18 फरवरी : नवादा की मुख्य खबरें

0

एसएफसी में चावल जमा नहीं लेने से एक सप्ताह से धान की खरीदारी बाधित

नवादा : सरकार द्वारा धान खरीद की तय 21 फरवरी की तिथि महज चार दिन ही शेष बचे हैं जबकि अभी भी वारिसलीगंज प्रखंड के सैकड़ो बड़े किसानों का धान बिकना बाकी है। वहीं एक सप्ताह से प्रखंड में धान की खरीद बन्द है। कारण चावल का एसएफसी द्वारा जमा नहीं लेना बताया जा रहा है। बीसीओ धर्मेन्द्र कुमार कहते हैं कि पिछले चार दिनों से चावल जमा करने को ले एसटीआर नहीं कट रहा है। फलत: खरीदारी बन्द है।

धान बेचने के लिए किसान जहां पैक्स अध्यक्षों और अधिकारियों की मनमानी के कारण परेशान होते रहे हैं। वहीं अब गोदाम की कमी का हवाला देकर पैक्स अध्यक्षो के द्वारा तैयार करवाया गया चावल पिछले एक सप्ताह से एसएफसी के द्वारा जमा नहीं लेने से क्षेत्र के किसानों का धान की खरीदारी पूरी तरह बंद हो चुकी है।

बता दें कृषि प्रधान क्षेत्र वारिसलीगंज में धान की अच्छी फसल होती है। फसल का सही कीमत मिले इसके लिए सरकार पैक्स के माध्यम से किसानों की धान की खरीदारी करती है। लेकिन, इस बार प्रखंड में काफी लेट से शुरू हुई धान की खरीदारी में भी समय-समय पर कई बाधाएं उत्पन्न होते रही हैं। जिस कारण सुचारू रूप से क्षेत्र के किसानों का धान पैक्स के द्वारा नहीं खरीदा जा रहा है। धान की खरीदारी शुरू होने के समय पैक्स अध्यक्षों के द्वारा धान में नमी की अधिकता का हवाला देकर धान की खरीदारी करने में टाल मटोल का रवैया अपनाते रहे है।

अंतत: अधिकारियों के दबाव के कारण 23 दिसंबर से कुछ पैक्स के द्वारा धान खरीदारी शुरू की गई। प्रखंड के किसानों से लगभग दो लाख क्विटल धान खरीदारी करने लक्ष्य सरकार द्वारा निर्धारित किया गया है। लेकिन अब तक मात्र एक लाख अठारह हजार क्विटल धान की खरीदारी संभव हो सकी सकी है। जबकि सरकार द्वारा तय तिथि 21 फरवरी को धान की खरीदारी बंद कर दी जानी है। लेकिन चावल जमा नहीं होने के कारण पिछले कई दिनों से वारिसलीगंज क्षेत्र के सभी पैक्स अध्यक्षों के द्वारा धान की खरीदारी बंद कर दी गई है। जिससे तैयार धान को बेचने के लिए किसान परेशान हैं।

जिलाधिकारी से लगाई जा चुकी है चावल जमा लेने की गुहार : 

– मिलरों द्वारा तैयार चावल जमा करने की समस्या से जूझ रहे कुछ पैक्स अध्यक्षों ने बताया कि चावल जमा नहीं होने के कारण धान की खरीदारी करने के लिए राशि का भुगतान नहीं किया जा रहा है। जिस कारण धान की खरीदारी पूर्णतया बंद है।

चावल जमा लेकर राशि भुगतान के लिए पिछले सप्ताह वारिसलीगंज के कुछ पैक्स अध्यक्षों के द्वारा एक आवेदन देकर जिलाधिकारी से मदद की गुहार लगाई गई थी। बावजूद एक सप्ताह पहले एसए़फसी प्रबंधक के स्थानांतरण के कारण पिछले एक सप्ताह से चावल जमा होने के लिए एसटीआर का कटना बंद है। जिस कारण एसए़फसी के द्वारा चावल जमा लेना बंद कर दिया गया है। इस संबंध में पूछे जाने पर प्रखंड सहकारिता पदाधिकारी धर्मेंद्र कुमार ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से एसटीआर नहीं कट रही है। जिस कारण चावल जमा नहीं लिया जा रहा है।

क्षेत्र में सहकारिता का एक भी गोदाम नहीं होना परेशानी की वजह :-

जिले में सबसे अधिक धान की खेती वारिसलीगंज क्षेत्र में होती है। प्रखंड के कुल 16 पंचायतों में उतने ही पैक्स है। जिसके द्वारा किसानों के धान की खरीदारी होती है। पैक्स के द्वारा खरीदे गए धान को चावल बना कर एसएफसी गोदाम में जमा करना होता है। तब जाकर अगले लाट की खरीदारी के लिए राशि पैक्स के खाते में निर्गत की जाती है।

गौरतलब है कि वारिसलीगंज में सबसे अधिक धान होने के बावजूद एसएफसी के द्वारा पैक्स का चावल जमा करने के लिए कोई गोदाम नहीं लिया गया है। जिस कारण यहां खरीदे गए धान से चावल बना कर हिसुआ या नवादा स्थित गोदाम में जाकर चावल जमा करना पड़ता है। जहां कईयो दिन तक चावल लदा ट्रक को खाली करवाने के लिए इंतजार करना पड़ता है। जिससे किसानों का धान बिकना प्रभावित हो रहा है। बता दे वारिसलीगंज में जिले में सबसे अधिक गोदाम है लेकिन एसएससी के द्वारा एक भी गोदाम किराया पर नहीं लिए जाने के कारण समस्या उत्पन्न हो रही है।

पथ दुर्घटना में महिला मौत के बाद काटा जमकर बवाल, कड़ी मशक्कत के बाद हटा जाम

नवादा : पटना -रांची राजमार्ग 31 पर जिले के उग्रवाद प्रभावित रजौली थाना इलाके में दुर्घटना में एक महिला की मौत के बाद आक्रोशित लोगों ने सड़क पर जमकर बवाल काटा। एनचएच को जाम कर दिया और टायर जलाकर विरोध प्रदर्शन किया। अधिकारियों के कङी मशक्कत के बाद आक्रोशितों का गुस्सा शांत हुआ। तब जाकर जाम हटा। जाम हटा तो यात्रियों ने राहत की सांस ली। दो घंटे के जाम में लंबी दूरी सैकड़ों मालवाहक व यात्री वाहनें सड़क के दोनों ओर फंसी रही।

हादसा 17 फरवरी बुधवार की देर शाम को रजौली थाना इलाके में हुई थी। इसी इलाके के घसियाडीह गांव निवासी महावीर मांझी की पत्नी कौशल्या देवी अपने बेटे दिनेश मांझी व एक अन्य युवक पति मांझीके बेटे प्रमोद मांझी के साथ हरदिया गांव से अपने गांव घसियाडीह जा रही थी।

रजौली बाइपास चौक पर झारखंड की ओर से आ रही स्वीफ्ट डिजायर कार ने पीछे से बाइक में टक्कर मार दिया था। जिससे मां-बेटा समेत तीनों लोग गंभीर रुप से घायल हो गए थे। महिला की स्थिति काफी गंभीर होने के कारण उसे अनुमंडल अस्पताल रजौली से बेहतर इलाज के लिए सदर अस्पताल नवादा रेफर किया गया था। सदर अस्पताल पहुंचने पर चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया था।

आक्रोशित लोगों ने गुरुवार की अहले सुबह रजौली में बाइपास चौक को जाम कर दिया और टायर जलाकर आगजनी की। सूचना के बाद एसएचओ दरबारी चौधरी, बीडीओ प्रेम सागर मिश्र दल-बल के साथ वहां पहुंचे। अधिकारियों के करीब 2 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस-प्रशासन को जाम तोड़वाने में सफलता मिली। मृतक की अंत्येष्टि के लिए तत्काल कबीर अंत्येष्टि योजना के तहत मुखिया प्रतिनिधि नवशीष कुमार द्वारा 3 हजार रुपये दिया गया। पारिवारिक लाभ का 20 हजार रुपये का चेक देने का आश्वासन दिया गया है। एसएचओ ने प्राथमिकी दर्ज कर आगेे की कार्रवाई की जाएगी ।

ट्रेन की चपेट में आने से महिला की मौत

नवादा : जिले के तिलैया-राजगीर रेलखंड पर महमदपुर ग्राम के समीप ट्रेन पर चढ़ने के क्रम में एक महिला दुर्घटनाग्रस्त हो गई। जिससे उसकी मौत हो गयी। घटना के संबंध में हिसुआ थाना पुलिस एसआई अशर्फी यादव ने बताया कि हमें स्थानीय लोगों ने फोन कर सूचना दी थी कि एक महिला ट्रेन पर चढ़ने के क्रम में गंभीर रूप से जख्मी हो गई है।

रास्ता में तोड़ा दम :-

पुलिस ने घटनास्थल से उसे इलाज के लिए हिसुआ स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया जा रहा था।लेकिन महिला ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया।पुलिस ने बताया कि मृतक की पहचान विनोद चौहान की 42 वर्षीय पत्नी आरती देवी के रूप में हुई है।

मृतक के परिजनों को दी सूचना :-

मृतक मेसकौर प्रखंड के चंदाबारा ग्राम निवासी उन्होंने बताया कि मृतक के पास दो बैग था। जिसमें मोबाईल और चार्जर था, इसके अलावा अन्य सामान मिला था। पुलिस ने कहा कि मृतक के परिजनों को सूचना दे दी है। शव के पोस्टमार्टम के बाद परिजन को सौंप दिया जाएगा।

नवादा-हिसुआ पथ पर बड़ैल के पास ऑटो पलटने से युवक की मौत,कई जख्मी

नवादा : नवादा से हिसुआ जाने वाली सड़क मार्ग पर बुधवार को बड़ैल गांव के समीप ऑटो पलटने से एक यात्री की मौत हो गई। मृतक की पहचान हिसुआ थाना क्षेत्र के उमरांव बिगहा गांव निवासी राम नरेश चौहान के पुत्र मंटू चौहान के रूप में की गई है।

बताया गया कि यात्रियों को लेकर ऑटो नवादा से हिसुआ की तरफ जा रही थी। अचानक चालक का संतुलन बिगड़ने से ऑटो पलट गई। हादसे में मंटू की मौत घटनास्थल पर ही हो गई। जबकि ऑटो पर सवार तीन अन्य यात्रियों को भी चोटें आई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया है। युवक डीजे संचालन के पेशे से जुड़ा बताया गया है। युवक की मौत के बाद स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

उपलब्ध करायें विधानसभा विपत्र

नवादा : गुरुवार को जिला पदाधिकारी यश पाल मीणा की अध्यक्षता में विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आगामी पंचायत निर्वाचन 2021 के सफल आयोजन हेतु मतदान केन्द्रों का प्रस्ताव से संबंधित एवं बिहार विधान सभा आम निर्वाचन 2020 के लंबित विपत्रों का भुगतान से संबंधित प्रखंड सतरीय समीक्षा बैठक आयोजित की गई।

बैठक को संबोधित करते हुए सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को निर्देश दिया गया कि आगामी पंचायत निर्वाचन 2021 के निमित्त कार्य हेतु सभी प्रखंड में पंचायत स्तर तक मतदान केन्द्र का भौतिक सत्यापन प्रतिवेदन रिपोर्ट अविलम्ब भेजें. समीक्षा के क्रम में सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को निर्देश दिया गया कि मतदान सूची एवं मतदान केन्द्र से संबंधित दावा/आपत्ति को शिघ्र निष्पादित करें।

उन्होंने कहा कि बिहार विधान सभा आम निर्वाचन 2020 से संबंधित लंबित विपत्र का भुगतान हेतु प्रखंड स्तर पर किये गए कार्य पर व्यय से संबंधित वास्तविक विपत्र अविलंब जिला निर्वाचन को भेजना सुनिश्चित करें ताकि ससमय लंबित विपत्रों का भुगतान किया जा सके। बैठक में उप विकास आयुक्त वैभव चौधरी, उप निर्वाचन पदाधिकारी श्रीनिवास, जिला पंचायत राज पदाधिकारी अंशु कुमारी, कार्यपालक अभियंता पीएचईडी चन्देश्वर राम तथा विडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जुड़े सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी उपस्थित थे।

रोजगार की मांग को ले भाकपा माले ने दिया धरना

नवादा : जिले के उग्रवाद प्रभावित कौआकोल प्रखण्ड परिसर अवस्थित नए प्रखण्ड भवन के समक्ष गुरुवार को भाकपा माले की प्रखण्ड इकाईं ने बिहार राज्य मनरेगा मजदूर सभा के बैनर तले एक दिवसीय धरना दिया। धरना को संबोधित करते हुए भाकपा माले के अंचल सचिव दिलीप कुमार ने कहा कि केंद्र और राज्य की तानाशाही सरकार के कारण आज गरीब मजदूर बेरोजगार हो गए हैं।

मनरेगा का काम कागज पर ही चल रहा है। किसी को समय पर रोजगार नहीं मिल पा रहा है। जिससे मजदूरों को भूखे मरने तक की नौबत आ रही है। वक्ताओं ने राशन,किरासन वितरण में धांधली,भूमिहीनों को पांच-पांच डिसमिल जमीन मुहैय्या करने,वासगीत पर्चा निर्गत करने आदि मांगों को भी प्रमुखता से उठाया।
मौके पर मंटू कुमार,दशरथ चौधरी समेत दर्जनों लोग मौजूद थे।

किसानों को दी गई कीट प्रबंधन की जानकारी

नवादा : जिले के कृषि विज्ञान केंद्र,ग्राम निर्माण मण्डल सर्वोदय आश्रम सोखोदेवरा के सौजन्य से कौआकोल प्रखण्ड के निकरा ग्राम उपरैली मंझिला तथा फुसबंगला में गुरुवार को प्रशिक्षण शिविर का आयोजन कर किसानों को रबी फसलों एवं सब्जियों में लगने वाली कीट व्याधियों का प्रकोप एवं प्रबंधन की जानकारी दी गई।

केवीके के वैज्ञानिक डॉ० जयवंत कुमार सिंह ने किसानों को गेहूं,चना,दलहन,सब्जी आदि में लगने वाली प्रमुख कीट एवं व्याधियों की पहचान एवं उसके तत्काल प्रबंधन की विस्तार से जानकारी दी। तथा इस दौरान जैविक कीटनाशक के बारे में जानकारी देते हुए उसके महत्व को बताया। मौसम विभाग के वैज्ञानिक रौशन कुमार ने मौसमी फसलों की जानकारी देते हुए उसके कीट व्याधि प्रकोप एवं प्रभाव के बारे में बताया। मौके पर निकरा के शशिकांत कुमार, रामनिवास प्रसाद आदि मौजूद थे।

वन विभाग द्वारा लगाए गए दर्जनों पौधा में असमाजिक तत्वों ने लगाई आग

नवादा : जिले के उग्रवाद प्रभावित कौआकोल वन विभाग द्वारा प्रखण्ड के भोरमबाग पहाड़ी पर लगाये गए दर्जनों पौधे सुरक्षा व देखरेख के अभाव में बदहाल स्थिति में है। गुरुवार को अज्ञात शरारती तत्वों ने पहाड़ी पर लगे पौधों में आग लगा दी,जिससे दर्जनों पौधे पूरी तरह आग से जल गए। रेंजर मानवेन्द्र नाथ चौधरी ने कहा कि आग से वन विभाग के द्वारा लगाए गए पौधों की हुई क्षति का आकलन के लिए वन विभाग के कर्मी को भेजा गया है। उनके द्वारा आकलन के पश्चात शरारती तत्वों के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

swatva

Leave a Reply