14 मई : नवादा की मुख्य ख़बरें

0

श्रद्धापूर्वक मना भगवान महावीर का “ज्ञान कल्याणक” महोत्सव

नवादा : अहिंसा  एवं शांति के विश्व उद्घोषक जैन धर्म के चौबीसवें एवं अंतिम तीर्थंकर भगवान महावीर के ज्ञान कल्याणक महोत्सव में शिरकत करने के लिए आज नवादा जैन समाज का जत्था मलयपुर (जमुई) स्थित महावीर कैवल्य ज्ञान धाम के लिए रवाना हुआ। भगवान महावीर के प्रथम शिष्य गौतम गणधर स्वामी की निर्वाण भूमि गोणावां दिगम्बर जैन सिद्ध क्षेत्र से रवाना हुए जत्थे में नवादा जैन समाज द्वारा गठित दिगम्बर जैन मंदिर समिति के नवनिर्वाचित मंत्री दीपक जैन, अध्यक्ष राजेश जैन, उपाध्यक्ष अशोक जैन (आर), संयुक्त मंत्री मुकेश जैन “टिंकू“, सदस्य-सह-गोणावां क्षेत्र प्रबंधक विमल जैन, रौशन जैन, आकाश जैन, सुषमा जैन, लक्ष्मी जैन, सुनीता जैन, अनिता जैन, श्रद्धा जैन, श्रुति जैन, श्रेया जैन, सरिता जैन, शीला जैन, सोनी जैन, राजगृह स्थित पंच पहाड़ी के प्रबंधक संजीत जैन, उप प्रबंधक मनोज जैन एवं अभिषेक जैन सहित भारी संख्या में जैन धर्मावलंबी व श्रद्धालुगण शामिल थे।

समाजसेवी दीपक जैन ने बताया कि बारह वर्षों की कठोर साधना के बाद आज ही के दिन बैशाख सुदी दशमी को मघा नक्षत्र में ऋजूकुला नदी (मलयपुर, जमुई) के किनारे शाल वृक्ष के नीचे जैन धर्म के चौबीसवें तीर्थंकर भगवान महावीर को कैवल्य ज्ञान की प्राप्ति हुई थी। इसी आलोक में मलयपुर (जमुई) स्थित भगवान महावीर कैवल्य ज्ञान धाम पर ज्ञान कल्याणक महोत्सव का आयोजन किया गया।

दीपक जैन ने कहा कि इसी आयोजन में शिरकत करने के लिए आज नवादा जैन समाज का जत्था जमुई के लिए रवाना हुआ। कैवल्य ज्ञान धाम पहुंचने पर जैन धर्मावलंबियों ने पूरे विधि-विधान के साथ भगवान महावीर का पंचामृत अभिषेक व विशेष पूजा-अर्चना कर विश्वशांति के साथ ही प्राणिमात्र के कल्याण के लिए जिनेन्द्र प्रभु से कामना की। इसके पूर्व, मंगलवार की सुबह नवादा स्थित श्री गोणावां जी दिगम्बर जैन सिद्ध क्षेत्र पर स्थानीय जैन समाज के लोगों ने भगवान महावीर का अभिषेक व पूजन किया।

कार्यक्रम को सफल बनाने में गोणावां क्षेत्र प्रबंधक विमल जैन व उप प्रन्धक सोनू जैन के साथ ही कैवल्य ज्ञान धाम के प्रबंधक अभिषेक जैन “सोनू“ व उप प्रबंधक आदि मौजूद थे।

लवारिश हालत में बाइक बरामद

नवादा : नारदीगंज थाना क्षेत्र के नारदीगंज -सहजपुरा सड़क मार्ग में डेयरी फार्मके आसपास एक लवारिश हालत में पुलिस ने बाइक बरामद किया। यह जानकारी थानाध्यक्ष दीपक कुमार राव ने दिया। उन्होने बताया कि सोमवार की रात में गुप्त सूचना मिली सहजपुरा रोड में एक पल्सर बाइक है, उक्त बाइक का नम्बर बीआर 21 एफ/ 6599 है, जो लवारिश हालत में खडी है।

सूचना के आधार पर मंगलवार की सुबह में पुलिस ने लवारिश हालत में पड़ी बाइक बरामद किया। उस बाइक मालिक के बिषय में आसपास के लोगो से जानकारी प्राप्त किया जा रहा है। फिलहाल जानकारी नहीं मिल पा रही है।

कार्रवाई की मांग

नवादा, नारदीगंज कांड संख्या 62/2019 के सूचक मनोज कुमार ने एसपी हरि प्रसाथ एस को आवेदन देकर कार्रवाई का गुहार लगाया है।

इस सबंध मे कांड के सूचक कुमार ने बताया कि नारदीगंज कॉलेज नारदीगंज से संबंधित कांड संख्या 62/2019 नारदीगंज थाना में दर्ज है। उक्त मामला 13मार्च, 2019 को दर्ज हुआ है। दर्ज प्राथमिकी के अनुसार इस कॉलेज में एएआई डीयू विभाग से कॉलेज के प्राचार्य रामानुज प्रसाद व दर्शनशास्त्र के व्याख्याता यदूनंदन प्रसाद के माध्यम से 20 लाख से अधिक राशि का गबन कर लिया गया है। जो का जांच बिषय है। लेकिन इतने लम्बे समय बीत जाने के बाद भी थानाध्यक्ष द्वारा किसी प्रकार की कार्रवाई नही किया गया है। इससे प्रतित होता है कि आरोपी के मेल मे आकर थानाध्यक्ष कार्रवाई नहीं कर रहे है। अतएव उन्होने इस मामले को। गंभीरतापूर्वक जांच कर कार्रवाई करने की मांग किया है।

छत का छज्जा गिरा पति की मौत, पत्नी जख्मी

नवादा : जिले के वारिसलीगंज नगर पंचायत की वार्ड संख्या 10 स्थित सहेली श्रृंगार के सामने वाली गली में जय किशुन लाल के घर का छज्जा गिर जाने से पति-पत्नी गंभीर रूप से जख्मी हो गये। जिसे इलाज के लिए स्थानीय निजी क्लीनिक में भर्ती कराया गया। जहां इलाज़ के दौरान 65 वर्षीय पति जय किशुन लाला की मौत हो गई। जबकि घटना में जख्मी उनकी पत्नी मीरा देवी अभी स्थानीय बाजार स्थित निजी क्लीनिक में इलाजरत है।

सूचना मिलाने पर नगर उपाध्यक्ष सह वार्ड संख्या 10 की पार्षद के पति शम्भू प्रसाद घटना स्थल पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लेते हुए पीड़ित परिजनों को सांत्वना दिया।

बताया जाता है कि सुबह किषुन की पत्नी दुकान में रहे अपने पति को स्नान के लिए छत पर से ही घर बुला रही थी। तभी अचानक छत का छज्जा वृद्धा मीरा के साथ नीचे गली में गिर गया। जिससे नीचे रहे किशुन छज्जा के मलबे में दब कर बुरी तरह से जख्मी हो गया। जबकि छज्जा के साथ गिरी पत्नी को भी काफी चोटे आई। घटना के बाद आसपास के लोगो ने दोनों घायल पति-पत्नी को इलाज़ के लिए एक निजी नर्सिंग होम ले गए। जहाँ चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद स्थिति को गम्भीर बताते हुए पति को बिहार शरीफ रेफर कर दिया।

बिहार शरीफ जाने के क्रम में रास्ते में ही जख्मी बृद्ध किशुन की मौत हो गई। जबकि पत्नी निजी क्लीनिक में जीवन और मौत से कड़ी संघर्ष कर रही है। लाला जी वर्षो से इलेक्ट्रिक व पेंट सामानों का दुकान अपने घर मे ही संचालित कर रखे थे। घटना बाद मृतक के परिजनों में कोहराम मच गया। लाला दंपति को एक पुत्र सोनू के अलावा तीन विवाहित पुत्री है जो सूचना बाद घर पहुंच कर लाला के अंतिम संस्कार में जुट गयी है।

श्रीराम जानकी प्राण प्रतिष्ठा को लेकर निकाली गई कलश यात्रा

नवादा : जिले के उग्रवाद प्रभावित कौआकोल प्रखण्ड के चरौल गांव अवस्थित ठाकुरबाड़ी में बुधवार को श्रीराम जानकी प्रतिमा का प्राण प्रतिष्ठा किया जाएगा। जिसको लेकर मंगलवार को भव्य कलश यात्रा निकाली गई।

कलश यात्रा में शामिल गांव की लगभग 251 महिला श्रद्धालओं ने अपने अपने सर पर कलश रखकर रुपौ स्थित प्रसिद्ध मां चामुण्डा मन्दिर गए।

वहां से श्रद्धालुजन पवित्र जल भरकर ठाकुरबाड़ी स्थित पूजा स्थल लेकर आयें, जहां पुरोहित नवल किशोर पाण्डेय के द्वारा पूजा अर्चना कर कलश को स्थापित किया गया। आयोजक ग्रामीण मुरारी सिंह, मुख्य यजमान अजय सिंह, विपीन सिंह आदि ने बताया कि बुधवार को राजस्थान से बनकर आए श्रीराम जानकी प्रतिमा का प्राण प्रतिष्ठा किया जाएगा।

जबकि इस अवसर पर नौ दिवसीय श्रीराम कथा सह वृन्दावन का रास लीला का भी आयोजन किया जाएग,जो 23 मई तक चलेगा। जिसमे प्रसिद्ध प्रवचनकर्ता श्री प्रभजानन्द महाराज जी हिस्सा लेंगे। प्रतिमा प्राण प्रतिष्ठा एवं रामकथा को लेकर गांव में भक्ति का माहौल देखा जा रहा है।

स्थानीय ग्रामीण सत्येन्द्र प्रसाद सिंह, सीताराम सिंह, अनुज सिंह, पवन कुमार, विक्की, चन्दन, टुन्नी, बब्लू,पिन्टू, राजीव आदि कार्यक्रम की सफलता को लेकर जोर शोर से अपनी सेवा उपलब्ध करा रहे हैं।

सांप काटने से छात्रा की मौत

नवादा : जिले के नारदीगंज थाना क्षेत्र के पडरिया निवासी अरविन्द राम की 9 वर्षीय पुत्री राखी कुमारी को बिषधर के काटने से मौत हो गयी। घटना मंगलवार की दोपहर मे घटी। हादसे की खबर मिलते ही परिजनो वशुभचितंको मे कोहराम मच गया। परिजनो को रो रोकर बुराहाल हो रहा था। घटना की खबर मिलते ही आसपास के लोग दौड पड़े, घर मे भीड़ उमड पड़ी, इस दौरान समझाने बुझाने बालो का तांता लगा रहा।

बताया जाता है कि मंगलवार की दोपहर मे राखी कुमारी घर के समीप खेल रही थी, इसी बीचकोई बिषधर ने उसे डंस लिया।

घटना की सूचना परिजनो को दिया। सूचना मिलते ही उसके परिजन व आसपास के लोगो ने तत्काल इलाज के लिए नारदीगंज स्थित सीएचसी मे दाखिला कराया। केन्द्रमे कार्यरत चिकित्सक ने गंभीरावस्था स्थिति को देखते हुए इलाज के लिए सदर अस्पताल नवादा भेज दिया।

पीडित परिजनो ने बताया जब सीएचसी मे स्थित एम्बुलेंस वाहन के चालक को नवादा लेजाने के लिए कहा गया, तो उसके चालक ने एम्बुलेंस खराब बताया। इस परिस्थिति में जब निजि वाहन को बुलाया गया, तब तक राखी की मौत हो गयी। मृतका अपने गांव स्थित प्राथमिक विद्यालय मे चौथी कक्षा मे पढती थी।

पुलिस ने 2000 हजार लीटर महुआ शराब किया नष्ट

नवादा : जिले के अकबरपुर पुलिस ने अवैध शराब के विरुद्ध मंगलवार की दोपहर जबर्दस्त अभियान चलाया। इस क्रम में उग्रवाद प्रभावित लोहसिहना गांव के जंगल व पहाङी क्षेत्रों में चलाए जा रहे अवैध शराब की भट्ठियों को ध्वस्त कर बिक्री के लिए रखे करीब 2000 लीटर महुआ शराब को बहा दिया गया।

थानाध्यक्ष मोहन कुमार ने बताया कि लोहसिहना गांव में अवैध शराब निर्माण व बिक्री किये जाने की गुप्त सूचना मिली। सूचना के आलोक में महिला व पुरुष बलों के अलावा पदाधिकारियों के साथ  मिलकर जंगलों व पहाड़ी क्षेत्रों की नाकेबंदी कर खोज अभियान चलाया गया। इस क्रम में विभिन्न स्थानों पर छिपाकर बिक्री के लिए तैयार करीब 2000 लीटर महुआ शराब नष्ट कर दिया गया। इसके साथ ही शराब निर्माण के लिए फुलाए जा रहे करीब दस हजार किलोग्राम जावा महुआ को बहा दिया गया। शराब निर्माण के भट्ठियों को ध्वस्त कर दिया गया। पुलिस आने की भनक मिलते ही कारोबारी फरार होने में सफल रहा है।

इस बावत अज्ञात शराब कारोबारियों के विरुद्ध उत्पाद अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज कर मामले की जांच आरंभ की है । शराब कारोबारियों का पता लगाकर जल्द ही नामों का खुलासा किया जाएगा । पुलिस की काफी लम्बे समय बाद की गयी बङी कार्रवाई से धंधेबाजों में बेचैनी देखी जा रही है। मौके पर अनि नन्द किशोर सिंह समेत थाने के कई अधिकारी व महिला-पुरूष जवान मौजूद थे।

अवैध बालू लदे तीन ट्रक, एक ट्रैक्टर जब्त

नवादा : जिले के वारिसलीगंज पुलिस थाना क्षेत्र अंतर्गत कोचगांव में छापेमारी कर अवैध बालू लोड 3 ट्रक और एक ट्रेक्टर जब्त की है।

थाना अध्यक्ष बिनोद कुमार ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर उक्त गांव में छापेमारी की गई जिसमे अवैध रूप से उत्खनन कर बालू लोड तीन ट्रक और एक ट्रेक्टर को जब्त कर थाना लाया गया है। खनन विभाग को इस मामले की सूचना दे दी गई है।

ईंट भट्ठा संचालक कर रहे राजस्व की चोरी

नवादा : जिले के ईंट-भट्ठा संचालकों पर प्रशासन का खौप नहीं है। नियमों का उल्लंघन तो कर ही रहे हैं राजस्व की चोरी करने से भी बाज नहीं आ रहे हैं। हालात यह है कि प्रशासन व विभाग भी तभी कार्रवाई करती है जब उद्योग बंद होने के कगार पर होता है। यानी कि उन्हें भरपूर कमाने का अवसर विभाग प्रदान करती है। फिलहाल राजस्व चोरी के आरोप में विभाग ने विभिन्न प्रखंडों के 104 ईंट-भट्ठा संचालकों के विरूद्ध थाने में प्राथमिकी दर्ज करा रखी है लेकिन पुलिस की मिलीभगत से धंधा बदस्तूर जारी है।

खनन विभाग ने वर्ष 2018-19 के, खनन स्वामित्व का राशि जमा न करने वाले 104 ईंट भट्ठा संचालकों के विरूद्व थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। ऐसे संचालकों पर लघु खनिज समुदान नियमावली 1972 नियम 26ए व 4-40 के उल्लंघन का आरोप है। इसके साथ ही इन संचालकों पर पर्यावरणीय नियमों का उल्लंघन कर अवैध रूप से संचालन का आरोप है। प्राथमिकी खनन निरीक्षक धर्मवीर कुमार की शिकायत पर दर्ज की गई है। आश्चर्य तो यह कि सारी कार्रवाई तब हुई जब सारी राशि संचालकों ने केवल गटक लिया बल्कि इस वर्ष भी अपना व्यापार करने में सफल रहे हैं। इसके साथ ही थानाध्यक्षों से ऐसे ईंट भट्ठों के संचालन पर अवलिम्ब रोक लगाने का अनुरोध किया था, वाबजूद संचालन जारी है।

कितने भट्ठों का हो रहा संचालन

जिले में कुल 240 वैध ईंट -भट्ठों का संचालन हो रहा है। वैसे इसकी संख्या अधिक है। इनमें से अबतक वर्ष 2018-19 के लिए मात्र 105 संचालकों ने ही विभाग को राशि का भुगतान किया है। यानि कि 135 संचालकों ने भुगतान में रूची नहींदिखाई। इनमें से अबतक मात्र 104 के विरूद्ध थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई तथा 31 पर अब भी विभाग मेहरबान है। वैसे विभाग ऐसे संचालकों के विरूद्ध जल्द ही प्राथमिकी दर्ज कराने की बातें बता रहा है।

सर्वाधिक प्राथमिकी वारिसलीगंज में

जिले के लगभग सभी थानों में ऐसे संचालकों के विरूद्व प्राथमिकी दर्ज कराई गई है जिसमें वारिसलीगंज में सर्वाधिक 20, मुफस्सिल में 13, नगर में 07, रजौली में 13, नारदीगंज में 07, अकबरपुर में 15, गोविदपुर में सबसे कम 02,कौआकोल में 05 व हिसुआ थाने में 10, मेसकौर में 03 व नरहट में 08 व रोह थाने में 07 के विरूद्व प्राथमिकी दर्ज कराए जाने के बावजूद अबतक किसी थानेदार ने कार्रवाई आरंभ तक नहीं की है। ऐसे में धंधा बदस्तूर जारी है।

कितनी राशि का करना होता है भुगतान

ईंट -भट्ठा संचालकों को प्रतिवर्ष खनन स्वामित्व के रूप में विभाग को 74 हजार 500 रुपये का भुगतान करना होता है। इसके अलावा 1500 रुपये आयकर के साथ ही स्वामित्व का 1500 रुपये जिला खनिज फाउंडेशन के नाम से जमा कराना होता है। संचालकों को ईंट-भट्ठा संचालन के लिए पर्यावरणीय स्वीकृति के साथ बिहार राज्य प्रदूषण नियंत्रण परिषद से निर्गत सीटीई व सीटीओभी अनिवार्य रूप से जमा कराने के बाद ही ईंट-भट्ठा संचालन की अनुमति देने का प्रावधान है। लेकिन आश्चर्य यह है कि बगैर कागजात जमा कराए ही विभाग संचालन की अनुमति प्रदान कर खुद संदेह के घेरे में है।

 क्या कहते हैं अधिकारी

जिले के 104 ईंट-भट्ठा संचालकों के विरूद्ध विभिन्न थानों में प्राथमिकी दर्ज करा अविलंब इसके संचालन पर रोक लगाने के अनुरोध के बावजूद कार्रवाई आरंभ न होने से विभागीय राजस्व को क्षति हो रही है। कार्रवाई के लिए जल्द ही आरक्षी अधीक्षक को स्मारित किया जाएगा। बावजूद विलंब दंड समेत राशि जमा नहीं कराने वालों के विरूद्ध निलाम पत्र वाद की प्रक्रिया आरंभ की जाएगी। विभाग राशि वसूली को पहली प्राथमिकता देती है। लालबिहारी प्रसाद, सहायक खनन निदेशक, नवादा।

सड़को पर पसरा कचड़ा राहगीर परेशान

नवादा : नवादा नगर में इन दिनों साफ-सफाई की समस्या गंभीर हो गई है। हालात यह है कि प्रमुख सड़कों पर ही गंदगी दिन भर पसरी रहती है।

नगर के मेन रोड में पुरानी बाजार मोड़ के समीप कूड़े की उंची ढेर से राहगीरों, वाहन चालकों को कई तरह की परेशानी से दो चार होना पड़ा। वहीं सदर अस्पताल की मुख्य गेट के समीप भी कूड़े का ढेर आधी सड़क तक पहुंच गई है। कलाली रोड में खुले में पड़ी गंदगी से निकल रही बदबू स्थानीय दुकानदार को परेशान कर रही है। इस रास्ते से गुजरने वाले लोग नाक-मुंह ढक कर वहां से गुजरने को विवश है। लोग मन ही मन नगर परिषद की कुव्यवस्था को रहे है। नवादा नगर में साफ-सफाई की समस्या कोई नई नहीं है। आए दिन जगह-जगह कूड़े कचरे की ढेर से आम शहरवासियों को परेशानी होती है। वहीं आम लोगों को भी साफ-सफाई को लेकर जागरूक रहने की जरूरत है।

नगर के कलाली रोड में जिस तरह से शादी समारोह के बाद बचे हुए खाने-पीने का सामान फेंका गया था उसे उचित नहीं कहा जा सकता। नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी ने भी कहा कि लोगों को इस तरह की गंदगी किसी साइड इलाके में डालनी चाहिए। उन्होंने कहा कि नगर परिषद के कर्मी सफाई व्यवस्था को दुरुस्त करने में लगे हुए हैं। शहरवासी भी इसमें अपना सहयोग करें।

पेयजल संकट से जूझ रहे मिल कॉलोनी के रोजेदार

नवादा : कभी हर प्रकार की सुविधाओं से गुलजार रहने वाला वारिसलीगंज चीनी मिल का कॉलोनी आज पेयजल संकट से जूझ रहा है। मिल कॉलोनी में बमुश्किल से 30 परिवार निवास करते हैं, जिनमें अल्पसंख्यक परिवार भी हैं। इन दिनों रमजान चल रहा है। इस भीषण गर्मी में दिनभर रोजा रखने के बाद शाम को अफ्तारी के समय ठंडे जल की जरूरत रोजेदारों को काफी परेशान करती है। एक तो गर्मी उपर से रोजा के दौरान लोगों की हलक सूख जाती है। लेकिन इफ्तारी से पहले लोगों को एक किलो मीटर पैदल चल कर चैनपुरा या फिर नगर पंचायत कार्यालय परिसर से पानी लाना होता है। जो काफी कष्ट भरा काम होता है।

इस बाबत कॉलोनी निवासी इम्तेयाज मोमिन कहते हैं कि रोजेदारों को पानी के लिए सुबह सहरी के समय ज्यादा दिक्कत होती है। क्योंकि रात में लाया गया पानी सेहरी के समय तक गर्म होकर बेस्वाद हो जाता है। मोमिन कहते हैं कि कालोनी में 07 चापाकल लगा है लेकिन सभी का जलस्तर  सूख चुका है। बता दें कि मिल कॉलोनी वारिसलीगंज नगर पंचायत की वार्ड संख्या 06 तथा 20 दो वार्डों के क्षेत्र में पड़ता है। चीनी मिल कॉलोनी के लोगों ने जिलाधिकारी से नल जल योजना का लाभ दिलाने की मांग की है।

सदर अस्पताल में शौचालय बंद रहने से मरीज परेशान

नवादा : सदर अस्पताल में एक बार फिर से शौचालय की समस्या से मरीज व उनके परिजनों को परेशान होना पड़ रहा है। महिला वार्ड व इमरजेंसी के समीप दो शौचालय इन दिनों बंद रह रहे हैं। दोनों ही शौचालय में ताला लटका पड़ा है। इस शौचालय की छत पर पानी की टंकी है। लेकिन शौचालय किन कारणों से बंद है इसे बताने वाला कोई नहीं है। खामियाजा यहां रह रहे मरीज व उनके साथ आए परिजनों को तरह-तरह की परेशानी के साथ हो रही है। खासकर महिला मरीजों को ज्यादा दिक्कत हो रही है।

पिछले महीने इस मुद्दे पर सिविल सर्जन का ध्यान आकृष्ट कराया गया था। तब सीएस की पहल पर ब्लड बैंक के समीप का बंद शौचालय खोला गया। वहीं महिला वार्ड के समीप वाले शौचालय को भी खोलवाने का निर्देश सीएस ने दिया था। लेकिन जानकार बताते हैं कि आउटसोर्सिंग वाले उस बंद शौचालय को खोलना नहीं चाहते हैं। जबकि इसकी बहुत जरूरत है।

गौरतलब है कि जिला के सबसे बड़े अस्पताल में पेयजल से लेकर शौचालय की समस्या बहुत पुरानी है। अनेकों बार वरीय अधिकारियों का ध्यान इस ओर दिलाए जाने के बाद भी कोई सकारात्मक पहल नहीं हो रही है। इस पूरे मसले पर सदर अस्पताल के हेल्थ मैनेजर शैलेश कुमार ने कहा कि बंद शौचालय को चालू कराने की योजना है।

उन्होंने कहा कि शौचालय की टंकी को पानी से जोड़ना है। उन्होंने उम्मीद से कहा कि अगले एक सप्ताह के अंदर सारी व्यवसथा को दुरुस्त कराकर उस बंद शौचालय को चालू कराया जाएगा।

पुरानी जेल रोड जर्जर, राहगीर परेशान

नवादा : नवादा शहर के व्यस्ततम सड़कों में से एक पुरानी जेल रोड का इन दिनों बुरा हाल है। जर्जर व उबड़-खाबड़ सड़क के चलते इस रास्ता से होकर गुजरने वाले लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है।

नवादा नगर में पुरानी जेल रोड मुख्य रूप से दर्जन भर नर्सिंग होम, मेडिकल स्टोर व अनेक बड़े डाक्टरों की क्लीनिक के लिए पूरे जिले में जाना जाता है।

महिला मरीज से लेकर बुजुर्ग, बच्चे, युवा सभी बीमार लोग इस इलाके में अपनी पसंद की नर्सिंग होम में आकर इलाज कराते हैं। लेकिन हटिया पर मुख्य सड़क से लेकर पूरी जेल रोड की सड़क की हालत ऐसी है कि यहां से लोगों को गुजरने में काफी दिक्कत होती है। रिक्शा-झरझरिया या फिर आधुनिक वाहन से इलाज कराने आए मरीजों को खराब सड़क के कारण हिचकोले खाते हुए आगे बढ़ना पड़ता है। ऐसे में अनेक बार गर्भवती महिलाओं, टूटी हुई हड्डियों के मरीज को काफी दिक्कत होती है। गांव-देहात से शहर में इलाज कराने आए लोग खराब सड़क के कारण परेशान होते हैं। इस सड़क की लंबाई करीब 400 मीटर है।

जिला मुख्यालय की यह जर्जर सड़क शहर की बदसूरत कहानी बयां करती है। अनेक बुद्धिजीवियों ने इस सड़क की मरम्मत कराने की मांग की है।

कैदियों ने की मंडल कारा में अनियमितता की शिकायत

नवादा : मंडल कारा में बंद दर्जनों कैदियों ने अनियमितता की शिकायत दर्ज कराई है। व्यवहार न्यायालय पहुंचे कई कैदियों ने आवेदन देकर अपनी शिकायत दर्ज कराई है।

आवेदन में कहा गया है कि मंडल कारा में नाजायज वसूली का खेल चल रहा है। बंदी की रिहाई होने के बाद उसके नाम व पता को गलत बताकर अवैध वसूली की जाती है। मुलाकाती के लिए गेट पर आने वाले परिजनों से भी सामान अंदर भेजे जाने के नाम पर रुपये लिए जाते हैं। रुपये नहीं देने पर बगैर मुलाकात कराए परिजनों को वापस कर दिया जाता है। जेल मैन्युअल के अनुसार भोजन नहीं दिया जाता है। रुपये वसूली में वरीय अधिकारियों की मिलीभगत का भी आरोप लगाया गया है। अनियमितता को छिपाने के उद्देश्य से मुख्य स्थान पर लगे सीसीटीवी को डिस्कनेक्ट कर दिया गया है। कैदियों ने जिला जज से इसकी जांच कराने की मांग की है।

शिकायत करने वाले कैदियों में पिन्टू कुमार यादव, डब्लू कुमार, शंकर प्रसाद, कुन्दन कुमार, राजू पंडित, नारायण प्रसाद, मनोज पासवान, लड्डु सिंह, पप्पु कुमार सिंह, भोलानाथ सिंह, नागेन्द्र कुमार, विक्की पांडेय, तुलसी चौहान आदि कैदी शामिल थे। इधर, जेलर रामविलास दास ने कैदियों के आरोप को निराधार और बेबुनियाद बताया है।

Leave a Reply