशत वैक्सीनेशन होने के पश्चात कोविड-19 संक्रमण का डर नहीं रहेगा। जान बचाना है तो कोविड का टीका लेना ही होगा। मंत्री ने कहा कि सभी अधिकारियों के द्वारा सभी विभागों में तत्परता से कार्य किया जा रहा है। इसके कारण ही राज्य में जिला चौथे स्थान पर है।

उन्होंने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री का मुख्य उद्देश्य है किसानों की आय को दोगुना करना। इसके लिए सिंचाई की बेहतर सुविधा बिजली के माध्यम से दी जा रही है। जितने आवेदन प्राप्त हुए उसका 50 प्रतिशत का बिजली कनेक्शन निःशुल्क दी गई है। उन्होंने कार्यपालक अभियंता विद्युत को निर्देश दिया कि फिर से किसानों का आवेदन प्राप्त करें एवं निःशुल्क बिजली कनेक्शन देना सुनिश्चित करें। अभी जिले में कोविड-19 संक्रमित व्यक्तियों की कुल संख्या मात्र 05 है। करीब 15 दिनों में कोई संक्रमित व्यक्ति जिले में नहीं मिले हैं, जो काफी संतोषजनक है।

उन्होंने कहा कि हर खेत को पानी के लिए, बिजली पहुंचाना जरूरी है। बिजली से सिंचाई करने में काफी कम खर्च आता है। जिले में खेलकूद की भी अच्छी व्यवस्था है और अच्छे खिलाड़ी हैं। यहां पर इंडोर स्टेडियम में सुधार की आवश्यकता है। बहुत खिलाड़ी जिला का नाम रौशन कर चुके हैं। इसके लिए मुस्तैदी और पारदर्शिता के साथ कार्य करना है। जिले के विकास के लिए सभी का सहयोग अपेक्षित है। महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा दिया गया है। यहां 05 विधायक में 04 महिला विधायिका हैं, जो महिला सशक्तिकरण का प्रतीक हैं।

उन्होंने पर्यटक क्षेत्र को बेहतरीन बनाने के लिए अधिकारियों को कई निर्देश दिया। एक साल के अन्दर ककोलत में बड़े पैमाने पर विकास किया जायेगा। यशपाल मीणा जिलाधिकारी नवादा पावर प्रेजेंटेशन के माध्यम से सभी विभागों को फीडबैक माननीय मंत्री महोदय को दिया। बैठक में स्वास्थ्य विभाग, कृषि विभाग, जीविका, र्प्यटन, आईसीडीएस, लघु सिंचाई, पंचायती राज, जल जीवन हरियाली, प्रधानमंत्री आवास योजना, पीएचईडी, भवन प्रमंडल आदि विभागों की अद्यतन जानकारी माननीय मंत्री महोदय को दिया।

स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के क्रम में बताया गया कि 10 लाख 17 हजार 545 सैंपल की जांच की गई जिसमें पॉजिटिव मरीजों की संख्या 8937 पाई गई। अभी जिले में मात्र 5 संक्रमित सक्रिय मरीज हैं। जिसमें 03 पुरूष एवं 02 महिला हैं। जिले में कोविड-19 के संक्रमण से ठीक होने वालों की संख्या 8 हजार 878 है। जिले में स्वस्थ्य होने वालों की संख्या 99.34 प्रतिसत है। जिले में करीब 500 से अधिक छोटे बड़े ऑक्सीजन गैस के सिलेंडर हैं। सदर हॉस्पीटल नवादा एवं रजौली में ऑक्सीजन प्लांट का कार्य प्रगति पर है।

08 अगस्त 2021तक दोनों जगहों पर ऑक्सीजन प्लांट लगाने का कार्य पूर्ण हो जायेगा। कोविड के तीसरा लहर का जिला में कोई प्रभाव नहीं पड़े। इसके लिए अभी तक 15 लाख में से 04 लाख लोगों को टीकाकरण किया जा चुका है। प्रथम डोज लेने वालों की संख्या 3 लाख 27 हजार 575 एवं द्वितीय डोज लेने वाले की संख्या 63 हजार 609 है। बैठक में डीएफओ ने बताया कि पौधारोपण का लक्ष्य 14 लाख नवासी हजार 625 है, जबकि अभी तक 8 लाख 41 हजार 230 पौधे लगाए जा चुके हैं। बृक्षारोपण जीविका का लक्ष्य 2 लाख 50 हजार है। जंगल के आस-पास के गांव को 36 हजार पौधे निःशुल्क प्रदान किये जायेंगे। अभी तक 23 हजार 100 पौधे वितरण किया जा चुका है।

एनएच 31 और 82 की प्रगति की कार्यां की समीक्षा की गई। गंगा जल उद्भव योजना के लिए 34 करोड़ 55 लाख रूपये आवंटित की गई है। जिसमें से 03 करोड़ 33 लाख का कार्य पूर्ण हो चुका है। डीपीएम जीविका ने बताया कि जीविका के माध्यम से 02 हजार 409 लोगों को सीधे रोजगार दिया गया है। स्थलों पर जीविका दीदी नर्सरी का कार्य भी कर रही हैं। जिला कृषि पदाधिकारी ने बताया कि जिले में यूरिया एवं अन्य उर्वरकों की कोई कमी नहीं है। जिले में 1021 एमटी उर्वरक उपलब्ध है। जीविका दीदीयों के द्वारा सदर हॉस्पीटल नवादा एव रजौली में दीदी रसोईघर का कार्य 02 हफ्ते में पूर्ण कर लिया जायेगा।

बैठक में माननीय विधायकों के द्वारा बिजली के जर्जर तार को शत प्रतिशत बदलने के लिए कहा गया। उप विकास आयुक्त वैभव चौधरी ने बताया कि मनरेगा में कुल 5 लाख 16 हजार 457 जॉब कार्ड का वितरण कर दिया गया है। प्रधानमंत्री आवास योजना के द्वारा 7 साल से आवास को पूर्ण कर संबंधित व्यक्तियों को उपलब्ध करा दिया गया है। प्रधानमंत्री आवास योजना के पूर्णता में नवादा जिला का राज्य में तीसरा स्थान प्राप्त है।

रजौली माननीय विधायक श्री प्रकाश वीर, माननीय विधायक हिसुआ श्रीमती नीतू कुमारी, माननीय विधायक नवादा श्रीमती विभा देवी, माननीय विधायक गोविंदपुर मो0 कामरान और माननीय विधायक श्रीमती अरूणा देवी के द्वारा भी अपने-अपने क्षेत्रों की समस्याओं के बारे में माननीय मंत्री को अवगत कराया।

बैठक के अंत में अपर समाहर्त्ता श्री उज्जवल कुमार ने माननीय मंत्री महोदय एवं सभी उपस्थित विधायकों को धन्यवाद ज्ञापित किया। इस अवसर पर अपर समाहर्त्ता उज्जवल कुमार, उप विकास आयुक्त वैभव चौधरी, अनुमंडल पदाधिकारी नवादा सदर उमेश कुमार भारती, जिला कृषि पदाधिकारी, जिला परिवहन पदाधिकारी, जिला जन सम्पर्क पदाधिकारी, सभी वरीय उप समाहर्त्ता के साथ-साथ सभी जिला स्तरीय पदाधिकारी उपस्थित थे।

प्रभारी मंत्री ने किया सदर अस्पताल का निरीक्षण

– बृक्षारोपण कर दिया प्रर्यावरण संरक्षण का संदेश

नवादा : नीरज कुमार सिंह पर्यावरण वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग, बिहार, पटना जिला प्रभारी मंत्री ने आज सदर हॉस्पिटल नवादा का औचक निरीक्षण किया। हॉस्पिटल निरीक्षण के समय यशपाल मीणा जिलाधिकारी नवादा, वैभव चौधरी उप विकास आयुक्त, डॉ0 श्रीमती निर्मला कुमारी सिविल सर्जन ने माननीय मंत्री महोदय को स्वास्थ्य विभाग के द्वारा अब तक किये गए कार्यां का फीडबैक दिया।

मंत्री ने अब तक किये गए कार्यां से संतोष व्यक्त किया। उन्होंने ऑक्सीजन प्लांट जो सदर हॉस्पीटल में लगाया जा रहा है, उसका भी निरीक्षण किया एवं सिविल सर्जन और अधिकारियों को कई आवश्यक निर्देश दिया। सिविल सर्जन ने बताया कि 08 अगस्त 2021 तक ऑक्सीजन गैस प्लांट को चालू करने का लक्ष्य है। इसके लिए सभी प्रकार की आवश्यक तैयारी की जा रही है।

बिजली के लिए ट्रांसफार्मर उपलब्ध करा दिया गया है। ऑक्सीजन पाईप का काम किया जा रहा है। मंत्री महोदय के द्वारा पर्यावरण को शुद्ध और स्वच्छ रखने के लिए सदर हॉस्पीटल परिसर में कई पौधे का रोपण किया एवं उपस्थित अधिकारियों को भी स्वयं पौधे लगाने का निर्देश दिया। उन्होंने सदर हॉस्पीटल में आम, नीम आदि का पौधा लगाया एवं पर्यावरण के लिए लोगों को जागरूक किया।

NO COMMENTS

Leave a Reply

%d bloggers like this: