14 नवंबर : नवादा की मुख्य ख़बरें

0

मधुमेह जाँच शिविर में रोगियो की हुई जांच

नवादा : विश्व मधुमेह दिवस के अवसर पर गुरूवार को नारदीगंज स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में मधुमेह जांच शिविर आयोजित किया गया। यह शिविर स्वास्थ्य विभाग के सौजन्य से किया गया।  प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डा0 वीरेन्द्र कुमार के देखरेख में उपस्थित लोगों को स्वास्थ्य जांच किया गया।

इस दौरान मधुमेह व रक्तचाप से पीडि़त व्यक्तियों को स्वास्थ्य जांच हुआ। यह कार्यक्रम 14 नवम्बर से शुरू हुआ है,जो 21 नवम्बर तक शिविर आयोजित कर मधुमेह व रक्तचाप से पीडित लोगों को सीएचसी में जांच किया जायेगा।

आयोजित शिविर में प्रखंड के विभिन्न गांवों के 28 उपस्थित लोगो को मधुमेह व रक्तचाप जांच कर नि;शुल्क दवा उपलब्ध कराया गया। प्रभारी डा0 कुमार ने बताया इस शिविर में सभी तरह के जांच किया गया।

इस मधुमेह से पीडित होने पर रोगियों में अधिक प्यास लगना, कमजोरी, खुजली, बार बार पेशाब लगने,वजन घटना शुरू हो जाता है, तो आप समझ लें की मधुमेह रोग की चपेट में आ गये है, उस परिस्थिति में तत्काल चिकित्सीय सलाह लेकर इलाज के साथ दवा का सेवन शुरू कर दें,अन्यथा यह रोग जानलेवा भी साबित हो जायेगा।

इस रोग से पीडि़त व्यक्ति नियमित दवा के साथ संतुलित आहार अवश्य लें,इसके अलावा सुबह शाम उन्हें दो से तीन किलोमीटर तक पैदल टहलना भी चाहियें,साथ ही साथ नियमित व्यायाम,साइकिल चलाना,तैरना के साथ तनाव मुक्त रहना होगा।

मौके पर स्वास्थ्य प्रबंधक राहुल कुमार,लैब टेक्निशयन जितेन्द्र कुमार,आशुतो कुमार ने स्वास्थ्य जांच में अपनी भूमिका को निभाया। शिविर में श्रीकांत सिंह,मुन्द्रिका प्रसाद सिंह,कामता प्रसाद,अर्जुन प्रसाद समेत अन्य लोगों ने स्वास्थ्य जांच कराया।

बाल दिवस मनाया गया

नवादा : जिले के नारदीगंज पखड मुख्यालय में भारतीय गणतंत्र के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू के जन्म दिन पर बाल दिवस के रूप में मनाया गया। कार्यक्रम का आयोजन गुरूवार को पेंशनर भवन नारदीगंज में किया गया। जिसकी अध्यक्षता पेंशनर समाज प्रखंड अध्यक्ष रामधनी प्रसाद ने किया।

इस दौरान उपस्थित पेंशनरों ने पीएम जवाहर लाल नेहरू के चित्र पर पुपमाला अर्पित कर उनके कृतित्व व व्यक्तित्व पर प्रकाश डालकर पदचिन्हों पर चलने के लिए लोगों से अपील किया।

मौके पर उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए समाज सचिव श्रीकांत सिंह ने कहा वे पंचशील व गुटनिरपेक्ष जैसे संस्थाओं को अन्तर्राट्रीय ख्याति प्रदान करवाया। जिससे उन्हें शांतिदूत के रूप में प्रख्यात हुए। उन्होंने लोकतांत्रिक संस्थाओं व परम्पराओं की नींव डाली,अंतर्राट्रीय स्तर पर शांति का संदेश देश को दिया। ताकि यह धरती महात्मा बुद्ध,महावीर व गांधी की रही। उनका विदेशिक नीति,औद्योगिक आधार की रफ्तार बहुत ही देशों के साथ तेजी से प्रारंभ हुआ,विज्ञान का विकास साथ ही धर्मनिरपेक्षता जैसे कार्यो का श्रीगणेश भारतीय संविधान मे ंसमादेश किया गया था।

कहा गया चाचा नेहरू बच्चों से व गुलाब के फुल से बेहद प्यार किया करते थे। बच्चे राट्र के  संपदा होते है। देश का हर बच्चा शिक्षित,कर्मठ,विद्वान,तकनीकि कुशलता होकर राट्र की सेवा में समर्पित होने लायक बनें,यह चाचा नेहरू का संदेश था। बाल दिवस की शुरूआत 1921 ई0 मेंं शुरू हुई,जबकि बाल दिवस समारोह यूएनओं में 20 नवम्बर को मनाया जाता है।

मौके पर मुन्द्रिका प्रसाद सिंह, मोती ठाकुर, सियाशरण दास, रामशरण सिंह, रधूनंदन प्रसाद, चंद्रिका प्रसाद सिंह समेत अन्य लोगों ने विचार व्यक्त किया।

कहा गया कि इस दिवस पर सीएचसी में आयोजित शिविर में पेंशनरो को मधुमेह व रक्तचाप जाचं करने का कार्य किया गया, वह काफी सराहनीय रहा।

चाचा नेहरू के जन्मदिन पर बाल मेला का आयोजन

नवादा : स्वतन्त्र भारत के प्रथम प्रधान मंत्री जवाहरलाल नेहरू के जन्मदिन पर आयोजित बालदिवस को फ्रंटलाइन पब्लिक स्कूल के बच्चों ने धूमधाम से उत्सवीकरण किया।

इस अवसर पर मुख्य शाखा नवादा नगर एवं चातर स्थित विद्यालयों में बाल मेला का भव्य आयोजन किया गया जिसका उद्घाटन निदेशक बिजय कुमार ने किया। स्कूली बच्चों ने विद्यालय परिसर को पारंपरिक मेला का रूप देने में कोई कोर कसर नहीं छोडी। आधुनिक साज सज्जा से लैस विभिन्न स्टॉलों पर सुस्वादु व्यंजन का लुफ्त उठाते अभिभावकों ने बाल व्यंजन मेला की जमकर तारीफ़ की। लिट्टी चोखा, पाव-भाजी, बटाटा पूरी, भेल पूरी, इडली, डोसा, पकौड़ा समेत कई देशी विदेशी डिश से सजे स्टॉलों पर अभिभावकों की भीड़ देखकर बच्चे उत्साहित हो रहे थे।

निदेशक विजय कुमार एवं प्रिंसिपल योगेन्द्र प्रसाद सिंह ने बच्चों को बालदिवस की बधाई एवं शुभकामनाएं देकर हौसला बढ़ाया वहीँ विद्यालय के समस्त शिक्षक शिक्षिकाओं ने भी अपनी सक्रियता से मेला का रौनक बढ़ाया।

बाल व्यंजन मेला को साकार रूप देने में महिला शिक्षको का विशेष योगदान रहा जिसमें किरण मैम, दिव्या मिस, निभा मिस, प्रियंका मिस, गजाला मिस, अंजनी मिस आदि शामिल थीं।

समस्त शिक्षकों ने भी पूर्व तैयारी के अनुसार कार्यक्रम का संचालन किया। स्टॉल लगाने वाले छात्र छात्राओं में सक्षम, रिया, ऋषिका, विवेक, प्रियल, हिमांशु, सूरज आदि शामिल थे जिनके नन्हे और कोमल छुअन से व्यंजन का स्वाद दुगना हो जाता था।

प्रिंसिपल के अनुसार बंगाली ब्रेड चॉप वाले स्टॉल को प्रथम विजेता घोषित किया गया जिसमें जिशान, शैलेश, निखिल, रौनक, गोलू, सुमित और उज्जवल शामिल थे। दूसरा स्थान स्पाइसी फ़ास्ट फ़ूड को मिला जिसमें ईशा, आकांक्षा, छोटी, ऋचा, ख़ुशी, नैंसी अमृता, अंजनी शामिल थी। इसके अलावे अन्य स्टॉलों को भी विशेष स्थान के योग्य माना गया।

अनुमंडल मुख्यालय में होगा पैकस़ो का मतगणना

नवादा : समाहरणालय सभागार में जिला पदाधिकारी कौशल कुमार की अध्यक्षता में पैक्स निर्वाचन 2019, पटना शिक्षक/स्नातक निर्वाचन क्षेत्र से संबंधित समीक्षात्मक बैठक आयोजित की गयी।

बैठक में मुख्य रूप से पैक्स निर्वाचन 2019 के सफल आयोजन करने के लिए उन्होंने संबंधित पदाधिकारी को आवश्यक निर्देश दिये। शांतिपूर्ण एवं स्वच्छ वातावरण में पैक्स चुनाव सम्पन्न कराने के लिए उन्होंने बारी-बारी से सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी से पैक्स चुनाव के लिए चयनित मतदान केन्द्रों से अवगत हुए।

उन्होंने सभी मतदान केन्द्रों की दूरी एवं उसकी भवन की स्थिति के बारे में जानकारी प्राप्त की। पैक्स चुनाव के लिए मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन हो चुका है, जिसमें मतदाता की कुल संख्या लगभग 2 लाख 75 हजार है। मतदान केन्द्रों की संख्या 475 है।

नवादा जिले में पैक्स चुनाव चार चरणों में 09 दिसम्बर, 11 दिसम्बर, 13 दिसम्बर एवं 15 दिसम्बर 2019 को सम्पन्न कराये जायेंगे। मतगणना का कार्य अनुमंडल स्तर पर किया जायेगा। मतदान के अगले दिन मतगणना का कार्य किया जाएगा।

मिशन इन्द्रधनुष 2.0 टीकाकरण अभियान को ले कार्यशाला

नवादा : जिले में 0से 2 वर्ष के बच्चों के टीकाकरण के लिए अभियान चलाया जाएगा। राष्ट्रीय सघन मिशन इन्द्रधनुष 2 टीकाकरण अभियान के अन्तर्गत समस्त बच्चों का पूर्ण टीकाकरण कराये जाने के संबंध में एक दिवसीय कार्यशाला विश्व स्वास्थ्य संगठन एवं स्वास्थ्य विभाग के द्वारा नवादा के सुमंगलम मैरेज हॉल में बुधवार क़ो आयोजित की गई।

कार्यशाला में सिविल सर्जन श्रीनाथ प्रसाद ने बताया कि इस अभियान के अन्तर्गत ऐसे उप स्वास्थ्य केन्द्र जहां पर पूर्ण टीकाकरण अस्सी प्रतिशत से कम हैं वहां पर राष्ट्रीय सघन टीकाकरण अभियान के अन्तर्गत बच्चों के शत् प्रतिशत् टीकाकरण कराने हेतु स्वास्थ्य विभाग के मेडिकल आफिसरों को विशेष निगरानी के साथ छूटे बच्चों का टीकाकरण कराया जाना सुनिश्चित करना होगा।

उन्होंने कहा पुरे बिहार के अन्य जिलों में अभी इस टीकाकरण का प्रतिशत मात्र 84 प्रतिशत है जबकि नवादा में यह अभियान अभी 88 प्रतिशत है बावजूद हमें इस अभियान क़ो जिले में 99 या 100 प्रतिशत तक ले जाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि इंद्रधनुष मिशन के तहत पांच साल तक के बच्चों को जानलेवा सात बीमारियों से बीमारियों में खसरा, टिटेनस, पोलियो, टीबी, गलघोंटू, काली खांसी, हेपेटाइटिस ‘बी’, विटामिन ‘ए’ और हिमोफिलिस इंफल्यूएंजा ‘बी’ शामिल हैं। उन्होंने बताया कि मिशन इंद्रधनुष के तहत विकासखंड के दूर दराज के ग्रामीण इलाके, दूरदराज के मकान, घुमंतू परिवार, विस्थापित परिवार, निर्माणाधीन भवन के मजदूर, कच्ची बस्तियों, ईंट भट्टों, दुर्गम क्षेत्रों या ऐसे परिवार, जो टीकाकरण करवाने में आनाकानी करते हैं, उन स्थानों पर मिशन इंद्रधनुष 2 के तहत क्षेत्र की आशा अथवा आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के माध्यम से दो साल तक के बच्चों गर्भवती महिलाओं टीकाकरण से वंचित रहे बच्चों का टीकाकरण किया जाएगा।

अभियान के तहत प्रत्येक गांव स्तर पर घर-घर जाकर विभागों की संयुक्त टीमें सर्वे कार्य करेंगी। टीम में एएनएच, एमपीडब्ल्यू, आशा सहयोगिनी, आशा कार्यकर्ता, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता शामिल रहेंगी, जो चार बिदुओं पर घरों का सर्वेक्षण कर मार्किंग करेंगी।

टीमें 5 साल से कम उम्र के गंभीर कुपोषित बच्चों की सक्रिय पहचान, रेफरल एवं प्रबंधन करेगी। 6 माह से 5 साल उम्र तक के बच्चों में गंभीर एनीमिया की सक्रिय स्क्रीनिंग एवं प्रबंधन कर उपचार 9 माह से 5 साल तक के समस्त बच्चों को विटामिन ए की दवा पिलाई जाएगी।

इस अवसर पर जिला मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि चिकित्सकीय अमले को टीकाकरण अभियान में विशेष रूचि लेकर शत्-प्रतिशत् रिपोर्टिंग हेतु अपने अधीनस्थ एएनएम एवं सुपरवाईजरों के साथ बैठक आयोजित कर कार्य करना चाहिए।

कार्यशाला में जिले के मेडिकल आफिसर प्राईवेट संस्थाओं के चिकित्सकगण, बी.पी.एम., लैब टैक्निशियन, सुपरवाईजर तथा जिला आईईसी सलाहकार ,  आरबीएसके समन्वयक , डाटा मैनेजर उपस्थित थे।

उत्पाद अधीक्षक सहित चार डेंगू की चपेट में

नवादा : जिले में डेंगू का प्रकोप जारी है। अपनी गिरफ्त में तेजी से लोगों को लेकर परेशान कर रहा है तो मौत ही रही है। ताज़ा मामला उत्पाद विभाग का है। उत्पाद अधीक्षक समेत चार कर्मचारियों को डेंगू ने अपना शिकार बनाया है। सभी को इलाज के लिए पटना भेजा गया है। इसके पूर्व गोविंदपुर बीडीओ कुंज बिहारी सिंह इसकी चपेट में आ चुके हैं। बावजूद स्वास्थ्य विभाग मौन साधे तमाशा देख रहा है।

बता दें जिले में अबतक डेंगू से गोविंदपुर में बालिका समेत चार की मौत हो चुकी है। अब तो प्रशासन के लोगों को भी अपनी गिरफ्त में तेजी से लेकर परेशान कर रहा है।

असामाजिक तत्वों ने शांति भंग करने का किया असफल प्रयास

नवादा : जिले में असामाजिक तत्वों ने शांति भंग करने का प्रयास किया। हालांकि स्थानीय लोगों के सहयोग से प्रशासन ने इसे विफल कर दिया। फिलहाल भारी संख्या में उक्त स्थल पर पुलिस बल तैनात किया गया है।

बताया जाता है कि नगर के बुन्देलखण्ड थाना क्षेत्र के साईं मंदिर के पास कुत्ते ने कुछ आपत्तिजनक सामग्री लाकर रख दिया। लोगों की नजर पड़ते ही अफवाहों का बाजार गर्म हो गया।  सूचना मिलते ही पुलिस बल तैनात कर अफवाहों पर विराम लगा दिया गया।

मौके पर डीएम कौशल कुमार ने एसपी हरि प्रसाथ एस ने घटनास्थल का निरीक्षण किया तथा लोगों से अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील की।

कुंजौली गांव से चोरों ने की ट्रैक्टर की चोरी

नवादा : जिले के रोह थाना क्षेत्र के सामुदायिक भवन कुंजैला के नजदीक खड़ी ट्रैक्टर की चोरी  देर रात कर ली गई। लाल रंग का मैसी फर्गुसन कंपनी का ट्रैक्टर बीआर-27 जी-2758 कुंजैला गांव निवासी साकेत बिहारी उर्फ बड़े का था। वाहन स्वामी ने बताया कि रात के करीब एक बजे ट्रैक्टर की चोरी की गई। घटना के बाद से ही खोजबीन कर रहे हैं, लेकिन सफलता नहीं मिली है। इस संबंध में वाहन मालिक द्वारा रोह थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है।

बता दें दो माह पूर्व इसी गांव के कैलाश प्रसाद का ट्रैक्टर व बगल के गांव कुंज से विपिन सिंह के स्कूल वैन की चोरी कर ली गई थी। जिसे खोज पाने में अबतक पुलिस कामयाब नहीं रही है। जिसके कारण स्थानीय वाहन मालिकों में काफी दहशत व्यस्त हो गया है। पंचायत में तीन माह के अंदर मोटरसाइकिल सहित लगभग छह गाड़ियों से अधिक की चोरी हो चुकी है।

सजग रहे ठंढ में बढ़ जाती है चोरी की घटना

नवादा : ठंड का आगमन शुरू है। ऐसे में लाजिम है कि आप चेत जायें। ऐसे मौसम में चोरी की वारदात बढ़ जाती है। कहीं अब आपके घर पर चोरों की निगाह तो नहीं,  सावधानी बरतें, शादी समारोह या सैर सपाटे पर जाने के पहले कीमती सामान को  सुरक्षित जगह रखवा दें। क्योंकि, चोरों की नजर आपके घर पर भी हो सकती है। ठंड के साथ ही शहर में चोरी की वारदात अचानक बढ़ गई है।

पिछले दस दिनों के भीतर चोरों ने 8 चोरी की घटना को अंजाम दिया है। अक्सर शादी समारोह व सैर सपाटे पर घर छोड़ कर जाना आम बात है। ऐसे में लोग कीमती सामान भी ताले के भरोसे छोड़ जाते हैं।जिसे चोर पलक झपकते ही चटका देते हैं। शहर में इसी को टारगेट कर चोर सूने मकान को निशाना बना रहे हैं। शादी समारोह वगैरह में तीन या इससे अधिक दिन तक मकान सूना रहता है और चोरों की तो मौज ही हो जाती है।

इस स्थिति में घर के चटके ताले देखकर कहीं आपकी भी खुशी काफूर न हो जाए। इसलिए विशेष सावधानी बरतें। वैसे आमतौर पर चोरी की घटना के बाद सीधा दोष पुलिस के ऊपर मढ़ दिया जाता है। लेकिन, देखा जाए तो कहीं न कहीं ऐसी घटनाओं में अपनी लापरवाही भी चोरों को मौका दे जाती है।

चोरों के लिए चोरी का माकूल मौसम है ठंड :

ठंड में चादर तान कर चैन की नींद सोना सभी को पसंद है। लेकिन, चोरों के लिए ठंड का मौसम चोरी के लिहाज से सबसे माकूल मौसम है। ऐसे में चैन की नींद सोना कभी भी महंगा पड़ सकता है। आपकी थोड़ी सी आलस चोरों के लिए बेहतर अवसर साबित हो सकता है। इसलिए बेहतर होगा कि चैन से सोने से पहले जाग जाइए।

घर छोड़ने व रात को सोने से पहले करें ये उपाय :

घर से बाहर जाने पर सोने-चांदी व अधिक मात्रा में रुपये नहीं छोड़ें। हो सके तो यह कीमती सामान बैंक लॉकर में जमा करवा दें या फिर अपने साथ ले जाएं। कहीं जाने से पहले पड़ोसी को बताकर जाएं। ताकि वह आपके मकान पर हर पल नजर रखें। कुछ दिनों के लिए घर से बाहर जाएं तो स्थानीय थाना पुलिस और बीट कांस्टेबल को भी इसकी जानकारी देकर जाएं। गश्त के दौरान वे उस मकान पर विशेष नजर रखें हां यात्रा के दौरान कीमती समान साथ में ले जाएं तो जेबकतरों और जहरखुरान लोगों से सावधान रहें। इसके अलावे अगर आप घर में हैं तो प्रतिदिन रात को सोने से पहले अपने घर की पूरी तरह तलाशी लेलें। घर के बाहर अंदर टॉर्च की रोशनी से यह जरूर देख लें कि कहीं कोई छुप कर घात लगाये बैठा तो नहीं है।

कहीं आपके घर के आसपास ठिकाना तो नहीं बना रहे चोर :

चोरी की वारदात से आगाह करने के लिए ये बताना भी आवश्यक है कि जीवन शैली में लोग इतने बिजी हो गये हैं कि उन्हें इस बात की भी फिक्र नहीं होती कि उनके आस-पास क्या हो रहा है। या आसपास के मकान में कौन नया किरायेदार आया है।

इसे भी लापरवाही की श्रेणी में रखा जा सकता है :

शहर में कई ऐसे वारदात हुए हैं।जिसमें यह बात बाद में लोगों को मालूम चला है कि उनके आसपास के मकान में रह रहा कोई सख्श चोर या संदिग्ध निकला. ऐसे में पड़ोसियों को ये अधिकार बनता है कि वह अपने आसपास के मकानों की टोह लेते रहें और किरायेदारों की जांच पड़ताल भी करते रहें। वरना यही लापरवाही आपके घर के सामानों से महरूम कर सकती हैं ।

अफवाह फैलाने वाले के खिलाफ पुलिस की बड़ी कार्रवाई

नवादा : जिले में सोशल मीडिया के जरिए झूठ, अफवाह फैलाने वालो पर प्रशासन की ओर से बड़ी कार्रवाई आरंभ गई है। डीएम कौशल कुमार और एसपी हरिप्रसाथ एस के आदेश के बाद पुलिस प्रशासन ने अफवाह फैलाने वालों के विरुद्ध कार्रवाई करनी शुरू कर दी है। इस मामले में पुलिस ने एक युवक को हिरासत में लिया है और उससे पूछताछ की जा रही है। हिरासत में लिए गए युवक का नाम मुकेश कुमार राजपूत है।

बताया जा रहा है कि उसने फेसबुक पर नवादा न्यूज़ नेटवर्क के नाम से पेज बनाए हुए हैं। जिसके जरिए वह झूठी खबर लिखकर उसे वायरल करता था।

बताया जा रहा है कि सोशल मिडिया पर लगातार गलत मैसेज को वायरल किया जा रहा था। जिसके बाद नवादा पुलिस की डीआईयू टीम ने  त्वरित कार्रवाई करते हुए ऐसे फेसुबक पेज को चिन्हित करना शुरु किया।

इसी क्रम वैसे ही एक पेज के संचालक को रात में हिरासत में लिया है। वैसे कई लोगों के पेज को चिन्हित किया गया है जो इस प्रकार का कार्य कर रहे हैं। पुलिस अन्य लोगों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी में जुटी है।

Leave a Reply