16 जून : नवादा की मुख्य ख़बरें

0
swatva samachar

महुआ शराब की भट्टी ध्वस्त, सैकड़ों लीटर शराब जमिंदोज

नवादा : जिले के अकबरपुर पुलिस ने थाना क्षेत्र के उग्रवाद प्रभावित मोहनपुर गांव में चल रहे महुआ शराब निर्माण भट्ठियों को ध्वस्त कर दिया । इस क्रम में सैकड़ों लीटर तैयार महुआ शराब को ज़मींदोज़ कर दिया । कारोबारी फरार होने में सफल रहा है । इस बावत उत्पादन अधिनियम के तहत अज्ञात के विरुद्ध कर मामले की जांच आरंभ की है ।

प्रभारी थानाध्यक्ष सहरोज अख्तर ने बताया कि मोहनपुर गांव के बधार में अवैध महुआ शराब निर्माण व बिक्री की सूचना मिली। सूचना के आलोक में पुलिस अवर निरीक्षक अजय कुमार एवं प्रशिक्षु अवर निरीक्षक ललन कुमार तेजस्वी के नेतृत्व में कार्रवाई आरंभ की । इसक्रम में ज़मीन के अंदर छुपा कर रखा महुआ शराब को खोदकर निकालने के बाद वहीं नष्ट कर दिया । महुआ शराब निर्माण भट्ठियों को ध्वस्त कर दिया गया ।

पुलिस को आते देख कारोबारी फरार होने में सफल रहा है । इस बावत उत्पादन अधिनियम के तहत अज्ञात के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कर आरोपी की पहचान आरंभ की है । बता दें पुलिस व उत्पाद विभाग के द्वारा लगातार छापामारी, बरामदगी व गिरफ्तारी के बावजूद निर्माण व बिक्री का धंधा थमने के बजाय लगातार बढता जा रहा है । ऐसे में शराब बंदी यहां बेअसर होकर रह गयी है।

पूर्व में गठित कोषांगों में डीएम ने किया संशोधन

नवादा : बिहार एपिडेमिक डिजीज कोविड-19 रेगुलेसन्स 2020 अन्डर एपिडेमिक डिजीज एक्ट-1897 के प्रावधान के तहत कोविड-19 महामारी घोषित किया गया है। कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के सफल संचालन हेतु जिला पदाधिकारी यशपाल मीणा के आदेश के आलोक में जिला स्तर पर कोषांगों का गठन करते हुए दायित्वों का निर्धारण किया गया था।

उक्त निर्गत आदेश के द्वारा गठित कोषांगों में कन्फर्म केसेज कोषांग का भी गठन किया गया था। गठित कोषांग में आंशिक संशोधन करते हुए कन्फर्म केसेज कोषांग का नया नाम कॉन्टेनमेंट कोषांग के रूप में नामित किया जाता है। इस कोषांग का दायित्व होगा कि जहां से कन्फर्म केसेज की सूचना प्राप्त होती है, वहां के क्षेत्र/मुहल्ला को कॉन्टेन्मेंट जोन के तहत होने वाली आवश्यक कार्रवाई करना सुनिश्चित करेंगे तथा संबंधित क्षेत्र के एरिया/मुहल्ला के अन्तर्गत आने वाले घरों में जांच सर्वे कराना है तथा उसकी पूरी ब्रीफ हिस्ट्री प्राप्त कर आइसोलेट किया जाना है। शेष पूर्व में गठित कोषांगों में वर्णित आदेश/निदेश यथावत रहेंगे।

मन माफिक भाड़ा नहीं दिया तो मारपीट कर बीच रास्ते में उतारा

नवादा : जिले में टेम्पो चालकों की मनमानी से सफर करने वाले परेशान हैं । यहां तक कि मन माफिक भाङा नहीं देने पर मारपीट कर बीच रास्ते में चालक उतार फरार हो रहे हैं । ऐसे में सफर करने वाले परेशान हैं तो चालकों की चांदी कट रही है ।

ताजा मामला राजमार्ग संख्या 31 के अकबरपुर प्रखंड क्षेत्र का है जहां नवादा से अकबरपुर आ रहे युवक से न केवल मारपीट की गयी बल्कि बीच रास्ते में उतार चालक टेम्पो ले फरार हो गया । अधिक भाडे़ की मांग किये जाने पर एक यात्री को टेम्पो चालक ने बुरी तरह पिटाई कर रास्ते में उसे छोड़ टेम्पो से उतारकर भाग निकला।

जानकारी के अनुसार मंगलवार की दोपहर प्रवीण कुमार नाम का युवक नवादा से अकबरपुर के लिए टेम्पो पर बैठा था। बैठने के क्रम में भाड़े तय नहीं किये गये थे। टेम्पो पर छः यात्री पहले से सवार थे। जिनमें अधिकांशतः महिलाएं थी। पचगावां मोड़ से आगे बढ़ते ही चालक टेम्पो रोक कर यात्रियों से 30 और 40 रूपये की दर से भाड़े वसूलना शुरू कर दिया। जिसका खुलकर यात्रियों ने विरोध किया । भाड़े को लेकर प्रवीण कुमार से टेम्पो चालक के साथ हाथापाई हो गयी। इस दौरान चालक ने डंडे से युवक की पिटाई कर उसे वहीं छोड़ भाग निकला। किसी तरह पैदल चलकर युवक फतेहपुर मोड़ पर घटना की जानकारी लोगों को दी।

इस घटना से यात्रियों में भारी रोष व्याप्त है। यात्रियों ने प्रशासन से अतिरिक्त भाड़े वसूल करने पर अंकुश लगाने की मांग की है। मांग करनेवाले में भोला प्रसाद, मनोहर पासवान, सतीश कुमार,मो वसीम अकरम उर्फ मुखिया आदि शामिल हैं ।

कार-बाइक की टक्कर के बाद दो गांवों में विवाद, पथराव व गोलीबारी

नवादा : कार-बाइक की टक्कर को लेकर कहासुनी के बाद दो गांवों के बीच विवाद हो गया। सीतामढ़ी थाना क्षेत्र में रेपुरा और हिसुआ थाना क्षेत्र के सरतकिया गांव के लोगों के बीच सुबह जमकर पथराव हुआ। इसमें रेपुरा गांव के पिकू सिंह, गुंजन कुमार, पंकज कुमार, गिरजेश पांडेय, मनोज कुमार, सनोज कुमार सहित दर्जनभर लोग जख्मी हो गए। आक्रोशित रेपुरा के लोगों ने राजगीर-बोधगया राजमार्ग 82 को जाम कर दिया। जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक को बुलाने पर अड़ गए। वरीय अधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद जाम हटा और यातायात बहाल हो सका।

शाम सरतकिया गांव के सुबोध कुमार गया से अपनी कार से घर लौट रहे थे। रेपुरा गांव के भुसकुन बाइक से बैजनाथपुर गुमटी की ओर जा रहे थे। सिरसा के पास कार-बाइक टकरा गई। हालांकि, किसी वाहन को नुकसान नहीं हुआ, लेकिन दोनों के बीच कहासुनी हो गई। ग्रामीणों ने बीच-बचाव कर मामले को शांत करा दिया।

इस बात को सरतकिया के ग्रामीणों ने प्रतिष्ठा से जोड़ लिया। सोमवार सुबह रेपुरा निवासी भागो सिंह के पुत्र बुगल कुमार, स्व. गोरे सिंह के पुत्र मनोज सिंह, रामलला के पुत्र संतोष तिवारी और लालकेश्वर सिंह के पुत्र कारु उर्फ गोरेलाल सिंह ऑटो व बाइक से हिसुआ जा रहे थे। तिलैया पुल के समीप सरतकिया निवासी अश्विनी कुमार, विक्रम कुमार, निश्चय कुमार, सुबोध कुमार, टिकू यादव, अनुप यादव, चंदन यादव, विक्की कुमार, घाटो यादव, गुरुचक निवासी विक्रम मिस्त्री, सनोज कुमार तथा सोनु कुमार सहित दर्जनों की संख्या में घात लगाए लोगों ने ऑटो और रिक्शा को रोक लिया। सभी लोगों को नीचे उतार लाठी डंडे से पीटने लगे। इस दौरान कई राउंड हवाई फायरिंग भी हुई। चारों युवक किसी प्रकार वाहन छोड़कर जान बचा भागे। इसकी जानकारी मोबाइल से गांव वालों को दी। रेपुरा एवं सिरसा गांव के दर्जनों युवक दौड़ते हुए तिलैया पुल की ओर आ गए। सरतकिया के लोगों ने पथराव कर सभी को भगा दिया। सरतकिया गांव के लोगों ने कारू उर्फ गोरे लाल सिंह की बाइक में चार गोली मारी गई। इससे बाइक की टंकी में छेद हो गया। लोगों कि मानें तो आरोपितों ने 8-10 राउंड फायरिग की।

वारदात की जानकारी मिलते ही हिसुआ थानाध्यक्ष राजकुमार, नरहट थानाध्यक्ष नवीन कुमार सिन्हा, सीतामढ़ी थानाध्यक्ष शिशुपाल, मेसकौर थानाध्यक्ष नीरज कुमार दलबल के साथ पहुंचे। पुलिस को आते देख सरतकिया के सभी उपद्रवी वहां से भाग गए, जबकि रेपुरा व सिरसा के लोगों ने एनएच को जामकर प्रदर्शन शुरू कर दिया।

पुलिस पदाधिकारियों द्वारा लाख समझने के बाद भी ग्रामीण जाम नहीं हटाने पर डटे रहे। अंतत: एएसपी महेंद्र कुमार बसंत्री, एसडीपीओ सदर विजय कुमार झा, एसडीएम रजौली चंद्रशेखर आजाद, सर्किल इंस्पेक्टर सूर्यमणी राम, सीओ अलखनिरंजन यादव, बीडीओ एजाज आलम, पंचायत की मुखिया कन्हैया कुमार बादल पहुंचे। गुस्साए ग्रामीणों को समझा-बुझाकर जाम हटवाया। ग्रामीणों ने दोषियों को गिरफ्तार करने, सरतकिया गांव से बिजली आपूर्ति बाधित करने को लेकर उसे सड़क के रास्ते अलग से आपूर्ति कराने, क्षतिग्रस्त बाइक का मुआवजा सहित अन्य मांगें रखीं। एएसपी ने लोगों को कहा कि लिखित शिकायत दें। हर हाल में दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। बिजली की समस्या भी शीघ्र दूर कराई जाएगी।

घंटों जाम से लोग हुए परेशान

गोली चलने एवं पथराव से आक्रोशित रेपुरा के ग्रामीणों ने एनएच 82 को जाम कर दिया। घंटों जाम रहने से गया से आने वाले यात्रियों को काफी परेशानी हुई। उन्हें रेपुरा गांव से चार किलोमीटर पैदल चलकर हिसुआ आना पड़ा। खासकर बच्चे और महिलाओं को ज्यादा परेशान देखा गया। हिसुआ से गया की ओर जाने वाले यात्रियों को तिलैया नदी के किनारे घंटों प्रतीक्षा करनी पड़ी। गर्मी एवं उमस से यात्रियों का हलक सूख रहा था।

बीबीएनएल के तहत 187 पंचायतों में लगाए जाएंगे वाई-फाई

नवादा : चौंकिए नहीं ! यदि गांवों के लोग अपने-अपने मोबाइल वाट्सएप पर हाई स्पीड चैटिंग करते हुए नजर आ जाएं। क्योंकि अब गांव भी वाई फाई से लैस हो रहा है।सीएससीई गवर्नमेंट सर्विस इंडिया लिमिटेड के वाई फाई चौपाल प्रोजेक्ट के तरफ से मिलने वाली वाई-फाई हर ग्रामीण इंटरनेट का फायदा उठा सकेंगे। यह जानकारी सीएससी जिला प्रबंधक प्रज्ञा कुमारी,अभिषेक कुमार व चैम्पियन वीएलई संदीप कुमार ने दी।

जानकारी देते हुए बताया कि रजौली समेत नवादा जिले के 14 प्रखंडों के 187 पंचायतों में फ्री वाई-फाई लगाया जाना हैIसभी जगहों का निरीक्षण कर स्थल का चयन कर लिया गया है।चैंपियन वीएलई संदीप कुमार ने कहा कि भारत सरकार की योजना भारत ब्रॉडबैंड निगम लिमिटेड द्वारा नरहट प्रखंड का प्रत्येक पंचायत मुफ्त इंटरनेट कनेक्शन से लैश होकर हाईटेक होगा।यह कनेक्शन पंचायत के पांच जगहों पर चन्हित कर दिया जायेगा और वे इसका लाभ उठा सकेंगे।वाई फाई से लैस बनाने का काम जोरों पर चल रहा है।

केंद्र सरकार ने डिजिटल इंडिया के तहत देश के हर ग्राम पंचायत को इंटरनेट की दुनिया से जोड़ने के लिए वाई फाई योजना शुरू की है।वीएलीई ने कहा कि अब तक सभी प्रखंड के प्रखंड कार्यालय एवं पंचायत सरकार भवन में इसकी सुविधा दी जा रही है। अन्य जगहों पर कार्य की जा रही है।जिससे कि ग्रामीण लोगों के ऑनलाइन पढ़ाई समेत सभी सॉफ्टवेयर का उपयोग हो सकेगा।भारत नेट के जरिए वाई फाई कनेक्शन ग्रामीणों को दिए जाएंगे। प्रत्येक ग्रामीण की आईडी और पासवर्ड होगी।जिससे इंटरनेट चालू रख सकेंगे। खास बात यह है कि यह सेवा एक साल तक पंचायत के पांच सरकारी भवनों में फ्री में दिया जायेगा। जिसके लिए प्रथम चरण में नरहट पंचायत में कार्य शुरू किया गया है।

श्रमिक स्पेशल ट्रेन में महिला ने बच्चे को दिया जन्म

नवादा : जिले में प्रवासी श्रमिक का आना लगातार जारी है। इसी कड़ी में आज एकबार फिर 2689 प्रवासी श्रमिकों को लेकर स्पेशल ट्रेन नवादा पहुंची। ट्रेन के नवादा स्टेशन पहुंचते ही जिला प्रशासन की ओर से सभी यात्रियों की स्टेशन पर स्कैनिंग की गई। फिर उन्हें उनके गृह स्थान के लिए रवाना किया गया।

इस श्रमिक स्पेशल ट्रेन में सबसे बड़ी बात यह हुई कि इस ट्रेन में सफर कर रही एक प्रवासी महिला ने बच्चे को जन्म दिया। प्रशासन को इस बात की खबर लगते ही जैसे ही ट्रेन नवादा स्टेशन पहुंची सबसे पहले महिला को तुरंत सदर अस्पताल पहुंचाया गया। जहां महिला और बच्चे की जांच की गई।

बच्चे के पिता गोरेलाल मांझी ने बताया कि स्पेशल ट्रेन से कानपुर से चलकर नवादा जिला के नक्सल प्रभावित कौवाकोल थाना क्षेत्र के लालपुर गांव के लिए कानपुर से चले थे। पत्नी पूर्णिमा देवी गर्भवती थी और उसे रास्ते में ट्रेन में ही बच्चे को जन्म दिया।  मांझी ने बताया कि जब उसकी पत्नी को प्रसव पीड़ा शुरु हुई तो ट्रेन में यात्रा कर रहे लोगों ने हमारी मदद की, लेकिन कोई भी स्वास्थ्य कर्मी हमारी मदद के लिए आगे नहीं आया।  जब हम नवादा उतरे तो नवादा जिला प्रशासन ने हमें तुरंत सदर अस्पताल भेजा, जहां हमारा बच्चा बिल्कुल स्वस्थ्य है।  बताते चलें कि नवादा जिला में लगातार श्रमिक स्पेशल ट्रेन का आना लगा हुआ है आज भी दो ट्रेन आई है । एक ट्रेन में 1600 तो दूसरी ट्रेन में 1089 कुल 2689 लोग पहुंचे हैं ।

जिले में मॉनसून ने दी दस्तक, अच्छी बारिश से किसानों के चेहरे खिले

नवादा : पूर्वानुमानों के मुताबिक मंगलवार को जिले में मॉनसून का प्रवेश हुआ। प्रवेश के साथ ही बारिश हुई तो किसानों के चेहरे खिल उठे। इस वर्ष मॉनसून का मिजाज देख किसान काफी खुश हैं। उम्मीद है कि पूर्व के दो-तीन वर्षों की भांति इस वर्ष मॉनूसन दगा नहीं देगा। मौसम से लेकर कृषि वैज्ञानिक भी इस वर्ष समयानुकुल अच्छी बारिश व बेहतर खेती की उम्मीद लगाए हैं।

गत वर्ष जिला भीषण सुखाड़ की चपेट में था। 60 फीसद खेत परती रहे गए थे। जो 40 फीसद धान की रोपनी हुई भी थी पानी के भाव में सूख गई थी। इस वर्ष स्थिति थोड़ी भिन्न है। गर्मी के माह अप्रैल-मई में भी बारिश हुई। ऐसे में खेतों में नमी कायम रहा। अब किसान को बेहतर खेती-बारी के लिए अच्छी बारिश की दरकार थी। मॉनसून प्रवेश के पूर्व से ही यानि सोमवार से ही शुरू हो चुका है। सोमवार व मंगलवार को खेती-किसानी के दृष्टिकोण से अच्छी बारिश हुई है। कृषि विज्ञान केंद्र साखोदेवरा के मौसम वैज्ञानिक रौशन कुमार ने जिले में मॉनसून प्रवेश के साथ ही पूर्वानुमानों में बताया कि अगले चार-पांच दिनों तक आसमान में बादल छाए रहेंगे, और बारिश भी होगी।

खेतों में हल बैल लेकर उतरे किसान

मॉनूसन के प्रवेश व बारिश होने के बाद किसान धान की नर्सरी तैयार करने के लिए खेतों में हल बैल या ट्रैक्टर लेकर उतर गए हैं। अगले दो सप्ताह तक किसानों खेतों की जोताई-कोराई कर धान के बिचड़े गिराएंगे। नर्सरी तैयार होने के बाद रोपनी की तैयारी में जुटेंगे। फिलहाल, खेती किसानी के अनुसार मौसम का मिजाज अनुकूल चल रहा है।

बारिश से शहर में जलजमाव

मॉनसून की पहली ही बारिश से नवादा शहर की सूरत बिगड़ गई है। जहां-जहां जल जमाव हो गया है। कई इलाके व मोहल्ले की सड़के कीचड़ से सन गई है। बरसात पूर्व नगर परिषद क्षेत्र में नाला-नाली की उड़ाही नहीं होने से शहर वासियों को आने वाले दिनों में भी परेशानी होनी तय है। हालांकि नगर परिषद द्वारा नाला सफाई के लिए टेंडर निकाला गया था, लेकिन विवाद के बाद उसे रद कर दिया गया था। दोबार टेंडर प्रक्रियाधीन है।

लोगों ने मॉनसून की पहली बारिश का उठाया लुत्फ

शहरवासियों ने मॉनसून की पहली बारिश का जमकर लुत्फ उठाया। दोपहर शहर में जब बारिश शुरू हुई तो काफी संख्या में लोग खुद को भींगने की परवाह किए सड़कों पर निकले और बारिश का आनंद लिया। आसमान में काले बादल छाए रहने और बारिश होने से मौसम सुहाना हो गया है। गर्मी से राहत मिली तो लोग आंनदित और रोमांचित हो रहे हैं।

अकबरपुर प्रखंड में मात्र दो वार्डों में पूर्ण हुआ नल-जल का कार्य

नवादा : जिले के अकबरपुर प्रखंड के 20 पंचायतों में अब तक मात्र दो वार्डो में ही नल जल का कार्य पूर्ण हुआ है। ऐसे में शुद्ध जल के लिए लोगों को अभी और इंतजार करना पड़ेगा। घर घर नल का जल पहुंचाने के लिए 15 जून तक समय तय किया गया था। गति धीमी होने के अब तक प्रखंड के 274 वार्डों में से महज दो वार्ड में ही कार्य पूरा हो सका है।

पीएचडी विभाग द्वारा दिए गए आंकड़ों पर गौर किया जाए तो प्रखंड के 12 पंचायत के 35 वार्डों में रहने वाले लोगों को शुद्ध पेयजल मुहैया कराने की नल-जल का कार्य जारी है। इसमें 35 वार्ड में वार्ड क्रियान्वयन समिति द्वारा कार्य जारी है व 239 वार्डों में पीएचईडी विभाग की ओर से नल-जल योजनाओं का क्रियान्वयन किया जाएगा। वार्ड क्रियान्वयन समिति की ओर से 56 योजनाओं का क्रियान्वयन कर रही है।

प्रखंड के पदाधिकारियों को सौंपा गया था जांच का जिम्मा

वार्ड क्रियान्वयन समिति द्वारा प्रखंड के माखर पंचायत में 11 वार्ड में 17 नल-जल योजनाएं है जिसमें वार्ड 1 में कार्य पूर्ण हो चूका है। तेयार पंचायत के 6 वार्ड में 8 नल-जल योजनाओं में से सिर्फ 4 योजना में कार्य जारी है बाकि लंबित है। लेदहा पंचायत के 5 वार्ड में 7 योजनाओं में पाइप बिछ चूका हैं। जबकि पैजुना पंचायत के 10, फतेहपुर पंचायत के 11, बलिया बुर्जुग पंचायत के 4 नल-जल योजना के कार्य जारी है।

हर घर नल जल योजना का नहीं मिल रहा लाभ, ग्रामीणों में रोष :

राज्य सरकार की ड्रीम प्रोजेक्ट हर घर नल जल योजना की घोषणा से आम लोगों में शुद्ध पेयजल मिलने की आस जगी थी, लेकिन प्रखंड में यह महत्वाकांक्षी योजना अधिकारियों की उदासीनता की भेंट चढ़ रही है। गर्मी के मौसम में शुद्ध पेयजल का संकट अब भी लोग झेल रहे हैं। ऐसे में लोगों को मुख्यमंत्री हर घर नल जल योजना के चालू नहीं होने से व्यापक असंतोष है।

नल-जल योजनाओं को हर हाल में 15 जून तक पूरा करने का निर्देश दिया गया था, लेकिन संवेदक अपनी गति से ही काम पूरा कर रहे हैं। योजनाओं का क्रियान्वयन की भौतिक जांच के लिए प्रखंड से लेकर पंचायत स्तर के पदाधिकारियों को जिम्मा सौंपा गया था ताकि योजनाओं का क्रियान्वयन तेजी से हो व उसकी गुणवत्ता बनी रहे। निर्धारित समय सीमा पर प्रखंड में हर घर को नल का जल मिले, इसको लेकर आला पदाधिकारियों ने सख्ती बरती थी। संवेदकों को टास्क सौंपा था। लेकिन संवेदकों पर आदेश-निर्देश का असर नहीं हुआ, जो चिंता का विषय है, प्रिस कुमार, जेई, पीएचईडी

दो पक्षों के बीच मारपीट में एक की मौत, दर्जन भर लोग गंभीर रुप से जख्मी

नवादा : जिले के नरहट प्रखंड क्षेत्र के कानूनगोबिगहा गांव में आहर खुदाई को ले दो पक्षों के बीच हुई झड़प में एक की मौत हो गयी जबकि दोनों पक्षों के दर्जनों लोग जख्मी हो गए । सूचना के आलोक में थानाध्यक्ष नवीन कुमार सिन्हा ने शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंपा है । इस बावत थाने में प्राथमिकी दर्ज कर मामले की जांच आरंभ की है । जख्मी को ईलाज के लिये अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

बताया जाता है कि नरहट थाना क्षेत्र के कानूनगो बिगहा गांव में आहर खुदाई को लेकर दो टोला के लोग आपस में भिड़ गए। देखते ही देखते दोनो ओर से मारपीट शुरु हो गई। इस घटना में एक पक्ष के रामस्वरुप यादव की मौत हो गई। वहीं दर्जन भर लोग घायल हो गए।

घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस को देखते ही दूसरे पक्ष के लोग फरार हो गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। थाना प्रभारी ने बताया है कि आहर को लेकर दोनों पक्ष में जमकर मारपीट हुई जिसमें एक की मौत हो गयी। घटना के बाद दूसरे पक्ष के लोग गांव छोड़कर फरार है। उनकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।
घटना के बाद से गांव में तनाव व्याप्त है। पुलिस मामले पर नजर बनाए हुए है।

नाना के घर आये बालक की दिवाल से दब कर मौत

नवादा : जिले के हिसुआ थाना क्षेत्र के मुङकटवा गांव में नाना के घर आये 10 वर्षीय बालक की दिवाल से दब कर मौत गयी । पुलिस ने शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंपा है ।

बताया जाता है कि सुधीर कुमार का 10 वर्षीय पुत्र राजन कुमार नाना से मिलने आया था। लगातार हो रही बारिश के कारण सुबह मिट्टी की दिवाल गिरने से दब गया । ग्रामीण जबतक बचाव में दौङते उसकी मौत घटना स्थल पर हो गयी । थानाध्यक्ष राजकुमार ने शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंपा है ।

कोरोना के तीन पाॅजिटीव पाये जाने के बाद संख्या बढकर हुई 185,दो की मौत

नवादा : जिले में मंगलवार को तीन पॉजिटिव की पुष्टि की गई है ,जिसमें तीनों संक्रमित सिरदला के पाए गए हैं । अब तक कुल 185 पॉजिटिव की संख्या हो गई है । अब तक कोवीड -19 से लडकर ठीक होने वालों की संख्या 165 हो गई है जबकि अभी भी 20 एक्टिव बचे हैं ।

इस क्रम में हिसुआ थाना क्षेत्र के सोनसा गांव के 40 वर्षीय संजीत कुमार जो 14 जून को हरियाणा से वापस घर आया था कोरोना से मौत हो गयी । इसके पूर्व वारिसलीगंज प्रखंड क्षेत्र के जमुआंवा गांव के एक युवक की मौत कोरोना से हो चुकी है । इसके साथ ही जिले में कोरोना से मरने वालों की संख्या बढकर दो हो गयी है । सिविल सर्जन डा विमल प्रसाद सिंह ने इसकी पुष्टि की है ।

नाला निर्माण पर लगी रोक हटाने की मांग

नवादा : एक तरफ जिला प्रशासन मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना के तहत संचालित योजनाओं को 20 जून तक हर हाल में क्रियान्वयन कराने के लिए वार्ड क्रियान्वयन समिति पर दबाब डाल रही है। दूसरी ओर नारदीगंज प्रखंड क्षेत्र के बुची गांव के असमाजिक तत्वों के द्वारा कार्य मे बाधा डाल दिया जा रहा है,जिस कारण विकास कार्य वाधित हो गया है। ऐसा ही मामला नारदीगंज प्रखंड के ननौरा पंचायत की बुच्ची गांव में मिला है।बताया जाता है कि इस गांव में वार्ड क्रियान्वयन सह प्रबंधन समिति के माध्यम से नाला का निर्माण कराया जा रहाहै ।

बिहार सरकार की भूमि पर नाला का निर्माण हो रहा है। वह भी सड़क के किनारे में हो रहा है। लेकिन ग्रामीण अर्जुन महतो के द्वारा नाला निर्माण को रोक कर विकास कार्य को बाधित कर दिया गया है,जिस कारण कार्य बंद हो गया है। कार्य बंद होने पर वार्ड क्रियान्वयन समिति के अध्यक्ष वासुदेव मांझी,के अलावा ग्रामीण राजेन्द्र साव,प्रमोद कुमार,शैलेन्द्र कुमार,मदन साव,अशोक प्रसाद,वीरेन्द्र कुमार,समेत अन्य ग्रामीणों ने सीओ को आवेदन देकर नाला निर्माण कार्य पर लगी रोक को हटाने की मांग किया है,ताकि निर्माण कार्य शुरू किया जा सके।

swatva

Leave a Reply