10 मई : नवादा की मुख्य खबरें

0

बरेव में कोरोना से 2 की मौत

नवादा : जिले के अकबरपुर प्रखंड क्षेत्र के बरेव पंचायत की बरेव गांव में 2 दिनों में कोरोना से दो की मौत हो गई है। आशय की जानकारी देते हुए बीजेपी नेता मनोज सिंह तपेशी सिंह ने दूरभाष पर बताया कि अंबिका सिंह की पत्नी का आज अहले सुबह तबीयत बिगड़ने से मौत हुई। करोना के लक्षण पाया गया था। दूसरी ओर रविवार की दोपहर बरेव के अजय सिंह की भी मां का देहांत हुआ। कोरोना से मौत की खबर सुनते ही पूरे गांव में दहशत व्याप्त हो गया है।

बरेव वासी ने जिला प्रशासन से पूरे गांव को सेनीटाइज करने व वैरिकेटिंग कराने की मांग की है। बता दें इसके पूर्व कोरोना महामारी से पिछले साल कई लोग संक्रमणित हुए थे। संक्रमण को रोकने के लिए जिला प्रशासन से बरेव वासियों ने पूरे गांव को सील और सेनेटाइज करवाने की मांग की है तथा मेडिकल टीम भेजकर जांच करवाने की मांग की है।

रेलवे ट्रैक पार कर रहे युवक की ट्रेन से कटकर दर्दनाक मौत

नवादा : गया-किऊल रेलवे खंड पर नवादा तीन नम्बर रेलवे क्रॉसिंग के पास रेलवे ट्रैक को पार कर रहे युवक की ट्रेन से कटकर मौत हो गयी। युवक ट्रैक पार रहा था अचानक वहां ट्रेन आ गई और उसे संभलने का मौका नहीं मिला। ट्रेन से कटकर मौत के बाद वहां लोगों की भीड़ जुट गई। इस हादसे को लेकर आसपास रहने वाले प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि वह व्यक्ति रेलवे ट्रैक को पार कर रहा था तभी ट्रैक पर गया- हाबङा पैसेंजर ट्रेन आ गया। ट्रेन के आने से उसे संभलने का मौका नहीं मिला और कुछ ही सेकंड में उस की कटकर मौत हो गई।

हादसे के बाद वहां लोगों की भीड़ जुट गई और कुछ लोगों ने पुलिस को सूचना दी। जिसके बाद पुलिस वहां पहुंची और शव को अपने कब्जे में ले लिया। युवक की पहचान कौवाकोल थाना इलाके के रहने वाले गुलशन कुमार के रूप में हुई है। वह नवादा सिविल सर्जन डा अखिलेश कुमार मोहन के प्राइवेट क्लीनिक में काम करता था। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंपा है।

अधिकारियों ने सीएचसी नारदीगंज में आइसोलेशन वार्ड का लिया जायजा

नवादा : सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामले को देखकर पिछले 5 मई से प्रदेश में लॉकडाउन करने का निर्देश दिया है, यह आदेश अगामी 15 मई 2021 तक प्रभावी रहेगा। लॉकडाउन के छठे दिन सोमवार को जिला पंचायतीराज पदाधिकारी सह नारदीगंज प्रभारी अंशु कुमारी बीडीओ राजीव रंजन,सीओं अमिता सिन्हा ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नारदीगंज का जायजा लिया।

मौके पर प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डा0 अखिलेश प्रसाद,डा0 इरशाद हसन,डा0 नीरजा भारती,डा0 विजय कृण परमेश्वरम्,डा0 विमलेन्द्र कुमार, प्रधान लिपिक सत्यप्रकाश,लेखापाल जयप्रकाश कुमार, लैब टेक्निशयन जितेन्द्र कुमार, आशुतो कुमार,कम्पाउण्डर अरविन्द कुमार समेत अन्य स्वास्थ्यकर्मी मौजूद रहें।

इस दौरान अधिकारियों ने सीएचसी में आइसोलेशन वार्ड का जायजा लियाया साथ ही साथ टीकाकरण व कोरोना जांच का अवलोकन किया। अधिकारियों ने कहा कि कोरोना वायरस की जांच व टीकाकरण अधिक से अधिक लोगों को किया जाय। 18 र्वष से अधिक आयुवाले लोगों का भी टीकाकरण 9 मई से शुरू हो गया है।

बताया गया कि सीएचसी में दोपहर तक प्रखंड के विभिन्न गांवों के 78 लोगों को एंटीजन के माध्यम से जांच हुआ है,जिसमें 4 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाये गये है। इसके अलावा 25 लोगों का सैम्पल आरटीपीसीआर के लिए पटना भेजा गया है। वही सीएचसी के अलावा कहुआरा गांव में 56 लोगों का कोरोना जांच किया गया।साथ ही साथ सीएचसी में 18 र्वष से अधिक आयुवाले 55 लोगों को कोरोना टीकाकरण किया गया है। लोग उत्साहित होकर टीकाकरण में अपनी उपस्थिति दर्ज करा रहें है।

बीआरसी भवन में की गयी सामुदायिक किचेन की व्यवस्था

नवादा : कोरोना वायरस के बढतें हुए संक्रमण को देखते हुए सरकार ने प्रदेश में 15 मई तक लॉकडाउन का आदेश दिया है। ऐसा कोरोना वायरस के संक्रमण का चैन को तोड़ने के लिए किया गया है। यह कोरोना का दूसरी लहर है। लॉकडाउन की अवधि में गरीब नि;सहाय,लाचार निराश्रित वृद्ध,भिखारियों के लिए सरकारी स्तर पर भोजन की व्यवस्था किया गया है।

बीडीओ राजीव रंजन ने सोमवार को बताया इसके लिए बीआरसी भवन नारदीगंज में सामुदायिक किचेन की व्यवस्था किया गया। जहां इस अवधि में आने वाले गरीब मजदूरों व दैनिक कामगारों को भूखे नहीं सोना पडे। इसके लिए वैसे लोगांं के लिए सामुदायिक किचेन की व्यवस्था किया गया है। जहां नि;शुल्क भोजन उपलब्ध कराया जायेगा। उन्होंने कहा लॉकडाउन की अवधि में गरीब परिवारों को काम नहीं मिल पा रहा है। दैनिक काम करने वाले श्रमिकों के सामने कई प्रकार की परेशानी भी सामने आ रही है। वैसे लोगों को भूखे पेट सोना नहींं पड़े,इसके लिए सामुदायिक किचेन की व्यवस्था किया गया है।

8051 संक्रमित में से 24 की मौत

नवादा : जिले भर में आज तक कोविड-19 से संबंधित प्रोग्रेस रिपोर्ट निम्नवत है :-
कुल पॉजिटिव केस-8051, कुल एक्टिव केस- दिनांक 01.03.2021 से 08.05.2021 तक 4217, 09.05.2021 को 80 कुल 4297, दिनांक 09.05.2021 को डिस्चार्ज-203, दिनांक 28.02.2021 तकमृत्यु-28, 01.03.2021 से अबतक मृत्यु-24, वर्तमान में एक्टिव केस-1119, कुल रिकवर्ड-6892, कुल मृत्यु-52, कुल होम आइसोलेषन- 1081, टोटल इन्स्टीच्यूषनलआइसोलेषन-38, कोरोना टेस्टिंग-आरटीपीसीआर- 08.05.2021 को 112222, 09.05.2021को 441, कुल-112663, ट्रूनट-दिनांक 08.05.2021 को 43813, 09.05.2021 को 150कुल-43963, रैपिड एन्टीजन-दिनांक 08.05.2021 को 604788,

09.05.2021 को 2194कुल-606982, कुल टेस्टिंग की संख्या-763608, टोटल रिजल्टरिसिव्ड-762375, टोटल कन्टेंमेंट जोन 697, टोटल स्केलडाउन-359, टोटल एक्टिव कन्टेंमेंट जोन -338, डिस्ट्रिक्ट कोविड हेल्थ केयर नवादामें प्रतिनियुक्त पदाधिकारी श्री प्रशांत अभिषेक, अपर अनुमंडल पदाधिकारी नवादा सदर,मो0नं0-9717729840 है, डॉ0 इनचार्ज डा0 अजय कुमार, बेड की संख्या-60,एडमिटेड-28, एसडीएच रजौली में श्री विमल कुमार सिंह एलआरडीसी मो0 नं0-7004667608है, प्रतिनियुक्त डॉ0 बी0एन0 चौधरी, बेड की संख्या-75, एडमिटेड-04,

नया प्रखंड कार्यालयनवादा सदर में प्रतिनियुक्त पदाधिकारी श्री राजीव रंजन एसडीसी नवादा एवं श्री विकास पाण्डेय एसडीसीनवादा, प्रतिनियुक्त डॉ0 योगेन्द्र प्रसाद, बेड की संख्या-100, एडमिटेड-06, डिस्ट्रिक्टकोविड केयर सेंटर बाल सुधार गृह, नवादा, नोडल पदाधिकारी श्री अंशु कुमारी, पंचायती राजपदाधिकारी नवादा मो0नं0-7003231807, श्री प्रशांत रमणीया एसडीसी नवादा, डॉक्टर्स की प्रतिनियुक्ति डॉ0 बी0बी0 सिंह मो0नं0-8544402040, बेड की संख्या-100, ऑक्सीजन कीउपलब्घता टोटल ऑक्सीजन सिलेंडर-171,

(जम्बो सीलेन्डर 50 सदर अस्पताल में एवं एसडीएचरजौली में 55 कुल-105) बी टाइप सिलेन्डर 37 सदर अस्पताल में, एसडीएच रजौली में 29,कुल-66, वैक्सिनेसन साईट-100, वैक्सिनेसन स्टेटस- पहला डोज-08.05.2021 को 131334,09.05.2021 को 1723, कुल 133057, दूसरा डोज-08.05.2021 को 35510, 09.05.2021 को460 कुल 35970, कुल 1$2 डोज की संख्या- 169027, समाहरणालय नवादा में कार्यरत नियंत्रण कक्षकी दूरभाष संख्या निम्नवत है :- 06324-212280, 212288, 212289, 212290, 212292है। डीएचएस नवादा में कार्यरत नियंत्रण कक्ष का दूरभाष संख्या 06324-212278, 212279,212281, 212282, 212284 है। डिस्ट्रीक्ट कोविड कन्ट्रोल रूम टॉल फ्री नम्बर-1800-345-6615 है।

शत प्रतिशत लोगों का टीकाकरण सुनिश्चित करायें:- डीएम

नवादा : सोमवार को जिला पदाधिकारी यशपाल मीणा के निर्देशानुसार सभी एमओआइसी द्वारा जिले भरमें सभी सेशन साइट पर सुबह 08ः00 बजे से वैक्सिनेशन एवंटेस्टिंग कार्य शुरू किया गया है। जिले भर के सभी पंचायतों में 18-44 वर्ष की आयु के व्यक्तियों के लिए कोविड-19वैक्सीनेशन व्यापक पैमाने पर शुरू की गयी है।

युवा वर्ग बढ़चढ़ कर वैक्सीनेशन करा रहे हैं। 18-44 वर्ष की आयु के लोगों के लिए टीके लगवाने के लिए पूर्व पंजीकरण और स्लॉट बुकिंग अनिवार्य रूप से होनी चाहिए। आप खुद कोऑन लाईन साईट से परपंजीकृत करें और कोविड-19 टीकाकरण के लिए अपने स्लॉटबुक करें। अपने आवंटित स्लॉट एवं निर्धारित तिथि को ही टीकाकरण के लिए टीकाकरण केन्द्र पर पहुंचें।

याद रखें अनावश्यक भीड़ लगाने से कोरोना संक्रमण का फैलाव हो सकता है। अतः रजिस्ट्रेशन के उपरांत निर्धारित तिथि एवं निर्धारित टीकाकरण केंद्र पर जाकर ही टीका लगवाएं। टीकाकरण के इस अभियान में आप सभी जिलावासियों का सहयोग अत्यंत आवश्यक है। सभी सेशन साईट भवनों पर साफ-सफाई, पेय जल,शौचालय, टीका लेने वाले व्यक्तियों को बैठने की सुविधाआदि सुनिश्चित किया जाय। उन्होंने कहा कि 45 वर्ष के उपरवाले लोगों के टीकाकरण एवं एंटिजन टेस्टिंग कार्य में तेजी लायें।

उन्होंने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को निर्देश देते हुए कहा है कि सभी पंचायतों में शत प्रतिशत लोगों का वैक्सीनेशन कराना सुनिष्चित करें। सभी एमओआइसी पब्लिक प्लेस पर पंजीकृत लोगों की सूची जारी करना सुनिश्चित करेंगे ताकि डिस्प्ले पर अपना नाम देखने के बाद वेअपना वैक्सीनेशन लगवा सकें। जिला पदाधिकारी यश पाल मीणा के निर्देशानुसार सभी प्रखंड के वरीय प्रभारी पदाधिकारी मौके पर मौजूद रहें ताकि किसी को किसी प्रकार की परेशानी का सामना करना न पङे।

डीएम ने किया कइ सामुदायिक किचन का निरीक्षण

नवादा : सोमवार को जिला पदाधिकारी यशपाल मीणा औचक निरीक्षण के दौरान वारिसलीगंज प्रखंड में स्वामी सहजानंद मध्य विद्यालय, वारिसलीगंज में चल रहे सामुदायिक किचन का जायजा लेने पहुंचे। उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि स्कूल के मध्याह्न भोजन मेनू के अनुसार सामुदायिक किचन में जरूरतमंद लोगों के बीच भोजन परोसा जाय। इस अवसर परअनुमंडल पदाधिकारी नवादा सदर, उमेश कुमार भारती, प्रखंड विकास पदाधिकारी आदि उपस्थित थे।

कोरोना ने ली प्राचार्य की जान

नवादा : जिले के कौआकोल प्रखण्ड में कोरोना के संक्रमण के कारण मौत का आंकडा लगातार बढ़ता जा रहा है। सूत्रों की मानें तो अब तक कोरोना से प्रखण्ड के कौआकोल दुर्गामण्डप,बिझो,महापुर समेत अन्य गांवों में आधा दर्जन लोगों की मौत हो चुकी है। पंरतु आधिकारिक तौर पर इसकी पुष्टि नहीं हो सकी है। ऐसे कौआकोल पीएचसी से प्राप्त जानकारी के अनुसार कौआकोल में अब तक 45 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं। जिसमें से अभी तक चार लोगों की मौत हुई है। शेष सभी होम आइसोलेशन में हैं।

इधर सोमवार को भी प्रखण्ड के नावाडीह पंचायत के फरहेदा गांव निवासी 58 वर्षीय सीताराम पाण्डेय की मौत कोरोना संक्रमण के कारण हो गई। वे रूपौ वित्तरहित उच्च विद्यालय के प्राचार्य के पद पर कार्यरत थे। बताया जाता है कि सीताराम पांडेय रविवार को अपना कोरोना का टेस्ट कौआकोल पीएचसी में करवाये थे। जहां एंटीजन कीट से जांच में उन्हें पॉजिटिव पाया गया था। जिसके बाद आवश्यक दवाईयां देकर उन्हें घर ही आइसोलेट करने का निर्देश दिया गया। जहां घर पर ही उनकी मृत्यु हो गई।

इधर घटना के बाद इलाके में दहशत कायम हो गया है। बीडीओ संजीव कुमार झा एवं प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ० रामप्रिय सहगल ने भी होम आइसोलेशन में कोरोना संक्रमित फरहेदा निवासी सीताराम पांडेय के निधन की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि फरहेदा गांव में आवश्यक कार्रवाई की जा रही है। फिलहाल गांव को सेनेटाइज करने की कवायद की जा रही है।

लापरवाही कहीं न पड़ जाये भारी, बाजार में चार घंटे की भीड़ दे रहा बड़े खतरे को न्योता

नवादा : लॉकडाउन में सुबह 07 से 11 बजे तक ही दुकानें खोलने का दिशा- निर्देश दिया गया है। इस चार घंटे में बाजार में उमड़ रही बेतहाशा भीड़ के कारण शहर में कोरोना के मामले में इजाफा होने का खतरा बना हुआ है। जबरदस्त भीड़ में शारीरिक दूरी का पालन नहीं हो रहा है। सब्जी मंडी और किराना दुकानों के पास बेवजह भीड़ लग रही है। शहरवासियों की यह लापरवाही कहीं भारी न पड़ जाए।

लॉकडाउन में लोग झोला और बोरी लेकर खरीदारी करने के लिए बाजार पहुंच रहे हैं। इस वजह से बाजार में जबरदस्त भीड़ लग रही है। सब्जी मंडी से लेकर किराना और खाद्यान्न दुकानों में लोग खरीदारी कर रहे हैं। भीड़ ज्यादा हो जाने की वजह से शारीरिक दूरी का भी उल्लंघन हो रहा है। लोग लक्ष्मण रेखा को पार करते दिखते हैं। इस संक्रमण से बचाव के लिए सभी के मुंह पर मास्क दिखाई देता है। लेकिन शारीरिक दूरी का पालन नहीं होता। दुकानदार भी शारीरिक दूरी बनाए रखने के बारे में रोकटोक नहीं करते दिखे।

चोरी-छुपे खुल रही दुकानें, मोहल्लों में नहीं जा रही नजर:-

शहर के अमूमन मुख्य बाजारों में प्रशासन सख्ती के बाद दुकानों को तो निर्धारित समय पर बंद किसी तरह करा रही है। लेकिन, शहर के कई इलाकों में पूरे दिन दुकानें चोरी-छुपे खुल रही हैं। शहर के मुख्य बाजार के इलेक्ट्रॉनिक दुकान आशीष वीडियो कॉर्नर, कपड़ा दुकान, मिठाई दुकान तो वारिसलीगंज मोड़, थाना मोड़ सहित अन्य जगहों पर दुकानदारों ने लॉकडाउन की धज्जियां उड़ाते दुकानदार पकड़े गए थे। रविवार को 18 दुकानों को सील किया गया था। लेकिन, मोहल्ले की दुकानों की खोज खबर नहीं ली जा रही है। दुकानें खुली रहने की वजह से लोग भी पहुंच रहे हैं। ऐसे में पुलिस और प्रशासन को और सख्त होने की जरूरत है।

जिला प्रशासन की सूचना के बाद हरकत में आए अधिकारी

नवादा : जिले के पकरीबरांवा बाजार में अधिक भीड़ होने की सूचना जब जिले के आलाधिकारियों को दी गई तो स्थानीय पुलिस प्रशासन हरकत में आ गई और देखते ही देखते करीब 25 दुकानों की चाबियां ले ली गई थी।अंचलाधिकारी शुक्रांत राहुल ने बताया था कि कपड़ा दुकान, शृंगार दुकान, इलेक्ट्रॉनिक दुकान सहित 18 दुकानों को सील कर दिया गया था।

लॉकडाउन के बाद वरीय अधिकारियों के निर्देश पर संबंधित दुकानदारों को दुकान की चाबियां दिया जाएगा। बहरहाल, लॉकडाउन की सफलता में आम जनों का सहयोग जरूरी है। लेकिन ऐसा होता नहीं दिख रहा है।

नगर की 11 दुकानें सील, दो पहिया वाहनों की हुई जांच

नवादा :लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों पर प्रशासनिक सख्ती जारी है। सोमवार को नवादा बाजार में 11 दुकानों को सील कर दिया गया। वहीं विभिन्न चौक-चौराहों पर दो पहिया वाहनों की जांच की गई। सदर एसडीएम उमेश कुमार भारती, एसडीपीओ उपेंद्र प्रसाद, नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी कन्हैया प्रसाद की देखरेख में कार्रवाई की गई।

अधिकारियों ने घूम-घूमकर पूरे बाजार का भ्रमण किया और लोगों को लॉकडाउन का सख्ती से पालन करने की कड़ी हिदायत दी। कई दुकानदार बंद शटर के अंदर कारोबार कर रहे थे। वैसी दुकानों के शटर खुलवा कर जांच की गई। जिसमें दुकानों के अंदर ग्राहक मिले। एसडीएम ने कहा कि लॉकडाउन का असर दिख रहा है। मरीजों की संख्या में कमी आ रही है। लेकिन अभी भी लोगों को पूरी सजगता और सतर्कता बनाए रखने की जरुरत है। उन्होंने दुकानदारों से अपील करते हुए कहा कि कोरोना की चेन तोड़ने में मदद करें। एक सजग और जिम्मेवार नागरिक होने का परिचय दें। लॉकडाउन में अपनी दुकानों को बंद रखें।

गौरतलब है कि पिछले दो दिनों से बाजार में दुकानदारों की मनमानी की शिकायतें मिल रही थी। रोजमर्रा की दुकानों को खोलने की अवधि में कई अन्य व्यवसायी भी बंद शटर के अंदर से कारोबार कर रहे हैं। खासकर कपड़ा व्यवसायियों की ज्यादा शिकायतें सामने आ रही थी। फलस्वरुप अधिकारियों ने सख्ती बरतते हुए नौ दुकानों को सील कर दिया।

एसडीएम ने कहा कि इस प्रकार की कार्रवाई आगे भी जारी रहेगी। दूसरी ओर, स्वाट दस्ता ने शहर के विभिन्न चौक-चौराहों पर दो पहिया वाहनों की जांच की। बगैर जरुरी काम के घर से बाहर निकले बाइक सवारों को दंडित किया गया। हेलमेट नहीं पहनने वाले बाइक सवारों से जुर्माना वसूला गया। कई बाइक सवारों को उठक-बैठक भी कराई गई।

ई-रिक्शा चालकों को भी दंडित किया गया। इधर, दिन के 11 बजे के बाद सड़कों पर सन्नाटा पसर गया। शहर के सभी प्रमुख मार्गों में वीरानगी छाई रही। हालांकि कुछ लोगों की चहलकदमी दिखी, लेकिन वे सभी या तो टीकाकरण घर से निकले थे या फिर बेहद जरुरी काम से। शहरवासी लॉकडाउन का पालन करने में अपना सहयोग कर रहे हैं।

swatva

Leave a Reply